गोरखपुर में ही शासन के आदेश को ठेंगा दिखा रहे बाँसगाँव तहसील के अधिकारी…

457

शासन के आदेशानुसार सुबह 9 से 11 बजे तक सभी अधिकारियों को अपने कार्यालय में बैठ कर सुनना है जनता की फरियाद।

अफसोस! बाँसगाँव तहसील के अधिकारियों पर नही पड़ता किसी भी आदेश का असर।

9:30 बजे तक तहसील नहीं पहुँच सकी उपजिलाधिकारी पूजा मिश्रा, तहसीलदार विजय नरायन सिंह एवं नायब तहसीलदार दिग्विजय सिंह।

तहसील के अधिकारियों का जब ये रवैया है तो कर्मचारियों का क्या होगा? 

इन आराम फरस्त अधिकारियों के इस रवैये से पीड़ितों को कैसे मिल पायेगा न्याय।