Sunday, June 20, 2021

आसान नही चीनी सामानों का बहिष्कार करना?

मोदी कैबिनेट में जल्‍द बड़ा फेरबदल, सिंधिया और वरुण गांधी सहित इन चेहरों को मिल सकती है जगह

टाइम्‍स नाउ की खबर के मुताबिक, मोदी कैबिनेट में जल्‍द फेरबदल का ऐलान हो सकता है। इस बार कई युवा चेहरों को...

गोररखपुर :फर्जी अस्पताल में कम्पाउंडर चला रहा ओपीडी

गोररखपुर :फर्जी अस्पताल में कम्पाउंडर चला रहा ओपीडीकोरोना काल मे फर्जी अस्पतालों की आई बाढ़ (((अंगद राय की कलम से)))

महराजगंज के नगर पंचायत आनंद नगर में गैस सिलेंडर फटा, छः लोग जख्मी

Maharajganj: महाराजगंज जिले की नगर पंचायत आनंद नगर के धानी ढाला पर जमीर अहमद के मकान में सुबह 6:30 बजे खाना...

69 हजार शिक्षक भर्ती में आरक्षण के नियमों का बड़े पैमाने पर अव्हेलना को लेकर आज़ाद समाज पार्टी के जिलाध्यक्ष ने एसडीएम को सौंपा...

Maharajganj: 69 हजार शिक्षक भर्ती में आरक्षण के नियमों की बड़े पैमाने पर अवहेलना की गयी है जिसमें OBC वर्ग...

तेज रफ्तार कार से ऑटो की भिड़ंत, घायलों को पहुंचाया गया अस्पताल।

फरेंदा (महराजगंज): जनपद में हर रोज हो रहे सड़क हादसे चिंता का बड़ा सबब बनते जा रहे हैं। फरेंदा कस्बे के उत्तरी...

Download GT App from
Google Play

विज्ञापन के लिए संपर्क करें +91 7843810623 (WhatsApp)

भारत चीन सीमा विवाद के पश्चात से ही पूरे देश मे चीनी उत्पादों के बहिष्कार करने की एक जोरदार लहर चल रही है । पर वास्तविकता उससे परे है । जिसे जानकर आपके होश उड़ जाएंगे ।

चलिए आपको बताते है वास्तविक सच्चाई । चीनी इलेक्ट्रॉनिक्स उत्पादों का कुल टर्न ओवर भारत मे वर्ष 2019 में 1.4 लाख करोड़ रुपये का रहा है । जिनमे शामिल है स्मार्ट फोन, टेलीविज़न, स्मार्ट बैंड, लैपटॉप और स्मार्ट वाच ।

भारतीय मार्किट के कुछ हिस्सों पर न केवल चीन का वर्चस्व है बल्कि उनका मार्किट शेयर में वर्ष दर वर्ष वृद्धि हो रही है । जबकि भारतीय उत्पादों के मार्किट शेयर में कमी आ रही है ।

मोबाइल फोन को ही ले लीजिए । चीनी मोबाइल ब्रांड सिओमी, ओप्पो, वीवो, रियलमी की वर्ष 2018 में बाजार में हिस्सेदारी 60 प्रतिशत थी जो 2019 में बढकर 71 प्रतिशत हो गयी । आश्चर्य की बात यह है कि वर्ष 2020 के प्रथम तिमाही में इनकी बाजार हिस्सेदारी 81 प्रतिशत तक पहुँच गयी है ।

ये भी पढ़े :  माननीयों के विवाद के बीच बोले भाजपा नेता हरिकेश राम त्रिपाठी:"इधर उधर से न यूँ रोज़ तोड़िये,अगर ख़राब बहुत हैं तो छोड़िए …!"
ये भी पढ़े :  कौड़ीराम व्यापार मण्डल (रजि0).का शपथग्रहण समारोह सम्पन्न,CO बाँसगांव ने दिलाई शपथ

दुनियां के अन्य देशों की मोबाइल कंपनिया भारत के बाजार में चीनी मोबाइल कंपनियों से पीछे है । सैमसंग और एप्पल मोबाइल की बाजार हिस्सेदारी भारत मे 2018 में 31 प्रतिशत थी । 2019 में घटकर 27.4 प्रतिशत हो गयी । और पुनः 20120 के प्रथम तिमाही में यह हिस्सेदारी 18 प्रतिशत तक रह गयी है ।

भारतीय ब्रांड अपने ही देश मे पीछे है । माइक्रोमैक्स, लावा, कार्बन भारतीय मोबाइल कंपनियों की देश के बाजार में हिस्सेदारी 2018 में 9 प्रतिशत, 2019 में 1.6 प्रतिशत और 2020 के प्रथम तिमाही में 1 प्रतिशत सिमट कर रह गयी है ।

यही हाल स्मार्ट टीवी के क्षेत्र में भी है । चीन की इस क्षेत्र में भारत के बाजार में हिस्सेदारी 2018 में 29 प्रतिशत थी, 2019 में बढ़कर 38 प्रतिशत हो गयी और वर्तमान वर्ष 2020 के प्रथम तिमाही में 38 प्रतिशत है ।

अन्य देशी की कंपनियां इस क्षेत्र में भारत के बाजार में हिस्सेदारी 2018 में 65 प्रतिशत, 2019 में 53 प्रतिशत और 2020 के प्रथम सप्ताह में 53.5 प्रतिशत रही है ।

ये भी पढ़े :  कौड़ीराम व्यापार मण्डल (रजि0).का शपथग्रहण समारोह सम्पन्न,CO बाँसगांव ने दिलाई शपथ

भारतीय कंपनियां इस क्षेत्र में 2018 में 6 प्रतिशत, 2019 में 9 प्रतिशत, 2020 के प्रथम तिमाही में 8.5 प्रतिशत बाजार हिस्सेदारी रही है ।

ये आंकड़े प्रदर्शित करते है कि किस तरह से भारतीय बाजार में चीनी कंपनियां मजबूती से लोगो पर राज कर रही है । सीमा विवाद की वर्तमान परिस्थिति में भी चीनी कंपनियों ने ऑनलाइन सेल के माध्यम से सेकंडों में अपने उतपाद को बेचा है ।

इस माहौल में और चीन के बर्बरता पूर्ण व्यवहार को चीनी उत्पाद को ना कहकर बदला लेने के लिए सबसे पहले हमें भारतीय उत्पादों पर भरोसा करना होगा । अन्यथा हम सब चीन से कभी पर नही सकेंगे । जरूरत है पूर्ण रूप से चीनी उत्पादों का बहिष्कार करने की ।

ये भी पढ़े :  पाँच ब्राह्मण युवकों के मौत पे सीएम द्वारा संवेदना के एक शब्द तक व्यक्त न किया जाना सीएम की संवेदनहीनता का स्पष्ट प्रमाण- पूर्व मंत्री डॉ के सी पांडेय

सुधा मिश्रा

सह संपादक

गोरखपुर टाइम्स

Hot Topics

गोरखपुर : सगी बहन से शादी करने की जिद पर अड़ा भाई; यहां जाने क्या है माजरा !

उत्तर प्रदेश के गोरखपुर जिले में एक हैरान करने वाला मामला सामने आया है। यहां चिलुआताल में...

गोरखपुर:चिता पर रखे शव के जीवित होने पर मचा हड़कंप, रोकना पड़ा दाह संस्कार,

उत्तर प्रदेश के कुशीनगर में एक हैरान करने वाला मामला सामने आया है। यहां...

देवरिया:- थाने में ही महिला फरियादी के सामने हस्तमैथून करने वाला थानेदार फ़रार,25 हज़ार के इनाम की घोषणा

देवरिया के अंतर्गत आने वाले थाने भटनी में महिला फरियादी के सामने हस्तमैथुन करने वाली थानेदार के खिलाफ मुकदमा दर्ज...

Related Articles

गोररखपुर :फर्जी अस्पताल में कम्पाउंडर चला रहा ओपीडी

गोररखपुर :फर्जी अस्पताल में कम्पाउंडर चला रहा ओपीडीकोरोना काल मे फर्जी अस्पतालों की आई बाढ़ (((अंगद राय की कलम से)))

दूसरों की मदद करने से जो खुशी मिलती है वही असली आनंद :- पवन सिंह

कुछ करने से अगर खुशी की अनुभूति होती है तो उससे बढ़कर आनंद किसी में नहीं है। आनंद को शब्दों में व्यक्त...

शहीद नवीन सिंह के परिवार को पवन सिंह ने दिया सहयोग।

जम्मू कश्मीर में शहीद हुए गोरखपुर निवासी...
%d bloggers like this: