- Advertisement -
n
n
Friday, June 5, 2020

अस्पताल में भर्ती कोरोना का संदिग्ध मरीज भागने के लिए छठी मंजिल से कूदा, मौत….

Views
Gorakhpur Times | गोरखपुर टाइम्स

हरियाणा में लॉकडाउन के 13वें दिन करनाल जिले से सनसनी भरी खबर आई। यहां एक अस्पताल में भर्ती कोरोना का संदिग्ध मरीज भागने के लिए छठी मंजिल से कूद गया। नीचे गिरते ही उसकी मौत हो गई। चिकित्सकों ने उसकी लाश को उठवाया और फिर पुलिस ने मौका-मुआयना किया। अस्पताल की बिल्डिंग को देखने पर मिला कि, उस मरीज ने चादर और पॉलिथीन की रस्सी बनाकर कूदने की कोशिश की थी।

पानीपत का रहने वाला था मरीज

NOTE:  गोरखपुर टाइम्स का एप्प जरुर डाउनलोड करें  और बने रहे ख़बरों के साथ << Click

Subscribe Gorakhpur Times "YOUTUBE" channel !

The Photo Bank | अच्छे फोटो के मिलते है पैसे, देर किस बात की आज ही DOWNLOAD करें और दिखाए अपना हुनर!

 

जानकारी के अनुसार, उस मरीज को कल्पना चावला मेडिकल कॉलेज की छठी मंजिल पर बनाए गए आइसोलेशन वॉर्ड में भर्ती कराया गया था। बीते एक अप्रैल को कोरोना होने की आशंका में उसे पानीपत से इस मेडिकल कॉलेज में लाय गया था। उसे बुखार, बदन दर्द और किडनी में दिक्कत थी। ऐसे में उसका सैम्पल भी कोरोना जांच के लिए भेजा गया था। हालांकि, जब उस मरीज को पता नहीं क्या सूझा, उसने सोमवार तड़के चादर के सहारे छठी मंजिल पर बनाए गए आइसोलेशन वार्ड से भागने की कोशिश की। उसने नीचे छलांग लगा दी। गिरते ही उसकी मौत हो गई। डॉक्टरों ने बताया कि, अभी उस शख्स के कोरोना-टेस्ट की रिपोर्ट नहीं आई है।

ये भी पढ़े :  आगरा के जूता व्यापारी से जुड़े है कोरोना वायरस से ग्रसित 7 लोगो के तार

कोरोना से हुई मौत तो करवाएगी संस्कार

वहीं, कोरोना-संकट के बीच राज्य सरकार की ओर से फैसला किया गया कि अगर किसी कोरोना पीड़ित की मौत होती है तो उसका अंतिम संस्कार सरकार ही करवाएगी। अंतिम संस्कार की जिम्मेदारी शहरी निकाय विभाग के कर्मचारियों की होगी। हरियाणा के स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज ने इस बारे में जानकारी दी। उन्होंने कहा कि, मृतक के धर्म के मुताबिक ही उसका अंतिम संस्कार किया जाएगा। इसके लिए शहरी निकाय के कर्मचारियों को पीपीई किट मुहैया करवाई जाएगी। अधिसूचना जारी कर दी गई है।

Advertisements
%d bloggers like this: