सिर्फ सरकारी नौकरी बेरोजगारी का हल नहीं:-साकेत सिंह धोनी

152

आज हर कोई यह चाहता है कि उसे सरकारी नौकरी मिले । आजकल की ज्यादातर युवाओं का मानना है कि रोजगार का मतलब है सिर्फ सरकारी नौकरी और इसीलिए बेरोजगारी बढ़ रही है, जो गलत है ।

असल में समस्या लोगों की सोच में हैं, लोगों को अपनी सोच बदलना पड़ेगा ।

युवाओं को यह धारणा बदलनी होगी कि रोजगार का एकमात्र रास्ता सरकारी नौकरी ही है । जबकि आज वह नजरे घुमाकर देखे तो लाखों साधन उनके आस पास दिखाई देंगें । जो सरकारी नौकरियों से कहीं ज्यादा बेहतर और अच्छे है ।

जैसै की हम कृषि क्षेत्र की ही बात करे तो कितने अवसर है । पर जरूरत है उसे समझने की और उसे इस्तेमाल करने की । आज आप देखिए भारत का या जितने भी व्यापार जगत के दिग्गज हैं, उन्होंने अपना रास्ता खुद बनाया और आज नतीजा आप के सामने है ।