ब्रिक्स देशों के घोषणा पत्र को पाक ने किया खारिज़ – आंतकवाद पनाहगार नहीं पाक।।

20

आतंकवादी समूहों के खिलाफ कार्रवाई करने के लिए अंतरराष्ट्रीय दबाव का सामना कर रहे पाकिस्तान ने आज चीन सहित ब्रिक्स देशों के घोषणापत्र को खारिज कर दिया और कहा कि उसकी धरती पर आतंकवादियों के लिए कोई ‘सुरक्षित पनाहगाह’ नहीं है.
पाकिस्तान के रक्षा मंत्री खुर्रम दस्तगीर ने नेशनल असेंबली की रक्षा पर स्थायी समिति की एक बैठक में कहा, ”हम ब्रिक्स शिखर सम्मेलन के सदस्य देशों की ओर से जारी घोषणापत्र को खारिज करते हैं. पाकिस्तान आतंकियों के लिए पनाहगाह नहीं है. देश में कुछ ही आतंकी संगठन बचे हैं, उनका भी हम सफाया कर रहे हैं”.
बता दें कि पाकिस्तान की ओर से यह बयान तब आया है जब ब्राजील, रूस, भारत, चीन और दक्षिण अफ्रीका के नेताओं ने कल चीन के श्यामन में आयोजित ब्रिक्स शिखर सम्मेलन में आतंकवाद के सभी स्वरूपों की निंदा की थी.

43 पृष्ठों वाला घोषणापत्र ब्रिक्स के पूर्ण सत्र में पारित किया गया और इसमें क्षेत्र में सुरक्षा स्थिति के साथ ही तालिबान, आईएसआईएस, अलकायदा और उसके सहयोगी संगठनों ईस्टर्न तुर्किस्तान इस्लामिक मूवमेंट, इस्लामिक मूवमेंट आफ उज्बेकिस्तान, हक्कानी नेटवर्क, लश्करे तैयबा, जैशे मोहम्मद, तहरीके तालिबान पाकिस्तान :टीटीपी: और हिज्ब उत तहरीर द्वारा की जाने वाली हिंसा पर चिंता व्यक्त की गई.