Friday, September 18, 2020

मुख्तार अंसारी के बाद भाई व सांसद अफजाल अंसारी की बिल्डिंग गिराने की तैयारी योगी सरकार,

ओवैसी शुद्ध रूप से स्वयं आंतकवादी है- बीजेपी विधायक सुरेंद्र सिंह

बलिया से बीजेपी विधायक सुरेंद्र सिंह हमेशा से ही अपने बयानों को लेकर चर्चा में रहते हैं. एक...

महराजगंज: दुकानें का चला चेकिंग अभियान, दुकानदारों में मचा हड़कंप…

महराजगंज: जनपद के कोल्हूई कस्बे में गुरुवार को केंद्र व राज्य सरकार के निर्देशानुसार श्रम परिवर्तन की टीम पहुंची जिससे हलचल मच...

रेलिंग तोड़ नदी में गिरी हंटर गाड़ी ड्राइवर का पता नहीं…

महराजगंज: फरेंदा रोड पर गुरुवार की देर शाम एक हंटर गाड़ी पुल की रेलिंग को तोड़ते हुए रोहिन नदी में गिर गई।...

गोरखपुर के धराधाम इंटरनेशनल करेगा वर्चुअल पेंटिंग प्रतियोगिता का आयोजन,28 है अन्तिम तिथि….आप भी लें प्रतिभाग

धराधाम इंटरनेशनल करेगा वर्चुअल पेंटिंग प्रतियोगिता का आयोजन -डॉ सौरभ पाण्डेय लोगों के भाग लेने के लिए अपील

सीएम योगी का आदेश, तीन महीने में पूरी हो भर्ति प्रक्रिया

उत्तर प्रदेश के सीएम योगी आदित्यनाथ ने भर्तीयों को लेकर बड़ा फैसला लिया है। सीएम योगी ने...

Download GT App from
Google Play

+91 7843810623 (WhatsApp)

बाहुबली मुख्तार अंसारी के दोनों बेटों की बिल्डिंग गिराने के बाद अब प्रशासन व एलडीए की नजर मुख्तार के भाई सांसद अफजाल अंसारी की इमारत पर लग गई है। जिलाधिकारी ने जियामऊ के गाटा संख्या 93 की जिस जमीन को निष्क्रान्त संपत्ति घोषित की है। अफजल अंसारी की बिल्डिंग भी उसी में बनी है। 

मुख्तार अंसारी के दोनों बेटों अब्बास अंसारी तथा उमर अंसारी की दोनों बिल्डिंग गिराने के बाद आप प्रशासन व एलडीए के अधिकारी अफजाल अंसारी की बिल्डिंग को गिराने की जोड़-तोड़ में लग गए हैं। जिलाधिकारी ने 14 अगस्त 2020 को जियामऊ के गाटा संख्या 93 की जमीन के सभी खातेदारों का नाम खारिज कर दिया है। जमीन को निष्क्रान्त घोषित कर दिया है।

ये भी पढ़े :  कांग्रेस विधायक अदिति सिंह ने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को बताया राजनीतिक गुरु

इसी जमीन मुख्तार अंसारी के बेटों की बिल्डिंग बनी थी। अब पता चला है की इसी गाटा संख्या 93 पर ही अफजाल अंसारी की भी बिल्डिंग है।  उनका भूखंड संख्या 23/14 बी है जो कि मुख्तार के बेटों की बिल्डिंग के ठीक पीछे है। डीएम ने 14 अगस्त को एलडीए उपाध्यक्ष को लिखे पत्र में इस जमीन को भी सुरक्षित कराने को कहा है।

ये भी पढ़े :  नए आदेश जारी करने बजाय यूपी में बिगड़े हालातों का जायजा लें सीएम, केवल बयानबाजी से नहीं होगा प्रदेश का भला : अखिलेश यादव

इसलिए कल नहीं गिराई जा सकी अफजाल की बिल्डिंग

मुख्तार अंसारी के दोनों बेटों के साथ ही अफजाल अंसारी की बिल्डिंग भी गिराई जानी थी, लेकिन इसमें एक कानूनी पेच फंस गया। जिलाधिकारी ने कार्रवाई के लिए भले ही लिखा था लेकिन अफजाल की बिल्डिंग की एनओसी नहीं निरस्त की। प्रशासन व नगर निगम ने अफजाल का नक्शा पास करने के लिए एलडीए को एनओसी दी थी। एनओसी के बाद 2007 में एलडीए ने अफजाल की बिल्डिंग का नक्शा पास किया। अफजाल अंसारी ने नक्शे का पैसा भी जमा किया और नियमानुसार निर्माण भी कराया। इसीलिए एलडीए कल इसे नहीं गिरा सका। जिला प्रशासन के एनओसी निरस्त करने पर यह भी गिरेगी। 

जिसे गाटा संख्या 93 को निष्क्रान्त घोषित किया उसमें बने हैं 50 से ज्यादा मकान
जिलाधिकारी ने जियामऊ के जिस गाटा संख्या 93 की पूरी जमीन को निष्क्रान्त संपत्ति घोषित की है उस पर करीब 50 और बिल्डिंग बनी है। कुछ बहुमंजिला भी हैं। इससे इन इमारतों पर भी खतरा मंडराने लगा है। इनकी जमीनों को भी प्रशासन कब्जे में ले सकता है।
 
32 लाख शुल्क जमा किया होता तो अब्बास व उमर की बिल्डिंग भी आसानी से न गिरती
मुख्तार अंसारी की बिल्डिंग भी गिराना एलडीए के लिए आसान ना होता अगर उनके दोनों बेटों ने नक्शा पास करने का शुल्क जमा कर दिया होता। प्राधिकरण ने इनका कंडीशनल नक्शा मंजूर किया था। दोनों को 32 लाख रुपए शुल्क जमा करना था। जो नहीं किया। नगर निगम से एनओसी भी नहीं मिली। इधर दोनों ने बिना नक्शा जारी हुए बिल्डिंग बना डाली।

Hot Topics

गोरखपुर : सगी बहन से शादी करने की जिद पर अड़ा भाई; यहां जाने क्या है माजरा !

उत्तर प्रदेश के गोरखपुर जिले में एक हैरान करने वाला मामला सामने आया है। यहां चिलुआताल में...

गोरखपुर:चिता पर रखे शव के जीवित होने पर मचा हड़कंप, रोकना पड़ा दाह संस्कार,

उत्तर प्रदेश के कुशीनगर में एक हैरान करने वाला मामला सामने आया है। यहां...

देवरिया:- थाने में ही महिला फरियादी के सामने हस्तमैथून करने वाला थानेदार फ़रार,25 हज़ार के इनाम की घोषणा

देवरिया के अंतर्गत आने वाले थाने भटनी में महिला फरियादी के सामने हस्तमैथुन करने वाली थानेदार के खिलाफ मुकदमा दर्ज...

Related Articles

महराजगंज: दुकानें का चला चेकिंग अभियान, दुकानदारों में मचा हड़कंप…

महराजगंज: जनपद के कोल्हूई कस्बे में गुरुवार को केंद्र व राज्य सरकार के निर्देशानुसार श्रम परिवर्तन की टीम पहुंची जिससे हलचल मच...

सीएम योगी का आदेश, तीन महीने में पूरी हो भर्ति प्रक्रिया

उत्तर प्रदेश के सीएम योगी आदित्यनाथ ने भर्तीयों को लेकर बड़ा फैसला लिया है। सीएम योगी ने...

‘धर्म परिवर्तन’ मामलें में योगी सरकार लेने जा रही है ये बहुत बड़ा फैसला

लव जिहाद और ‘धर्म परिवर्तन’ के मामलों में लगाम लगाने के लिए योगी सरकार ‘धर्म परिवर्तन’ पर...
%d bloggers like this: