जिस अनहोनी को टालने के लिए नगरनिगम प्रशासन को चेता रहा था गोरखपुर टाइम्स । आखिर वो अनहोनी हो ही गयी

जिस अनहोनी को टालने के लिए नगरनिगम प्रशासन को चेता रहा था गोरखपुर टाइम्स । आखिर वो अनहोनी हो ही गयी दो पक्षो ने मिल कर जम कर काटा बवाल अंधेरे के कारण प्रशासन को भी सम्भालने में हुई काफी परेशानी ।जहा गोरखपुर टाइम्स बार बार सूरजकुंड के अंधेरी सड़को का मुद्दा उठा रहा । पर नगर निगम प्रसासन के कान पर जू तक नही रेग रहा आज एक बड़ी घटना हो ही गयी सूरजकुंड मोहल्ले के मलीनबस्ती एक अन्य पक्ष में जम कर लड़ाई हुई । परन्तु एसो तिवारीपुर के तत्परता के कारण मामला शांत हो गया । इस झगड़े में अभी तक छः गिरफ्तारियों हो चुकी है । एसो तिवारीपुर के अनुसार बराबर दबिस दी जा रही है। अभी और गिरफ्तारिया हो सकती है । इन सब के बीच एक सवाल तो है की अगर लाइट की समुचित व्यवस्था होती तो प्रशासन और आसानी से निपट सकती । तथा बलबाइयो को आसानी से चिन्हित किया जा सकता है ।इस से पूर्व कुछ दिन पूर्व मलीन बस्ती के कुछ अराजक तत्व संघ के वरिष्ट कार्यकर्ता को घायल कर चुके है