Monday, October 18, 2021

कर्नल आशुतोष शर्मा से खौफ खाते थे आतंकी, वीरता के लिए दो बार मिल चुका है सम्मान…..

Mrj: अधिकरियो के रहमो-करम पर दबंगों द्वारा चकनाले की जमीन पर बिना मान्यता प्राप्त विद्यालय का किया जा रहा है संचालन, बच्चों का भविष्य...

Maharajganj/Dhani: युवा समाजसेवी अजय कुमार का कहना है कि धानी ब्लाक के अन्तर्गत एक विद्यालय साधु शरण गंगोत्री देवी लेदवा रोड बंगला...

साष्टांग प्रणाम यात्रा पे निकला बांसी से लेहड़ा मंदिर – भक्त रामशब्द लोधी

Maharajganj/ SiddharthNagar: बांसी क्षेत्र के अंतर्गत राम गोहार गाँव से रामशब्द लोधी ने लगातार तेरह वर्षों से नवमी में सष्टांग प्रणाम यात्रा...

Maharajganj: हड़हवा टोल प्लाजा पर भेदभाव हुआ तो होगा आन्दोलन।

फरेन्दा, महराजगंज: फरेन्दा नौगढ़ मार्ग पर स्थित हड़हवा टोल प्लाजा पर प्रबन्धक द्वारा कुछ विशेष लोगो को छोड़ बाकी सबसे टोल टैक्स...

Maharajganj: बृजमनगंज थाना क्षेत्र में चोरों के हौसले बुलंद, लोग पूछ रहे सवाल क्या कर रहे हैं जिम्मेदार

बृजमनगंज, महाराजगंज. थाना क्षेत्र में पुलिस की निष्क्रियता के चलते चोरों के हौसले बुलंद है. जिसके कारण चोरी की घटनाएं बढ़ रही...

गोरखपुर:- बोरे में भरकर लाश को ठिकाने लगाने ले जा रहे जीजा साले को पुलिस ने किया गिरफ्तार

बोरे में भरकर लाश को ठिकाने लगाने ले जा रहे जीजा साले को पुलिस ने किया गिरफ्तार गोरखपुर। दिल्ली...

Download GT App from
Google Play

विज्ञापन के लिए संपर्क करें +91 7843810623 (WhatsApp)

जम्मू कश्मीर के हंदवाड़ा में सेना और आतंकियों के बीच मुठभेड़ में सेना ने अपने दो अफसर समेत 5 जवानों को खो दिया। हंदवाड़ा एनकाउंट में भारतीय सेना के कर्नल, मेजर, दो जवान और एक जम्मू कश्मीर पुलिस का जवान शहीद हो गया। इस मुठभेड़ में दो आतंकियों को मार गिराया गया। इस मुठभेड़ में भारतीय सेना के 21 राष्ट्रीय राइफल्स के कमांडिंग ऑफिसर कर्नल आशुतोष शर्मा समेत पांच शहीद हो गए। बता दें, कर्नल आशुतोष शर्मा मूल रूप से उत्तर प्रदेश के बुलंदशहर जिले के निवासी थे। उनका जन्म खानपुर थाना क्षेत्र के गांव परवाना में हुआ था। कर्नल आशुतोष शर्मा की अगुआई में भारतीय सुरक्षाबलों ने आतंकियों के खिलाफ कई ऑपरेशनों को अंजाम दिया है और उन्हें सबक सिखाया है।

ये भी पढ़े :  यूपी में 73 के आकड़े तक नहीं पहुंच रही भाजपा, पार्टी में कई 'बड़ों' का भविष्य तय करेंगे नतीजे...

दो बार वीरता पुरस्कार से नवाजे जा चुके हैं कर्नल आशुतोष शर्मा

21 राष्ट्रीय राइफल्स यूनिट के कमांडिंग ऑफिसर रहे कर्नल आशुतोष शर्मा को साहस और वीरता के लिए दो बार वीरता पुरस्कार से नवाजा जा चुका है। शहीद आशुतोष कर्नल रैंक के ऐसे पहले कमांडिंग अफसर थे, जिन्होंने पिछले पांच साल में आतंकियों के साथ मुठभेड़ में अपनी जान गंवाई हो। इससे पहले जनवरी 2015 में कश्मीर घाटी में आतंकियों से लोहा लेने के दौरान कर्नल एमएन राय शहीद हो गए थे। इसके अलावा, उसी साल नवंबर में कर्नल संतोष महादिक भी आतंकियों के खिलाफ अभियान में शहीद हो गए थे।

ये भी पढ़े :  बिहार-एमपी के आईएएस कपल ने संभाली गोरखपुर शहर की कमान.....

आतंकियों को सबक सिखाने के लिए जाने जाते थे कर्नल शर्मा

‘हिंदुस्तान’ में छपी खबर के मुताबिक, सेना के अधिकारियों ने बताया कि कर्नल आशुतोष शर्मा काफी लंबे समय से गार्ड रेजिमेंट में रहकर घाटी में तैनात थे। कर्नल शर्मा आतंकियों को सबक सिखाने के लिए जाने जाते थे। वह आतंकवादियों के खिलाफ बहादुरी के लिए दो बार सेना मेडल से नवाजे जा चुके थे। जब एक आतंकी उनके जवानों की ओर अपने कपड़ों में ग्रेनेड लेकर बढ़ रहा था, तब आशुतोष शर्मा ने बहादुरी का परिचय देते हुए आतंकी को काफी नजदीक से गोली मारकर अपने जवानों की जान बचाई थी। इसमें जम्मू-कश्मीर पुलिस के जवान भी शामिल थे।आतंकी से अपने जवानों की जिंदगी बचाने के लिए उन्हें वीरता मेडल से सम्मानित किया गया था।

यूपी के बुलंदशहर में हुआ था जन्म

कर्नल आशुतोष शर्मा मूल रूप से उत्तर प्रदेश के बुलंदशहर जिले के रहने वाले थे। वह खानपुर थाना क्षेत्र के गांव परवाना में जन्मे थे। उनके शहीद होने की खबर मिलते ही पूरे गांव में शोक की लहर दौड़ पड़ी। बता दें, कर्नल शर्मा का परिवार फिलहाल जयपुर में रहता है। बुलंदशहर के गांव परवाना में रहने वाले ग्रामीणों ने बताया कि शहीद कर्नल आशुतोष शर्मा 15 साल पूर्व माता पिता संग जयपुर में जाकर बस गए थे। उन्होंने इंटर तक की पढ़ाई बुलंदशहर डीएवी इंटर कॉलेज से की थी। शहीद कर्नल के चचेरे भाई ने बताया कि बुलंदशहर के पैतृक गांव में ही उनका अंतिम संस्कार किया जाएगा। उनका बचपन भी यहीं बीता है। चचेरे भाई सुनील पाठक ने बताया कि बुलंदशहर प्रशासन ने उन्हें एक पास जारी कर दिया है। इसकी मदद से वह पार्थिव शरीर को लेने के लिए जयपुर रवाना होंगे।

Hot Topics

गोरखपुर : सगी बहन से शादी करने की जिद पर अड़ा भाई; यहां जाने क्या है माजरा !

उत्तर प्रदेश के गोरखपुर जिले में एक हैरान करने वाला मामला सामने आया है। यहां चिलुआताल में...

गोरखपुर:चिता पर रखे शव के जीवित होने पर मचा हड़कंप, रोकना पड़ा दाह संस्कार,

उत्तर प्रदेश के कुशीनगर में एक हैरान करने वाला मामला सामने आया है। यहां...

देवरिया:- थाने में ही महिला फरियादी के सामने हस्तमैथून करने वाला थानेदार फ़रार,25 हज़ार के इनाम की घोषणा

देवरिया के अंतर्गत आने वाले थाने भटनी में महिला फरियादी के सामने हस्तमैथुन करने वाली थानेदार के खिलाफ मुकदमा दर्ज...

Related Articles

पूर्वांचल में मदद की परिभाषा बदलने का ऐतिहासिक कार्य कर रहे हैं युवा नेता पवन सिंह….

युवा नेता पवन सिंह ने मदद करने की परिभाषा पूरी तरह बदल दी है. उन्होंने मदद का दायरा इतना ज्यादा बढ़ा दिया...

स्वर्णकार समाज ने लोकसभा , विधानसभा में अपने प्रतिनिधित्व के लिए भरी हुँकार,जल्द प्रदेश व्यापी होगी सभा

स्वर्णकार समाज का स्वर लोकसभा एवं विधानसभाओं में मुखरित हो प्रतिनिधित्व सभी पंचायतों में हो इस विचार के साथ स्वर्णकार समाज...

यूपी में कई IPS बदले गए,दिनेश कुमार गोरखपुर के नए एसएसपी.

कई IPS के तबादले हुए जिसमे गोरखपुर के एसएसपी जोगेंद्र कुमार को झाँसी का नया डीआईजी बनाया...
%d bloggers like this: