Monday, September 21, 2020

अच्छे पर्यावरण के लिए सामूहिक प्रयास की आवश्यकता

महाराजगंज बीएसए का हुआ तबादला, देखे नई तैनाती…

देवरिया में डायट प्रवक्ता के पद पर तैनात रहे ओपी यादव शासन द्वारा बेसिक विभाग में बड़ा फेरबदल किया...

आमिर हुसैन के नेतृत्व सपा कार्यकर्ताओं का प्रदर्शन, एसडीएम को ज्ञापन सौंपा…

महाराजगंज। कोरोना काल में हुए भ्रष्टाचार तथा पुलिसिया उत्पीड़न व किसान बिल के विरोध में आज जनपद...

डिजिटल लेन-देन से देश की आर्थिक व्यवस्था को मजबूती मिलेगी-चेयरमैन नौतनवां

महराजगंज आज के समय मे शहर हो या गाँव हर तरफ डिजिटल इण्डिया मुहिम की धूम है लोगों की आवश्यकताओं व सुविधाओं...

गोरखपुर से सटे जिले आजमगढ़ में विमान हादसा,देश ने खोया युवा पायलट

अमेठी का प्रशिक्षू विमान क्रैश ! पायलट की मौत ।मीनाक्षी मिश्रा की अमेठी से रिपोर्ट

गोरखपुर में बदमाशों ने फिल्मी अंदाज में बरसाई ताबड़तोड़ गोलियां, एक शख्स हुआ घायल….

गोरखपुर गोरखपुर जिले में बदमाशों के हौसले बुलंद हैं। यहां सोमवार को कैंट इलाके के सिंघाड़िया से लेकर...

Download GT App from
Google Play

विज्ञापन के लिए संपर्क करें +91 7843810623 (WhatsApp)

आज विश्व पर्यावरण दिवस को भारत समेत दुनियाँ भर के लोग मना रहें है और अपने आप को प्रतिबद्ध कर रहें है पर्यावरण को बचाने के लिए | ऐसा नहीं है की यह पहली बार हो रहा है बल्कि काफी लंबे समय से हम सब ऐसा करते चले आ रहें | प्रदूषण, जंगलों की समाप्ति पर्यावरण के लिए बड़ी चिंता का विषय है | पर इन सबके अतिरिक्त यदि बारीकी से पर्यावरण का मूल्यांकन किया जाए तो हम इंसानों ने अपने अतिरिक्त ईश्वर की दी हुई कई अभूतपूर्व चीजों को नुकशान पहुचाया है हम इतने स्वार्थी और एकाँकी प्रवृत्ति के है की जीवन मे सर्वोपरि अपनी महत्ता को रखते है और उसके अतिरिक्त सभी बातें हमारे लिए दूसरे दर्जे की है |

जानवरों, पक्षियों और कीड़ों-मकोड़ों तक का इस धरती पर उतना ही अधिकार और आवश्यकता है जितनी इंसान की पर हम खाने और विभिन्न शौक को पूरा करने के उद्देश्य से बड़ी से बड़ी क्षति किसी को पहुचाने से पीछे नहीं रहें है | शहरीकरण की चाह लोगों मे दिन प्रतिदिन तेजी से बढ़ती जा रही है | लोगों को शहर मे आने की वजह से जंगलों का तेजी से काट कर उन पर बड़ी – बड़ी इमारतें बनायी जा रही है | जंगलों की आवश्यकताओं की पूर्ति भी करने वाला कोई नहीं है क्योंकि जिस तरह से बाग पूर्व के समय मे लगाए गए थे आज लोग बाग तो दूर की बात एक पेड़ भी नहीं लगा रहे है |

ये भी पढ़े :  यूपी बोर्ड के इंटर और हाईस्कूल के परीक्षा परिणाम घोषित, टॉपरों को मिलेंगे एक-एक लाख रुपये और लैपटॉप
ये भी पढ़े :  जिले में पुलिसकर्मियों को झेलना पड़ रहा दोहरा दंश,एक कोरोना दूसरा झूठे आरोप...

यानि की प्रकृति और पर्यावरण आज दोहरी मार झेल रहा है | चिड़ियों के द्वारा अनेकों बाग अंजाने मे ही लग जाते थे पर अब शहरीकरण के परिवर्तन की वजह से इन चिड़ियों को रहने की भी जगह नहीं मिल रही है | उपर से लोगों के अलग – अलग शौक कीड़ों मकोड़ों तक को असुरक्षित बना दे रहे है जिससे कई भीषण बीमारियों का पदार्पण विगत के वर्षों मे समाज ने महसूस किया है |

ऐसा नही है की पर्यावरण को नुकशान पहुचाने से लोगों को नुकशान नहीं हो रहा है | अनेकों लोगों की आकस्मिक मृत्यु का कारण आज अकेले पर्यावरण है और पर्यावरण को प्रेररित करने के पीछे इंसान है यानि की विभिन्न प्रजातियों के अलावा इंसान स्वयं का भी दुश्मन है | विषय और भी गंभीर और चिंताजनक इस लिए भी है की हम अपनी पीढ़ी को क्या देने वाले है |

मौसम मे अस्थिरता भी पर्यावरण की ही देन है जिससे हम सब को दो चार होना पड़ रहा है | गर्मी मे बारिश, ठंड मे गर्मी, बारिश के मौसम मे गर्मी या ठंड अनेकों परिवर्तन दिख रहे है विभिन्न तूफ़ानों के पीछे भी पर्यावरण ही कारण है | हम कई रूपों मे पर्यावरण को नुकशान पहुचा रहे है | फिर चाहे दिन प्रतिदिन का घर से निकल कूड़े के लिए पर्याप्त व्यवस्था का न होना ही क्यों न हो |

कई संगठन और लोगों का प्रयास पर्यावरण को बचाने मे सराहनीय है पर आवश्यकता के अनुरूप लोगों के सहभागिता की कही अधिक जरूरत है | आज खुली साफ हवाँ कितने लोगों को प्राप्त हो रही है वह सबके सामने है | कई विशेषज्ञों का यहाँ तक मानना है की मानव सभ्यता के अंत हेतु विनाश के लिए मुख्य कारण पर्यावरण ही होगा और बात कुछ हद तक सही भी है जिस तरह से हम आधुनिक और एलेक्ट्रॉनिक वस्तुओं पर निर्भर होते चले जा रहे है है कही न कही पर्यावरण से दूर भी होते चले जा रहे है |

ये भी पढ़े :  गोरखपुर बॉर्डर पर चेकिंग में लापरवाही बरतने पर दरोगा और दो सिपाही हुए निलंबित...

अब हम सब को इस विषय मे स्वयं आगे बढ़ने की जरूरत है और कम से कम यह सुनिश्चित करना होगा की अधिक से अधिक संख्या मे नये पेड़ लगाए बल्कि यह भी सुनिश्चित करें की प्रकृति को किसी भी रूप मे नुकशान न पहुचाए | इस धरती पर सबका सामान अधिकार है चाहे वह मनुष्य हो, जानवर हो, या फिर कीड़े-मकोड़े ही क्यों न हो | एक दूसरे के जीवन के लिए समान रूप से सबकी जरूरत है | यादि आप प्रकृति को जिंदा रखने मे सहयोग नहीं कर सकते तो अधूरी और झूठी तरह से पर्यावरण के प्रति चिंता सोशल मीडिया पर व्यक्त करना आपके अपने स्वयं के प्रति झूठ बोलने से कम नहीं है | आज जरूरत बड़े पैमाने पर कार्य करने की है जिससे जीवन को बचाया जा सके |

ये भी पढ़े :  लॉकडाउन में पैसा लेकर फर्जी पास बनाने वालो का था बोल-बाला,निरस्त किया गया नगर निगम गोरखपुर के सभी सफाईकर्मियों का कर्फ्यू पास……

डॉ. अजय कुमार मिश्रा (लखनऊ)
drajaykrmishra@gmail.com

Hot Topics

गोरखपुर : सगी बहन से शादी करने की जिद पर अड़ा भाई; यहां जाने क्या है माजरा !

उत्तर प्रदेश के गोरखपुर जिले में एक हैरान करने वाला मामला सामने आया है। यहां चिलुआताल में...

गोरखपुर:चिता पर रखे शव के जीवित होने पर मचा हड़कंप, रोकना पड़ा दाह संस्कार,

उत्तर प्रदेश के कुशीनगर में एक हैरान करने वाला मामला सामने आया है। यहां...

देवरिया:- थाने में ही महिला फरियादी के सामने हस्तमैथून करने वाला थानेदार फ़रार,25 हज़ार के इनाम की घोषणा

देवरिया के अंतर्गत आने वाले थाने भटनी में महिला फरियादी के सामने हस्तमैथुन करने वाली थानेदार के खिलाफ मुकदमा दर्ज...

Related Articles

गोरखपुर से सटे जिले आजमगढ़ में विमान हादसा,देश ने खोया युवा पायलट

अमेठी का प्रशिक्षू विमान क्रैश ! पायलट की मौत ।मीनाक्षी मिश्रा की अमेठी से रिपोर्ट

गोरखपुर में बदमाशों ने फिल्मी अंदाज में बरसाई ताबड़तोड़ गोलियां, एक शख्स हुआ घायल….

गोरखपुर गोरखपुर जिले में बदमाशों के हौसले बुलंद हैं। यहां सोमवार को कैंट इलाके के सिंघाड़िया से लेकर...

बिग ब्रेकिंग:- योगी आदित्यनाथ ने आईपीएस सोनम कुमार को भेजा गोरखपुर,बिगड़ती कानून व्यवस्था करेंगे दुरुस्त

गोरखपुर में आए दिन हो रहे अपराध को रोकने के लिए जिले में एक और आईपीएस की तैनाती की गई है बताया...
%d bloggers like this: