Wednesday, September 29, 2021

‘इस वर्ष 106 मिलियन टन गेहूं की पैदावर हुई है’, कोरोना काल में देश की इकॉनमी को किसान देंगे रफ्तार

Maharajganj: हड़हवा टोल प्लाजा पर भेदभाव हुआ तो होगा आन्दोलन।

फरेन्दा, महराजगंज: फरेन्दा नौगढ़ मार्ग पर स्थित हड़हवा टोल प्लाजा पर प्रबन्धक द्वारा कुछ विशेष लोगो को छोड़ बाकी सबसे टोल टैक्स...

Maharajganj: बृजमनगंज थाना क्षेत्र में चोरों के हौसले बुलंद, लोग पूछ रहे सवाल क्या कर रहे हैं जिम्मेदार

बृजमनगंज, महाराजगंज. थाना क्षेत्र में पुलिस की निष्क्रियता के चलते चोरों के हौसले बुलंद है. जिसके कारण चोरी की घटनाएं बढ़ रही...

गोरखपुर:- बोरे में भरकर लाश को ठिकाने लगाने ले जा रहे जीजा साले को पुलिस ने किया गिरफ्तार

बोरे में भरकर लाश को ठिकाने लगाने ले जा रहे जीजा साले को पुलिस ने किया गिरफ्तार गोरखपुर। दिल्ली...

Maharajganj: औकात में रहना सिखो बेटा नहीं तो तुम्हारे घर में घुस कर मारेंगे-भाजपा आईटी सेल मंडल संयोजक, भद्दी भद्दी गालियां फेसबुक पर वायरल।

Maharajganj: महाराजगंज जनपद में भाजपा द्वारा नियुक्त धानी मंडल संयोजक का फेसबुक पर गाली-गलौज और धमकी वायरल। फेसबुक पर धानी मंडल संयोजक...

खुशखबरी:-सहजनवा दोहरीघाट रेलवे ट्रैक को मंजूरी 1320 करोड़ स्वीकृत

गोरखपुर के लिहाज़ से एक बड़ी ख़बर प्राप्त हो रही है जिसमे यह बताया जा रहा है कि सहजनवा दोहरीघाट रेलवे ट्रैक...

Download GT App from
Google Play

विज्ञापन के लिए संपर्क करें +91 7843810623 (WhatsApp)

कोरोना की रोकथाम के लिए दुनियाभर के देशों द्वारा उठाए गए लॉकडाउन जैसे कदमों ने इन देशों की अर्थव्यवस्था पर एक बहुत बड़ा नकारात्मक असर डाला है। सभी उद्योग धंधे ठप पड़े हैं और कुछ सेक्टर तो तबाह होने की कगार पर पहुंच चुके हैं। शायद यही कारण है कि IMF के अनुमान के मुताबिक विश्व इस साल आर्थिक मोर्चे पर कोई तरक्की नहीं करेगा बल्कि, इसकी बजाय दुनिया की GDP को 3 प्रतिशत तक का नुकसान होगा।

भारत भी कोरोना के इस आर्थिक प्रभाव से अछूता नहीं रहेगा और 2020 में भारत की GDP विकास दर सिर्फ 1.9 प्रतिशत रहने का अनुमान है। हालांकि, देश में एक ऐसा सेक्टर है जो इस साल भारत की अर्थव्यवस्था को बूस्ट करने में अपनी अहम भूमिका निभा रहा है और वह सेक्टर है कृषि सेक्टर!

भारत में रबी फसल की अच्छी पैदावार हुई है और देश के किसानों की मेहनत का फल देश की अर्थव्यवस्था को मिलता दिखाई दे रहा है। आंकड़ों के मुताबिक इस बार देश में करीब 106 मिलियन टन गेहूं की पैदावर हुई है। यह पहला मौका है जब भारत में 100 मिलियन टन से ज्यादा गेहूं की पैदावार हुई है। इससे देश की इकॉनमी को बड़ा बूस्ट मिलेगा।

ये भी पढ़े :  ना सीएम का डर ना सीएमओ का,भयंकर महामारी में भी प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र खजनी के फार्मासिस्ट द्वारा की जा रही अवैध वसूली….

वर्ष 2019 के आंकड़ों के अनुसार भारत की कुल GDP में कृषि सेक्टर का लगभग 15 प्रतिशत का योगदान है। इस सेक्टर के लिए देश का मौसम विभाग पहले ही खुशखबरी दे चुका है कि इस साल देश में मॉनसून अच्छा रहेगा। अब आपको बताते हैं कि कैसे मानसून और भारत के कृषि उद्योग का आपस में सीधा संबद्ध है और कैसे इस वर्ष मानसून का नॉर्मल रहना भारत के किसानों के लिए बहुत बड़ी खुशखबरी है।

ये भी पढ़े :  युवा नेता पवन सिंह ने गोरखपुरवासियों से की अपील लॉकडाउन का करे पालन….

दरअसल, अभी भारत विश्व में सबसे ज़्यादा ज़मीन पर खेती करता है। भारत में 215 मिलियन एकड़ भूमि पर खेती की जाती है और ऐसे में सिंचाई के लिए भी बहुत बड़ी मात्रा में पानी की आवश्यकता होती है जो पूरी करता है मानसून। मानसून के चार महीनों में भारत में कुल होने वर्षा का तीन चौथाई से भी अधिक हिस्सा बरसता है, ऐसे में जिस वर्ष मानसून कमजोर होता है तो भारत के इस सेक्टर की कमर टूट जाती है, लेकिन इस बार ऐसा नहीं होगा और यही सबसे अच्छी बात है।

केंद्र सरकार ने 20 अप्रैल से ही देश में सब जगह कृषि से जुड़ी आर्थिक गतिविधियों को जारी रखने की अनुमति दे रखी है, जिसके कारण इस सेक्टर पर लॉकडाउन का कोई खास प्रभाव नहीं पड़ा। पिछले महीने केंद्रीय मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर ने कहा था “कृषि उद्योग पर उतना ज़्यादा प्रभाव नहीं पड़ेगा। इस साल पैदावार बम्पर हुई है और किसानों को MSP के तहत उनके हिस्से का दाम ज़रूर दिया जाएगा”।

सरकार किसानों के लिए अपने 20 लाख करोड के राहत पैकेज में भी काफी ऐलान कर चुकी है, और अब गेंहू की बम्पर पैदावार हुई है तो किसानों के लिए एक और खुशखबरी आई है। इसके अलावा कोरोना के समय में मध्य प्रदेश, उत्तर प्रदेश और गुजरात जैसे राज्य किसानों की भलाई के लिए कई बड़े सुधार करने जा रहे हैं। इन राज्यों ने अपने-अपने यहाँ अब उद्योग और व्यापारियों को अपनी-अपनी सहूलियत के हिसाब से कच्चा माल सीधा किसान से खरीदने की अनुमति दे दी है।

ये भी पढ़े :  शिवराष्ट्र सेना की पदाधिकारी डॉ0 प्रियंका ने जरूरतमंदों के बीच किया राशन वितरित....

इसी प्रकार किसानों को भी यह छूट दे दी गयी है कि वे अपना कच्चा माल सरकारी मंडियों के इतर सीधा retailers या processors को बेच सकते हैं। इससे न सिर्फ किसानों को उनकी फसल का बेहतर दाम मिल सकेगा बल्कि, इस कदम से आढ़तियों पर किसानों की निर्भता भी कम होगी।

ये भी पढ़े :  शिवराष्ट्र सेना की पदाधिकारी डॉ0 प्रियंका ने जरूरतमंदों के बीच किया राशन वितरित....

अब स्पष्ट हो गया है कि चाहे वह व्यापार की बात हो या फिर अर्थव्यवस्था की, हर क्षेत्र में इस वर्ष कृषि उद्योग ही आर्थिक तौर पर भारत की डूबती नैया को बचा सकता है। आज भारत के सभी लोगों और अन्य देशों को घर बैठे खाने को मिल रहा है, तो वह दूर किसी खेत में पसीना बहाते किसान की मेहनत का ही फल है। कृषि उद्योग ही भारत का पेट पालता आया है और आज कोरोना के संकट में भी कृषि उद्योग ही देश को संभाले खड़ा है।

यह लेख ‘इस वर्ष 106 मिलियन टन गेहूं की पैदावर हुई है’, कोरोना काल में देश की इकॉनमी को किसान देंगे रफ्तार सर्वप्रथम TFIPOST पर प्रकाशित हुआ है

शेष TFI पर पढ़े …

Hot Topics

गोरखपुर : सगी बहन से शादी करने की जिद पर अड़ा भाई; यहां जाने क्या है माजरा !

उत्तर प्रदेश के गोरखपुर जिले में एक हैरान करने वाला मामला सामने आया है। यहां चिलुआताल में...

गोरखपुर:चिता पर रखे शव के जीवित होने पर मचा हड़कंप, रोकना पड़ा दाह संस्कार,

उत्तर प्रदेश के कुशीनगर में एक हैरान करने वाला मामला सामने आया है। यहां...

देवरिया:- थाने में ही महिला फरियादी के सामने हस्तमैथून करने वाला थानेदार फ़रार,25 हज़ार के इनाम की घोषणा

देवरिया के अंतर्गत आने वाले थाने भटनी में महिला फरियादी के सामने हस्तमैथुन करने वाली थानेदार के खिलाफ मुकदमा दर्ज...

Related Articles

गोरखपुर:- बोरे में भरकर लाश को ठिकाने लगाने ले जा रहे जीजा साले को पुलिस ने किया गिरफ्तार

बोरे में भरकर लाश को ठिकाने लगाने ले जा रहे जीजा साले को पुलिस ने किया गिरफ्तार गोरखपुर। दिल्ली...

खुशखबरी:-सहजनवा दोहरीघाट रेलवे ट्रैक को मंजूरी 1320 करोड़ स्वीकृत

गोरखपुर के लिहाज़ से एक बड़ी ख़बर प्राप्त हो रही है जिसमे यह बताया जा रहा है कि सहजनवा दोहरीघाट रेलवे ट्रैक...

दोषियों के खिलाफ होगी कड़ी कार्रवाई: सांसद कमलेश पासवान

दोषियों के खिलाफ होगी कड़ी कार्रवाई: सांसद बांसगांव लोकसभा के सांसद कमलेश पासवान ने कास्त मिश्रौली निवासी भाजपा नेता...
%d bloggers like this: