गोरक्षपीठ के सन्त को धमकी, हिरासत में आरोपी

803

गोरक्षपीठ के संत के साथ बस में यात्रा कर रहे पिता-पुत्र ने अभद्रता की और उन्हें चलती बस से बाहर फेंकने की धमकी दे डाली। इस पर संत ने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को फोन लगा दिया। हालांकि फोन नहीं उठा, मगर भनक लगते ही सीओ फोर्स के साथ दौड़ पड़े। बस रुकवाकर आरोपित पिता-पुत्र को हिरासत में ले लिया।  गोरखनाथ पीठ से जुड़े संत स्वामी सतीशनाथ गुरुवार रात आठ बजे निजी बस से आगरा से टूंडला जा रहे थे। वहां से उन्हें गोरखपुर के लिए ट्रेन पकडऩी थी। बस में यात्रा कर रहे पिता-पुत्र से एत्मादपुर के निकट उनका विवाद हो गया। आरोप है कि दोनों ने संत से अभद्रता कर उन्हें चलती बस से फेंक देने की धमकी दे डाली। इस पर संत ने मुख्यमंत्री को फोन लगा दिया। बात न होने पर जानकारी पुलिस को दी। सीओ डॉ. धर्मेन्द्र कुमार व थाना प्रभारी मौके पर पहुंचे।

पुलिस ने पिता कृपाशंकर सोनी और पुत्र गौरव को हिरासत में ले लिया। रायबरेली निवासी कृपाशंकर सोनी बिजली विभाग में जेई हैं। वह बेटे की बीटीसी की काउंसिलिंग कराकर उसके साथ लौट रहे थे। सीओ का कहना है कि लिखित शिकायत मिलने पर कार्रवाई की जाएगी।