Sunday, April 18, 2021

काफी दूर तक जा सकती है चिदंबरम के खिलाफ जांच की आंच ….

UP: पंचायत चुनाव में पैसा बांट रहे थे BJP के पूर्व MLA के भाई, रंगे हाथ पकड़े गए

पूर्व भाजपा विधायक अवनीन्द्र नाथ द्विवेदी उर्फ महंत दूबे के छोटे भाई व पूर्व प्रधान सत्येन्द्र नाथ द्विवेदी उर्फ राजू द्विवेदी को...

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ हुए कोरोना पॉजिटिव

लखनऊ उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ हुए कोरोना पॉजिटिव योगी आदित्यनाथ ने ट्वीट कर दी...

पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव कोरोना पॉजिटिव          

गोरखपुर टाइम्स ब्रेकिंग :-    अखिलेश यादव कोरोना पॉजिटिव               अभी-अभी मेरी कोरोना टेस्ट की रिपोर्ट पॉज़िटिव आई है। मैंने...

महापौर हुये कोरोना पॉजिटिव,घर मे हुए आइसोलेट

महापौर हुये कोरोना पॉजिटिव,घर मे हुए आइसोलेट          गोरखपुर : महापौर सीताराम जायसवाल ने...

गोरखपुर :- आरपीएम के छात्र प्रवीण ने बढ़ाया ज़िले का मान,SDM बनकर करेंगें प्रदेश की सेवा

प्रदेश की सर्वश्रेष्ठ परीक्षाओं में से एक उत्तर प्रदेश लोक सेवा आयोग 2020 की परीक्षा का परिणाम लोक सेवा आयोग के द्वारा...

Download GT App from
Google Play

विज्ञापन के लिए संपर्क करें +91 7843810623 (WhatsApp)

देश-विदेश में स्थित हजारों करोड़ रुपये की संपत्ति के सबूत लेटर रोगेटरी भेजकर उन देशों से दस्तावेज मंगाए गए हैं। …

पूर्व वित्तमंत्री पी चिदंबरम के खिलाफ जांच में ‘बात निकली है तो दूर तलक जाएगी’ की पंक्ति सटीक साबित होती दिख रही है। ईडी और सीबीआइ के दावे पर भरोसा करें तो उनके पास सिर्फ आइएनएक्स मीडिया (जिस मामले में गिरफ्तारी हुई है) की नहीं, बल्कि चिदंबरम की देश-विदेश में फैली हजारों करोड़ रुपये की संपत्ति भी जांच के दायरे में है। एफआइपीबी क्लीयरेंस की ही लें, तो आइएनएक्स मीडिया और एयरसेल मैक्सिस डील के अलावा चार अन्य मामलों में चिदंबरम की भूमिका की जांच की जा रही है।

देश-विदेश में हजारों करोड़ रुपये की संपत्ति
ईडी और सीबीआइ का कहना है कि जांच शुरू होने के बाद से ही अग्रिम जमानत पर चल रहे पी चिदंबरम और उनके बेटे कार्ति चिदंबरम ने कभी पूछताछ में सहयोग नहीं किया। देश-विदेश में स्थित हजारों करोड़ रुपये की संपत्ति के सबूत लेटर रोगेटरी भेजकर उन देशों से दस्तावेज मंगाए गए हैं। इसके अलावा जांच के सिलसिले में मारे छापे गए दौरान जब्त किये गए ईमेल, हार्ड डिस्क और अन्य दस्तावेजों में मनी लांड्रिंग से जुड़े अहम दस्तावेज मिले हैं। इन दस्तावेजों के बारे में चिदंबरम से पूछताछ जरूरी है।

एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा कि लगभग डेढ़ साल से एजेंसियां उनसे पूछताछ का इंतजार कर रही है। वे किसी भी कीमत पर पूछताछ के मौके को गंवाने की स्थिति में नहीं हैं। यही कारण है कि सीबीआइ और ईडी की टीम न सिर्फ लगातार चिदंबरम को ढूंढती रही, बल्कि ऐतिहात के तौर पर उनके खिलाफ लुक आउट सर्कुलर भी जारी कर दिया। ताकि वे देश छोड़कर बाहर नहीं जा सकें।

ये भी पढ़े :  CTET परीक्षा में सेंधमारी:UP STF ने गोरखपुर में पकड़ा सॉल्वर।
ये भी पढ़े :  बड़ी खबर :- कंगना रनौत के घर के पास चली गोली, बोलीं- डराने की कोशिश

कार्ति चिदंबरम की देश-विदेश में कई मुखौटा कंपनियां
ईडी के उच्च पदस्थ सूत्रों के अनुसार रिश्वत की रकम लेने के लिए कार्ति चिदंबरम ने देश-विदेश में कई मुखौटा कंपनियां बना रखी थी। उन्होंने दावा किया कि वित्तमंत्री के रूप में पी चिदंबरम विभिन्न कंपनियों की गैरकानूनी मदद करते थे, बदले में मुखौटा कंपनियों में रिश्वत की रकम जमा करा दी जाती थी। ईडी ने दावा किया कि ऐसी ही एक मुखौटा कंपनी के खाते में 300 करोड़ रुपये से जमा कराए गए थे। मुखौटा कंपनियों के मार्फत काम करने के तरीके को इस बात से समझा जा सकता है कि एक मुखौटा कंपनी के सभी शेयरहोल्डर और निदेशकों ने अपने शेयर को कार्ति चिदंबरम की बेटी के नाम पर स्थानांतरित करने की वसीयत लिख रखी थी।

पनामा पेपर्स में भी आया है कार्ति की मुखौटा कंपनी का नाम
ईडी ने दावा किया है कि कार्ति चिदंबरम की एक मुखौटा कंपनी में ब्रिटिश वर्जिन आइलैंड स्थित एक कंपनी से बड़ी रकम जमा कराई गई थी। ईडी के अनुसार ब्रिटिश वर्जिन आइलैंड स्थित इस कंपनी का नाम पनामा पेपर्स में भी आया है। एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा कि कार्ति

और पी चिदंबरम के विदेश स्थित दो दर्जन से अधिक बैंक खाते भी मिले हैं, जिनमें करोड़ की रकम जमा कराई गई थी। ईडी के अनुसार कालेधन की रकम का इस्तेमाल पी चिदंबरम और कार्ति चिदंबरम अपने निजी खर्चे में भी करते रहे हैं और इसके भी सबूत हैं। इसके अलावा चिदंबरम के मलेशिया, ब्रिटेन और स्पेन में कई संपत्तियों की जानकारी मिली है। स्पेन में एक टेनिस क्लब और मलेशिया में एक मकान है। जबकि ब्रिटेन में बड़ी कोठी समेत लगभग एक दर्जन अचल संपत्तियां हैं। इन संपत्तियों की कीमत हजारों करोड़ रुपये हैं।

ये भी पढ़े :  बड़ी खबर :- कंगना रनौत के घर के पास चली गोली, बोलीं- डराने की कोशिश
ये भी पढ़े :  आईये जानते है ....क्या है गणतंत्र दिवस , और क्यू मनाते है 26 जनवरी..

आइएनएक्स मीडिया के अलावा इन मामलों में भी चिदंबरम की भूमिका संदिग्ध
सीबीआइ के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा कि चिदंबरम के खिलाफ फिलहाल एयरसेल मैक्सिल और आइएनएक्स मीडिया के मामले में जांच चल रही है। इसके अलावा डियागो स्कॉटलैंड, कटारा होल्डिंग्स, एस्सार स्टील और एलफोर्ज में एफआइपीबी क्लीयरेंस में भी चिदंबरम की भूमिका संदेह के घेरे में है और जल्द ही इन सभी मामलों में अलग-अलग केस दर्ज जांच शुरू की जा सकती है।

Hot Topics

गोरखपुर : सगी बहन से शादी करने की जिद पर अड़ा भाई; यहां जाने क्या है माजरा !

उत्तर प्रदेश के गोरखपुर जिले में एक हैरान करने वाला मामला सामने आया है। यहां चिलुआताल में...

गोरखपुर:चिता पर रखे शव के जीवित होने पर मचा हड़कंप, रोकना पड़ा दाह संस्कार,

उत्तर प्रदेश के कुशीनगर में एक हैरान करने वाला मामला सामने आया है। यहां...

देवरिया:- थाने में ही महिला फरियादी के सामने हस्तमैथून करने वाला थानेदार फ़रार,25 हज़ार के इनाम की घोषणा

देवरिया के अंतर्गत आने वाले थाने भटनी में महिला फरियादी के सामने हस्तमैथुन करने वाली थानेदार के खिलाफ मुकदमा दर्ज...

Related Articles

यूपी बोर्ड 2021: हाईस्कूल और इंटर की परीक्षाएं आठ मई से, स्कीम जारी

लखनऊ. यूपी बोर्ड 2021 के हाईस्कूल और इंटर की परीक्षाएं अब 24 अप्रैल की जगह आठ...

बुजुर्ग माता-पिता की सेवा नहीं की तो संपत्ति से होंगे बेदखल

लखनऊ. उत्तर प्रदेश की योगी सरकार अब बुजुर्ग माता-पिता के हित में नया कानून लाने की तैयारी में है। योगी सरकार अब...

यूपी: चार चरण में होंगे पंचायत चुनाव, 15 अप्रैल को होगी पहले फेज की वोटिंग, 2 मई को मतगणना

उत्तर प्रदेश में निर्वाचन आयोग ने आज पंचायत चुनाव की तारीखों का एलान कर दिया है। उत्तर प्रदेश के 75 जिलों में...
%d bloggers like this: