Sunday, July 25, 2021

श्रीराम मंदिर भूमि पूजन में न जाएं मुस्लिम: उलमा

पुलिस अधीक्षक द्वारा की गयी मासिक अपराध गोष्ठी में अपराधों की समीक्षा व रोकथाम हेतु दिये गये आवश्यक दिशा-निर्देश

Maharajganj: पुलिस अधीक्षक महराजगंज प्रदीप गुप्ता द्वारा आज दिनांक 17.07.2021 को पुलिस लाइन्स स्थित सभागार में मासिक अपराध गोष्ठी में कानून-व्यवस्था की...

शायर मुनव्वर राना के बोल, ‘दोबारा सीएम बने योगी तो यूपी छोड़ दूंगा’

लखनऊ: मशहूर शायर मुनव्वर राना एक बार फिर अपने बयान की वजह से सुर्खियों में हैं।उन्होंने कहा कि अगर योगी आदित्यनाथ दोबारा...

Maharajganj: CO सुनील दत्त दूबे द्वारा कुशल पर्यवेक्षण करने पर अपर पुलिस महानिदेशक जोन गोरखपुर ने प्रशस्ति पत्र से नवाजा।

Maharajganj/Farenda: सीओ फरेन्दा सुनील दत्त दूबे को थाना पुरन्दरपुर में नवीन बीट प्रणाली के क्रियान्वयन में कुशल पर्यवेक्षण करने पर अपर पुलिस...

विधायक विनय शंकर तिवारी किडनी की बीमारी से पीड़ित ग़रीब युवा के लिए बने मसीहा…

हाल ही में सोशल मीडिया के माध्यम से किडनी की बीमारी से पीड़ित व्यक्ति की मदद हेतु युवाओं के द्वारा अपील की...

महराजगंज जिले के फरेंदा थाने के अंतर्गत SBI कृषि विकास शाखा के सामने से मोटरसाइकिल चोरी

Maharajganj: महाराजगंज जिले के फरेंदा थाने के अंतगर्त मंगलवार को बृजमनगंज रोड पर भारतीय स्टेट बैंक कृषि विकास शाखा के ठीक...

Download GT App from
Google Play

विज्ञापन के लिए संपर्क करें +91 7843810623 (WhatsApp)

अयोध्या में श्रीराम मंदिर के भूमि पूजन में पक्षकार इकबाल अंसारी सहित मुस्लिम समाज के लोगों को आमंत्रित किए जाने पर उलमा ने नाराजगी जताई है। उलमा का दो टूक कहना है कि सभी लोगों को वहां जाना नहीं चाहिए बल्कि उनको निमंत्रण स्वीकार ही नहीं करना चाहिए था।

ये भी पढ़े :  अयोध्या में शुरू होंगे 1000 करोड़ के 51 प्रोजेक्ट:

मदरसा जामिया फातिमा जाहरा एंग्लो अरेबिक के प्रबंधक मौलाना लुतफुर्रहमान सादिक कासमी का कहना है कि बाबरी मस्जिद के सिलसिले में हम बार बार कह चुके हैं कि इस मुद्दे में जो कुछ हो गया है वह होने दो। जो हमारा हक था वो छीन लिया गया। मस्जिद के लिए दूसरी जगह दी गई है वह हमें स्वीकार नहीं है। 

उन्होंने कहा कि पांच अगस्त को श्रीराम मंदिर के भूमि पूजन के लिए जिन मुस्लिम लोगों को आमंत्रित किया गया है उनको वहां जाना नहीं चाहिए बल्कि उनको दावतनामा स्वीकार ही नहीं करना था। मदरसा जामिया शेखुल हिंद के मोहतमिम मौलाना मुफ्ती असद कासमी का कहना है कि हमारे साथ क्या हुआ यह सभी जानते हैं। जहां तक भाईचारा कायम रखने की बात है तो वो आगे भी कायम रहेगा। 

ये भी पढ़े :  राम मंदिर निर्माण में पीएम मोदी का कोई योगदान नहीं’, बोले- बीजेपी सांसद

मजहब-ए-इस्लाम यही तालीम देता है कि सभी धर्मों का सम्मान करें, लेकिन जहां तक मंदिर निर्माण के लिए भूमि पूजन में मुस्लिम समाज के लोगों के जाने का सवाल है कि इसमें उन्हें नहीं जाना चाहिए। बल्कि सबसे पहले तो उन्हें दावतनामा कबूल ही नहीं करना चाहिए था, लेकिन उन्होंने इसे स्वीकार कर लिया तो अब उन लोगों को चाहिए कि वे वहां न जाएं।

Hot Topics

गोरखपुर : सगी बहन से शादी करने की जिद पर अड़ा भाई; यहां जाने क्या है माजरा !

उत्तर प्रदेश के गोरखपुर जिले में एक हैरान करने वाला मामला सामने आया है। यहां चिलुआताल में...

गोरखपुर:चिता पर रखे शव के जीवित होने पर मचा हड़कंप, रोकना पड़ा दाह संस्कार,

उत्तर प्रदेश के कुशीनगर में एक हैरान करने वाला मामला सामने आया है। यहां...

देवरिया:- थाने में ही महिला फरियादी के सामने हस्तमैथून करने वाला थानेदार फ़रार,25 हज़ार के इनाम की घोषणा

देवरिया के अंतर्गत आने वाले थाने भटनी में महिला फरियादी के सामने हस्तमैथुन करने वाली थानेदार के खिलाफ मुकदमा दर्ज...

Related Articles

83 साल के संत ने राम मंदिर के लिए दिए 1 करोड़, 60 साल से रह रहे गुफा में

अयोध्या में भव्य राम मंदिर निर्माण (Ram Temple Ayodhya) के लिए लोगों की आस्था इस कदर जुड़ी...

अयोध्या में मस्जिद का खूबसूरत डिजाइन हुआ जारी, देखें और जानें क्या है खास।।

अयोध्या. राम मंदिर के डिजाइन के बाद अब अयोध्या में बनने वाली मस्जिद (Masjid) का भी खूबसूरत डिजाइन आज जारी हो गया।...

अयोध्या में 6 लाख दीये जलाकर बनाया विश्व रिकार्ड, CM बोले-अगले साल बनेगा नया कीर्तिमान

अयोध्या/लखनऊ। राम नगरी में सरयू नदी के तट पर शुक्रवार को त्रेता युग जीवंत हो उठा। इस...
%d bloggers like this: