Saturday, September 25, 2021

अयोध्या के DIET ऑफिस से गायब हुए 900 साल पुराने दुर्लभ सिक्के, मचा हड़कंप…

Maharajganj: हड़हवा टोल प्लाजा पर भेदभाव हुआ तो होगा आन्दोलन।

फरेन्दा, महराजगंज: फरेन्दा नौगढ़ मार्ग पर स्थित हड़हवा टोल प्लाजा पर प्रबन्धक द्वारा कुछ विशेष लोगो को छोड़ बाकी सबसे टोल टैक्स...

Maharajganj: बृजमनगंज थाना क्षेत्र में चोरों के हौसले बुलंद, लोग पूछ रहे सवाल क्या कर रहे हैं जिम्मेदार

बृजमनगंज, महाराजगंज. थाना क्षेत्र में पुलिस की निष्क्रियता के चलते चोरों के हौसले बुलंद है. जिसके कारण चोरी की घटनाएं बढ़ रही...

गोरखपुर:- बोरे में भरकर लाश को ठिकाने लगाने ले जा रहे जीजा साले को पुलिस ने किया गिरफ्तार

बोरे में भरकर लाश को ठिकाने लगाने ले जा रहे जीजा साले को पुलिस ने किया गिरफ्तार गोरखपुर। दिल्ली...

Maharajganj: औकात में रहना सिखो बेटा नहीं तो तुम्हारे घर में घुस कर मारेंगे-भाजपा आईटी सेल मंडल संयोजक, भद्दी भद्दी गालियां फेसबुक पर वायरल।

Maharajganj: महाराजगंज जनपद में भाजपा द्वारा नियुक्त धानी मंडल संयोजक का फेसबुक पर गाली-गलौज और धमकी वायरल। फेसबुक पर धानी मंडल संयोजक...

खुशखबरी:-सहजनवा दोहरीघाट रेलवे ट्रैक को मंजूरी 1320 करोड़ स्वीकृत

गोरखपुर के लिहाज़ से एक बड़ी ख़बर प्राप्त हो रही है जिसमे यह बताया जा रहा है कि सहजनवा दोहरीघाट रेलवे ट्रैक...

Download GT App from
Google Play

विज्ञापन के लिए संपर्क करें +91 7843810623 (WhatsApp)

अयोध्या स्थित जेटीसी स्कूल (अब डायट) में सन् 1952 में रखे गए पुरातात्विक महत्व के नौ सौ वर्ष पुराने दुर्लभ सिक्कों की बंदरबांट हो चुकी है।

हैदरगंज मोहल्ला स्थित जेटीसी स्कूल (अब डायट) में सन् 1952 में रखे गए पुरातात्विक महत्व के नौ सौ वर्ष पुराने दुर्लभ सिक्कों की बंदरबांट हो चुकी है। सैकड़ों की संख्या में रखे सिक्कों की खोजबीन करने पर पता चला कि शिक्षाविदों और कर्मचारियों की पूरी पीढ़ी ने पिछले 67 सालों में अयोध्या व फैजाबाद के उस इतिहास को दफनाने का काम किया, जिसकी जीवंतता बनाए रखने की महती जिम्मेदारी इन्हीं की थी। डायट की वर्तमान प्राचार्या संध्या सिन्हा को तो सार्वजनिक चर्चा में रहे इन सिक्कों की मौजूदगी की जानकारी ही नहीं है।

ये भी पढ़े :  दीपोत्सव से राममय हुई अयोध्या, हर तरफ हर्षोल्लास का माहौल,

स्थानीय निवासी व विदेश मंत्रालय के अधिकारी अमरनाथ दुबे ने इस संबंध में जिलाधिकारी अनुज कुमार झा का ध्यान आकृष्ट कराया है। इस बीच सिक्कों के बारे में जानकारी होने पर प्राचार्या ने डायट कर्मचारियों को समुचित जानकारी मुहैया कराने का फरमान जारी किया है। आजादी से पहले फैजाबाद म्युनिसिपल म्यूजियम में दुर्लभ मूर्तियों, प्राचीन सिक्कों, ताम्रपत्र, शिलाखंडों व जानवरों की खाल समेत अयोध्या-फैजाबाद से जमा किए गए प्राचीन अवशेष रखे हुए थे। यह म्यूजियम सन 1952 में बंद कर दिया गया। इस प्रकार यहां की कई महत्वपूर्ण कलाकृतियां राज्य संग्रहालय लखनऊ व फैजाबाद के जूनियर ट्रेन‍िंग सेंटर (जेटीसी) में संरक्षित कर दी गईं। 

ये भी पढ़े :  जनसंख्या समस्या और समाधान दोनों है -- मोहन भागवत

 प्रशासनिक अमले में 1983-84 के दौरान फिर सक्रियता दिखी, जब जेटीसी के तत्कालीन प्राचार्य श्रीकांत शर्मा, लिपिक राजबहादुर तिवारी व अली हैदर ने तत्कालीन कमिश्नर को यहां रखे गए दुर्लभ पुरावशेष हैंडओवर करने के लिए पत्र लिखा। इसी लिखा-पढ़ी के फलस्वरूप अनेक अवशेष एवं मूर्तियां अयोध्या शोध संस्थान में स्थानांतरित की गईं। इस दौरान मूर्तियां रखने की जगह बदलती रहीं और स्थानांतरण की आपा-धापी के बीच 80 के दशक में बहुचर्चित सरस्वती जी की प्रतिमा चोरी होने की खबर से पुरावशेषों के प्रति प्रशासनिक अमले की संवेदनहीनता भी उजागर हुई।

इन सबके बीच नाटकीय ढंग से दुर्लभ सिक्कों को फैजाबाद जेटीसी (डायट) से स्थानांतरित नहीं किया गया। इसमें राजा गांगेय देव (1014-1041 ई.) के शासनकाल की गजलक्ष्मी अंकित स्वर्ण मुद्राएं भी हैं, जिसके पृष्ठ भाग पर शारदा लिपि में श्रीमद् गांगेय देव लिखा है। यह सिक्के अयोध्या के इतिहास लेखन में दसवीं शताब्दी के कलचुरी साम्राज्य व त्रिपुरी का नया आयाम जोड़ते हैं।

ये भी पढ़े :  UP Board हाईस्कूल , इंटर के छात्रों को आज से मिलेंगे एडमिट कार्ड , इन छात्रों को नहीं मिलेंगे एडमिट कार्ड

 गौरतलब है कि अयोध्या रामकथा संग्रहालय में प्रदर्शित पुरानी मूर्तियों में दसवीं शताब्दी की गणेश प्रतिमा इसी कालखण्ड की है। पुरातात्विक महत्व के इस डाक्यूमेंटेशन का डायट में कोई नामोनिशान नहीं है। कथित रूप से कई दुर्लभ सोने के सिक्कों में से एक सिक्का ही बचा रह गया है। हालांकि पांच श्रेणियों के कुल 280 दुर्लभ सिक्के व एक ताम्रपत्र डायट के कार्यालय में अपने भविष्य की बाट जोह रहे हैं।

Hot Topics

गोरखपुर : सगी बहन से शादी करने की जिद पर अड़ा भाई; यहां जाने क्या है माजरा !

उत्तर प्रदेश के गोरखपुर जिले में एक हैरान करने वाला मामला सामने आया है। यहां चिलुआताल में...

गोरखपुर:चिता पर रखे शव के जीवित होने पर मचा हड़कंप, रोकना पड़ा दाह संस्कार,

उत्तर प्रदेश के कुशीनगर में एक हैरान करने वाला मामला सामने आया है। यहां...

देवरिया:- थाने में ही महिला फरियादी के सामने हस्तमैथून करने वाला थानेदार फ़रार,25 हज़ार के इनाम की घोषणा

देवरिया के अंतर्गत आने वाले थाने भटनी में महिला फरियादी के सामने हस्तमैथुन करने वाली थानेदार के खिलाफ मुकदमा दर्ज...

Related Articles

83 साल के संत ने राम मंदिर के लिए दिए 1 करोड़, 60 साल से रह रहे गुफा में

अयोध्या में भव्य राम मंदिर निर्माण (Ram Temple Ayodhya) के लिए लोगों की आस्था इस कदर जुड़ी...

अयोध्या में मस्जिद का खूबसूरत डिजाइन हुआ जारी, देखें और जानें क्या है खास।।

अयोध्या. राम मंदिर के डिजाइन के बाद अब अयोध्या में बनने वाली मस्जिद (Masjid) का भी खूबसूरत डिजाइन आज जारी हो गया।...

अयोध्या में 6 लाख दीये जलाकर बनाया विश्व रिकार्ड, CM बोले-अगले साल बनेगा नया कीर्तिमान

अयोध्या/लखनऊ। राम नगरी में सरयू नदी के तट पर शुक्रवार को त्रेता युग जीवंत हो उठा। इस...
%d bloggers like this: