- Advertisement -
n
n
Tuesday, June 2, 2020

आयुष्मान खुराना का सनसनीखेज खुलासा, डायरेक्टर ने की थी गंदी डिमांड…

Views
Gorakhpur Times | गोरखपुर टाइम्स

फिल्म अभिनेता ने बताया है कि करियर के शुरुआती दौर में उनको फिल्म में रोल पाने के लिए समझौता करने को कहा गया था। खुराना ने अपने साथ हुए कास्टिंग काउट के तजुर्बे को याद करते हुए कहा कि डायरेक्टर ने उनसे जब ये गंदी फरमाइश की तो वो विनम्रता के साथ उस रोल के लिए मना करके आ गए थे। पिंकविला को दिए इंटरव्यू में आयुष्मान ने ये बातें बताई हैं

लीड रोल के लिए रखी थी शर्त

कास्टिंग काउट यानी फिल्म में काम पाने के लिए साथ सोने के लिए कहने के आरोप फिल्म जगत के निर्मामा और निर्देशकों पर अकसर लगते रहे हैं। हालांकि ज्यादातर ये आरोप महिला एक्टरों की और से पुरुष निर्देशकों पर लगते हैं। मीटू अभियान में भी यही देखा गया था। हालांकि अब आयुष्मान ने एक अलग पहलू सामने रखा है। जिस पर इतनी ज्यादा बात नहीं होती है।

NOTE:  गोरखपुर टाइम्स का एप्प जरुर डाउनलोड करें  और बने रहे ख़बरों के साथ << Click

Subscribe Gorakhpur Times "YOUTUBE" channel !

The Photo Bank | अच्छे फोटो के मिलते है पैसे, देर किस बात की आज ही DOWNLOAD करें और दिखाए अपना हुनर!

 

पिंकविला से आयुष्मान खुराना ने कहा, एक एक फिल्म के लिए कास्टिंग डायरेक्टर से मिला था। जब रोल के लिए बातचीत होने लगी तो उन्होंने मुझे कहा, मैं तुम्हें लीड रोल दे दूंगा लेकिन इसकी एक शर्त होगी। ये रोल तभी आपको मिलेगा जब तुम मुझे अपना टूल दिखाओ। मैं उनकी बात सुनके समझ नहीं पाया कि ये हो क्या रहा है।

मैंने कहा- स्ट्रेट हूं

मैंने कहा- स्ट्रेट हूं और निकल आया

आयुष्मान कहते हैं कि डायरेक्टर का ऑफर सुनने के बाद मैंने उनसे कहा कि आप जैसा समझ रहे हैं मैं वैसा नहीं हूं। मैं स्ट्रेट हूं और आपके इस ऑफर को ठुकराता हूं। इसके बाद मैं वहां से निकल आया। उन्होंने कहा कि उनके लिए ये अहसज करने वाला अनुभव जरूर था लेकिन वो संघर्ष करते रहे और आज उनके पास बहुत काम है।

ये भी पढ़े :  सोशल मीडिया पर अलका लांबा और योगेश्वर दत्त की भिड़ंत, बात नाजायज औलाद और मां तक पहुंची

बहुत बार रिजेक्ट हुआ हूं

इंडस्ट्री में अपने शुरुआती दिनों को याद करते हुए आयुष्मान कहते हैं कि मुझे एक नहीं कई बार रिजेक्ट किया गया। एक किस्सा सुनाते हुए उन्होंने बताया, जब ऑडिशन हुआ करते थे, तो सोलो परफॉर्मेंस दी जाती थी। एक कमरे में एक समय में एक ही शख्स होता था। एक बार ऑडिशन देने वालों की संख्या बढ़ी और एक कमरे में करीब 50 लोग आ गए। जब मैंने इस पर बात उठाई तो उन्होंने मुझे वहां से निकल जाने के लिए कहा। इसके बाद मैं वहां से आ गया।

बीते 2-3 साल मेरे लिए अच्छे रहे हैं

खुराना ने कहा कि उनके खाते में पिछले 2-3 सालों से अच्छे शुक्रवार आ रहे हैं, जिसके लिए वो अपने आपको भाग्यशाली समझता हैं। उन्होंने कहा, असफलता से निपटने के लिए भी मैं अच्छी तरह से तैयार रहता हूं क्योंकि मैंने अपने शुरुआती दिनों में इस तरह की काफी चीजें देखी हैं। अब ऐसी चीजें मेरे साथ दोबारा होती हैं तो मैं इन्हें बेहतर तरीके से हैंडल कर लेता हूं।

ये भी पढ़े :  अब UP64 में सिने स्टार "सी.पी भट्ट" और सुपरस्टार "प्रमोद प्रेमी" के बीच होगा महामुकाबला...

आयुष्मान खुराना ने साल 2012 में फिल्म ‘विक्की डोनर’ से डेब्यू किया था। पहली फिल्म से ही आयुष्मान खुराना को पहचान मिल गई थी। खुराना के नाम पर ‘शुभ मंगल ज्यादा सावधा’, ‘ड्रीम गर्ल’, ‘बाला’, ‘आर्टिकल 15’, ‘बधाई हो’, ‘अंधाधुन’, ‘बरेली की बर्फी’, ‘दम लगा के हईशा’ जैसी हिट फिल्में हैं।

Advertisements
%d bloggers like this: