Saturday, July 31, 2021

राम मंदिर शिलान्यास के मुहूर्त से खुश नहीं हैं शंकराचार्य स्वरूपानंद

गोरखपुर के नवोदित कलाकारो से सजी फ़िल्म ‘ऑक्सीजन ‘के अभिनव प्रयास की खूब हो रही चर्चा

नवोदित कलाकारों को लेकर डॉ. सौरभ पाण्डेय की फ़िल्म 'ऑक्सीजन 'के अभिनव प्रयास ने रचा इतिहास

बड़हलगंज के बाबा जलेश्वरनाथ मंदिर के पोखरे का 98.5 लाख से होगा सुन्दरीकरण।

बड़हलगंज के बाबा जलेश्वरनाथ मंदिर के पोखरे का 98.5 लाख से होगा सुन्दरीकरण। ...

Maharajganj: प्राथमिक विद्यालय हो रहे मरम्मत कार्य में घटिया तरीके का किया जा रहा है प्रयोग

Maharajganj/Dhani: प्राथमिक विद्यालय हो रहें मरम्मत कार्य में अत्यन्त घटिया किस्म के मसाले व देशी बालू का अधिकता और सिमेन्ट नाम मात्र...

Maharajganj: नालियों के टूट जाने और समय से सफाई न होने से लोग हो रहे परेशान, जांच कर सम्बन्धित कर्मचारियों पर होगी कार्रवाई –...

महाराजगंज/धानी: महाराजगंज जनपद के धानी ब्लाक के अधिकारी भूल चूके हैं अपनी जिम्मेदारी। ग्राम सभा पुरंदरपुर के टोला केवटलिया में नाली टूट...

Maharajganj: दबंग पंचायत मित्र द्वारा किया जा रहा है अवैध नाली का निर्माण।

महराजगंज- फरेंदा ब्लॉक के अंतर्गत ग्राम सभा पिपरा तहसीलदार में पंचायत मित्र द्वारा अपने व्यक्तिगत नाली का निर्माण ग्राम सभा के मुख्य...

Download GT App from
Google Play

विज्ञापन के लिए संपर्क करें +91 7843810623 (WhatsApp)

शंकराचार्य स्वरूपानंद सरस्वती ने राम मंदिर की तिथि को लेकर प्रतिक्रिया दी। -फाइल फोटो।

  • स्वरूपानंद सरस्वती ने कहा- हम राम भक्त हैं, मंदिर कोई भी बनाए, हमें खुशी होगी
  • शंकराचार्य ने कहा- राम मंदिर निर्माण के लिए शुभ तिथि और शुभ मुहूर्त होना चाहिए

अयोध्या में 5 अगस्त को राम मंदिर निर्माण के शिलान्यास की तारीख तय कर दी गई है। लेकिन, अब मंदिर निर्माण के शुभ समय को लेकर शंकराचार्य स्वरूपानंद सरस्वती ने सवाल खड़े कर दिए हैं। शंकराचार्य ने मंदिर के भूमि पूजन के समय को अशुभ बताया है। उन्होंने कहा कि हम राम भक्त हैं। मंदिर कोई भी बनाए- हमें खुशी होगी लेकिन मंदिर निर्माण के लिए शुभ तिथि और शुभ मुहूर्त होना चाहिए। स्वरूपानंद ने कहा कि अगर मंदिर जनता के पैसे से बनना है तो जनता से राय लेना चाहिए

ये भी पढ़े :  उद्धव ठाकरे की कुर्सी पर छाया कोरोना का ग्रहण, CM पद बचाने के 2 विकल्प

अयोध्या में मंदिर के शिलान्यास को लेकर संतों के बीच छोटी-मोटी तीखी प्रक्रिया देखने को मिली है। अयोध्या के संत समाज ने स्वरूपानंदजी को चुनौती तक दे डाली, ये तक कह डाला कि शास्त्रार्थ ज्ञान 5 अगस्त को आकर सिद्ध करें। शंकराचार्य ने कहा कि मंदिर निर्माण के लिए शताब्दियों से आंदोलन चला आ रहा है। वे खुद कई बार जेल गए हैं। जिस तरह से अब शिलान्यास के लिए अशुभ समय क्यों चुना गया, ये समझ से परे है। 

ये भी पढ़े :  पाकिस्तानी नागरिक ने खुद को भारतीय बताते हुए बनवा लिए आधार कार्ड और पैन कार्ड

शंकराचार्य स्वामी स्वरूपानंद सरस्वती ने कहा कि अयोध्या में राम मंदिर का निर्माण कंबोडिया के अंकोरवाट मंदिर की तर्ज पर होना चाहिए। उन्होंने कहा कि पहले चालुक्य नरेशों का राज वहां था। 11वीं शताब्दी में इन नरेशों ने वहां पर एक भव्य मंदिर का निर्माण कराया था। मंदिर एक बार बनना है, इसलिए इसकी विशालता और भव्यता का ध्यान रखा जाना जरूरी है। राजीव गांधी और अशोक सिंघल के रिश्ते ने अयोध्या में राम मंदिर की जमीन की राह तैयार की। मंदिर का निर्माण का जिम्मा योग्य व्यक्तियों के हाथ में होना चाहिए। 

अंकोरवाट: सबसे बड़ा धार्मिक स्थल
अंकोरवाट कंबोडिया में दुनिया का सबसे बड़ा धार्मिक स्मारक है। जो करीब 162.6 हेक्टेयर में फैला है। इसे मूल रूप से खमेर साम्राज्य में भगवान विष्णु के एक हिंदू मंदिर के रूप में बनाया गया था। मी कांग नदी के किनारे सिमरिप शहर में बना यह मंदिर आज भी संसार का सबसे बड़ा हिंदू मंदिर है। यह मन्दिर मेरु पर्वत का भी प्रतीक है। इसकी दीवारों पर भारतीय धर्म ग्रंथों के प्रसंगों का चित्रण है।

Hot Topics

गोरखपुर : सगी बहन से शादी करने की जिद पर अड़ा भाई; यहां जाने क्या है माजरा !

उत्तर प्रदेश के गोरखपुर जिले में एक हैरान करने वाला मामला सामने आया है। यहां चिलुआताल में...

गोरखपुर:चिता पर रखे शव के जीवित होने पर मचा हड़कंप, रोकना पड़ा दाह संस्कार,

उत्तर प्रदेश के कुशीनगर में एक हैरान करने वाला मामला सामने आया है। यहां...

देवरिया:- थाने में ही महिला फरियादी के सामने हस्तमैथून करने वाला थानेदार फ़रार,25 हज़ार के इनाम की घोषणा

देवरिया के अंतर्गत आने वाले थाने भटनी में महिला फरियादी के सामने हस्तमैथुन करने वाली थानेदार के खिलाफ मुकदमा दर्ज...

Related Articles

यूपी में जिला पंचायत अध्यक्ष के बाद अब चुने जाएंगे ब्लॉक प्रमुख, 8 को नामांकन, 10 जुलाई को मतदान

ब्लॉक प्रमुख पद के लिए 8 जुलाई को दिन में 11 बजे से शाम 3 बजे तक नामांकन पत्र दाखिल किए जा...

मोदी कैबिनेट में जल्‍द बड़ा फेरबदल, सिंधिया और वरुण गांधी सहित इन चेहरों को मिल सकती है जगह

टाइम्‍स नाउ की खबर के मुताबिक, मोदी कैबिनेट में जल्‍द फेरबदल का ऐलान हो सकता है। इस बार कई युवा चेहरों को...

अब दिल्ली में LG होंगे ‘सरकार’ केंद्र सरकार ने जारी की अधिसूचना, हो सकता है बवाल

दिल्ली में राष्ट्रीय राजधानी राज्यक्षेत्र शासन अधिनियम (NCT) 2021 को लागू कर दिया गया है. इस अधिनियम में शहर की चुनी हुई...
%d bloggers like this: