Friday, September 24, 2021

करोड़ों रुपयों की धांधली में 147 ग्राम प्रधानों पर गिरेगी गाज, योगी सरकार ने शुरू की जांच…

Maharajganj: हड़हवा टोल प्लाजा पर भेदभाव हुआ तो होगा आन्दोलन।

फरेन्दा, महराजगंज: फरेन्दा नौगढ़ मार्ग पर स्थित हड़हवा टोल प्लाजा पर प्रबन्धक द्वारा कुछ विशेष लोगो को छोड़ बाकी सबसे टोल टैक्स...

Maharajganj: बृजमनगंज थाना क्षेत्र में चोरों के हौसले बुलंद, लोग पूछ रहे सवाल क्या कर रहे हैं जिम्मेदार

बृजमनगंज, महाराजगंज. थाना क्षेत्र में पुलिस की निष्क्रियता के चलते चोरों के हौसले बुलंद है. जिसके कारण चोरी की घटनाएं बढ़ रही...

गोरखपुर:- बोरे में भरकर लाश को ठिकाने लगाने ले जा रहे जीजा साले को पुलिस ने किया गिरफ्तार

बोरे में भरकर लाश को ठिकाने लगाने ले जा रहे जीजा साले को पुलिस ने किया गिरफ्तार गोरखपुर। दिल्ली...

Maharajganj: औकात में रहना सिखो बेटा नहीं तो तुम्हारे घर में घुस कर मारेंगे-भाजपा आईटी सेल मंडल संयोजक, भद्दी भद्दी गालियां फेसबुक पर वायरल।

Maharajganj: महाराजगंज जनपद में भाजपा द्वारा नियुक्त धानी मंडल संयोजक का फेसबुक पर गाली-गलौज और धमकी वायरल। फेसबुक पर धानी मंडल संयोजक...

खुशखबरी:-सहजनवा दोहरीघाट रेलवे ट्रैक को मंजूरी 1320 करोड़ स्वीकृत

गोरखपुर के लिहाज़ से एक बड़ी ख़बर प्राप्त हो रही है जिसमे यह बताया जा रहा है कि सहजनवा दोहरीघाट रेलवे ट्रैक...

Download GT App from
Google Play

विज्ञापन के लिए संपर्क करें +91 7843810623 (WhatsApp)

प्रयागराज। उत्तर प्रदेश के प्रयागराज जिले में एक बार फिर से सरकारी धन में बड़े पैमाने पर बंदरबाट का मामला सामने आया है और करोड़ों रुपये के दुरुपयोग की शिकायत की गई है। 147 ग्राम प्रधानों द्वारा घोटाले की शिकायतें व साक्ष्य मिले हैं, जिसपर योगी सरकार ने जांच शुरू कर दी है। 15 जून तक इस जांच की रिपोर्ट आएगी और प्रधानों के अधिकार सीज किए जाने के साथ उन पर कानूनी कार्रवाई भी होना तय माना जा रहा है। याद दिला दें कि योगी सरकार के सत्तारूढ़ होने के बाद भी दर्जनों की संख्या में ग्राम प्रधानों पर कार्रवाई हुई थी और बड़े पैमाने पर धांधली सामने आई थी। अब उसी क्रम में बड़ा घोटाला समने आ रहा है।

ये भी पढ़े :  भाजपा ने यूपी विधानसभा उपचुनाव के लिए घोषित किये अपने प्रत्याशी, आज करेंगे नामांकन...

दूसरे गांव के लोगों को दे दी कॉलोनी

प्रयागराज जिले में जो सबसे ज्यादा शिकायतें और साक्ष्य आए हैं, उनमें दूसरे गांव के लोगों को कॉलोनी देने का मामला सामने आया है। अपात्रों को कॉलोनी देने और पात्रों को कमीशन ना देने के कारण कॉलोनी ना देने के खूब मामले प्रकाश में आए हैं। यानी अपनी ग्राम पंचायत के लोगों को कॉलोनियां न देकर दूसरे गांवों के लोगों को अपने यहां लाकर बसाया गया और कमीशन के लालत में यह पूरा खेल अधिकारियों के संरक्षण में फलता-फूलता रहा। फिलहाल शिकायतों के अनुसार 147 ग्राम पंचायतों के खिलाफ एक हजार से अधिक शिकायत व साक्ष्य मिल चुके हैं। जहां करोड़ों रुपये का दुरूपयोग और बंदरबाट हुआ है। सरकारी आवास योजनाओं पर 50 हजार रुपये से लेकर 60 हजार रुपये तक का कमीशन खाने के बाद अधिकारियों की मिली भगत से अपात्रों को कॉलोनियां दी गई हैं। यही आलम शौचालय योजना, पीएम आवास व ग्राम सभाओं में किए गए विकास कार्यों का भी है।

ये भी पढ़े :  PCS अफसर का बेटा पुलिस मुठभेड़ के बाद अरेस्ट, गर्लफ्रेंड को गिफ्ट देने के लिए लूटी थी कार....

गठित हुई 20 टीमें

प्रयागराज जिले में 147 ग्राम प्रधानों के विरुद्ध शिकायतों व साक्ष्य का जखीरा जिला पंचायतराज अधिकारी तक पहुंचने के बाद मामले की रिपोर्ट शासन को भेजी गई थी। योगी सरकार द्वरा जांच कर कड़ी कार्रवाई करने की स्वीकृति के बाद अब जांच टीमें गठित कर दी गई हैं। कुल 20 टीम गठित की गई हैं, जो सीधे डीपीआआरओ कार्यालय की रिपोर्ट करेंगी। जांच कमेटियां अपनी रिपोर्ट 15 जून तक हर हाल में सौंपी जाएंगी, जिसके बाद कार्रवाई का दौर शुरू होगा।

क्या बोले अधिकारी

147 ग्राम प्रधानों के खिलाफ जांच शुरू होने के बाद मीडिया से रूबरू हुए जिला पंचायतराज अधिकारी अनिल कुमार त्रिपाठी ने बताया कि बड़े स्तर पर गोलमाल करने की शिकायत व साक्ष्य सामने आए हैं। इसकी जांच के लिए 20 टीमें गठित की गई हैं। कुल 147 ग्राम प्रधानों के खिलाफ लगभग एक ही तरह की शिकायत आई है। जिसमें आवास योजना, पेय योजना, विकास कार्य, शौंचालय, आवास, शौचालय, सड़क, नलों का रीबोर, नाली, मनरेगा के तहत तालाबों की खुदाई आदि प्रमुख हैं। दोषियों के विरुद्ध कड़ी कार्रवाई की जाएगी। 15 जून तक जांच कमेटियों को हर हाल में रिपोर्ट देने को कहा गया है।

Hot Topics

गोरखपुर : सगी बहन से शादी करने की जिद पर अड़ा भाई; यहां जाने क्या है माजरा !

उत्तर प्रदेश के गोरखपुर जिले में एक हैरान करने वाला मामला सामने आया है। यहां चिलुआताल में...

गोरखपुर:चिता पर रखे शव के जीवित होने पर मचा हड़कंप, रोकना पड़ा दाह संस्कार,

उत्तर प्रदेश के कुशीनगर में एक हैरान करने वाला मामला सामने आया है। यहां...

देवरिया:- थाने में ही महिला फरियादी के सामने हस्तमैथून करने वाला थानेदार फ़रार,25 हज़ार के इनाम की घोषणा

देवरिया के अंतर्गत आने वाले थाने भटनी में महिला फरियादी के सामने हस्तमैथुन करने वाली थानेदार के खिलाफ मुकदमा दर्ज...

Related Articles

पूर्वांचल में मदद की परिभाषा बदलने का ऐतिहासिक कार्य कर रहे हैं युवा नेता पवन सिंह….

युवा नेता पवन सिंह ने मदद करने की परिभाषा पूरी तरह बदल दी है. उन्होंने मदद का दायरा इतना ज्यादा बढ़ा दिया...

स्वर्णकार समाज ने लोकसभा , विधानसभा में अपने प्रतिनिधित्व के लिए भरी हुँकार,जल्द प्रदेश व्यापी होगी सभा

स्वर्णकार समाज का स्वर लोकसभा एवं विधानसभाओं में मुखरित हो प्रतिनिधित्व सभी पंचायतों में हो इस विचार के साथ स्वर्णकार समाज...

यूपी में कई IPS बदले गए,दिनेश कुमार गोरखपुर के नए एसएसपी.

कई IPS के तबादले हुए जिसमे गोरखपुर के एसएसपी जोगेंद्र कुमार को झाँसी का नया डीआईजी बनाया...
%d bloggers like this: