Monday, September 27, 2021

किसान के बेटे ने कलेक्टर बनकर शुरू किया खेतों का ‘रास्ता खोलो अभियान’…

Maharajganj: हड़हवा टोल प्लाजा पर भेदभाव हुआ तो होगा आन्दोलन।

फरेन्दा, महराजगंज: फरेन्दा नौगढ़ मार्ग पर स्थित हड़हवा टोल प्लाजा पर प्रबन्धक द्वारा कुछ विशेष लोगो को छोड़ बाकी सबसे टोल टैक्स...

Maharajganj: बृजमनगंज थाना क्षेत्र में चोरों के हौसले बुलंद, लोग पूछ रहे सवाल क्या कर रहे हैं जिम्मेदार

बृजमनगंज, महाराजगंज. थाना क्षेत्र में पुलिस की निष्क्रियता के चलते चोरों के हौसले बुलंद है. जिसके कारण चोरी की घटनाएं बढ़ रही...

गोरखपुर:- बोरे में भरकर लाश को ठिकाने लगाने ले जा रहे जीजा साले को पुलिस ने किया गिरफ्तार

बोरे में भरकर लाश को ठिकाने लगाने ले जा रहे जीजा साले को पुलिस ने किया गिरफ्तार गोरखपुर। दिल्ली...

Maharajganj: औकात में रहना सिखो बेटा नहीं तो तुम्हारे घर में घुस कर मारेंगे-भाजपा आईटी सेल मंडल संयोजक, भद्दी भद्दी गालियां फेसबुक पर वायरल।

Maharajganj: महाराजगंज जनपद में भाजपा द्वारा नियुक्त धानी मंडल संयोजक का फेसबुक पर गाली-गलौज और धमकी वायरल। फेसबुक पर धानी मंडल संयोजक...

खुशखबरी:-सहजनवा दोहरीघाट रेलवे ट्रैक को मंजूरी 1320 करोड़ स्वीकृत

गोरखपुर के लिहाज़ से एक बड़ी ख़बर प्राप्त हो रही है जिसमे यह बताया जा रहा है कि सहजनवा दोहरीघाट रेलवे ट्रैक...

Download GT App from
Google Play

विज्ञापन के लिए संपर्क करें +91 7843810623 (WhatsApp)

देश की तरक्की का रास्ता खेतों से होकर गुजरता है, मगर असल में वर्षों से यह रास्ता ही बंद हो और खुद धरतीपुत्रों को खेत में आवाजाही में दिक्कतों का सामना करना पड़ता हो तो भला देश और किसान की तरक्की कैसे संभव? हालांकि राजस्थान के नागौर जिले के किसानों को इस समस्या से मुक्ति मिलनी शुरू हो गई है। यह सब यहां के नवनिर्वाचित जिला कलेक्टर डॉ. जितेन्द्र कुमार सोनी के अनूठे अभियान का नतीजा है।

नागौर जिला कलेक्टर डॉ. जितेन्द्र कुमार सोनी का साक्षात्कार

नागौर जिला कलेक्टर डॉ. जितेन्द्र कुमार सोनी का साक्षात्कार

वन इंडिया हिंदी से बातचीत में नागौर जिला कलेक्टर डॉ. जितेन्द्र कुमार सोनी ने बताया कि जब मैं जिला कलेक्टर तो बना मैंने महसूस किया कि पुलिस थानों में राजस्व संबंधी मामलों की ढेरों शिकायतें हैं। इनमें से सबसे ज्यादा शिकायत से खेत का रास्ता बंद होने से संबंधित थी। लोगों ने जमीन पर अति​क्रमण करके खेत का रास्ता बंद कर ​रखा था। उन इलाकों में सड़कें तक नहीं थी। किसानों को खेतों या घरों में जाने के लिए दूसरे रास्तों से अतिरिक्त दूरी तय करनी पड़ती थी।

ये भी पढ़े :  कोरोना के खौफ से बुजुर्ग दंपती ने कर ली खुदकुशी, घर के बच्‍चों को बचाने के लिए उठाया ये कदम....
क्या है 'रास्ता खोलो अभियान'

क्या है ‘रास्ता खोलो अभियान’

जयपुर से छह जुलाई को डॉ. जितेन्द्र कुमार सोनी का ट्रांसफर नागौर जिला कलेक्टर के पद पर हुआ। यहां कार्यभार संभालते ही सोनी ने राजस्व अधिकारियों की बैठक ली और तय किया कि किसानों को रास्ते संबंधी समस्या से निजात दिलाने के लिए जिले में ‘रास्ता खोलो अभियान’ चलाएंगे। 31 जुलाई ये यह अभियान शुरू किया गया। नागौर जिला प्रशासन की टीम पंचायत समिति, ग्राम पंचायत व संबंधित थाना पुलिस के साथ मौके पर पहुंचकर रास्ते खुलवाए। अब तक करीब 38 गांव-ढाणियों से रास्ते खुलवाए जा चुके हैं।

ये भी पढ़े :  शारीरिक संबंधों से जुड़े कुछ ऐसे सच जिसे जान उड़ जायेंगे आपके भी होश ...
रास्ते का नाम बेटियों के नाम पर

रास्ते का नाम बेटियों के नाम पर

नागौर जिले कलेक्टर का यह नवाचार सिर्फ अति​क्रमण हटाकर रास्ता खोलने तक ही सीमित नहीं है बल्कि उस रास्ते का नामकरण भी अनूठे ढंग से किया जा रहा है। ताकि स्थानीय लोगों की भावनाएं उससे जुड़े सके। इसके लिए रास्ते का नाम उल्लेखनीय कार्य करने वाली बहू-बेटियों के नाम पर रखे जा रहे हैं। 1 अगस्त को नागौर जिले मूंडवा जिले की कुचेरा ग्राम पंचायत में रास्ता खोलकर उसका नाम दसवीं कक्षा की टॉपर ‘दिव्या शर्मा बिटिया गौरव’ रखा गया। इसी तरह से 31 जुलाई को किल्डोलिया मार्ग का नाम सुमन के नाम रखा है। रास्ते के नए नामकरण के साथ ही यहां पर पटिटका लगाकर उस पर रास्ते का विवरण लिखा हुआ है।

 आईएएस डॉ. जितेन्द्र कुमार सोनी की जीवनी

आईएएस डॉ. जितेन्द्र कुमार सोनी की जीवनी

डॉ. जितेन्द्र कुमार सोनी किसान के बेटे हैं। राजस्थान के हनुमानगढ़ के छोटे से गांव धन्नासर में मोहन लाल और रेशमा देवी सोनी के घर में 9 नवम्बर 1981 को जन्मे डॉ. जितेन्द्र कुमार सोनी भारत देश के उन चुनिंदा अफसरों में शामिल हैं जिनके दिमाग से उपजा हर आइडिया चर्चा का विषय बनता है। ‘रास्ता खोलो अभियान’ से पहले इन्होंने जालोर जिले में कलेक्टर रहते हुए नंगे पांव स्कूल जाते बच्चों के लिए चरण पादुका अभियान चलाकर 1,50,000 से अधिक छात्रों तक चरण पादुकाएं उपलब्ध करवाई थी।

ये भी पढ़े :  सांस को तड़प रहे पति को पत्नी ने मुंह से दी सांस, पत्नी की गोद में तोड़ दिया पति ने दम
 जब बचाई आठ लोगों की जान

जब बचाई आठ लोगों की जान

इसके अलावा IAS डॉ. सोनी को 2016 में जालोर में आई बाढ़ के दौरान 8 लोगों की जान बचाने के लिए उत्तम जीवन रक्षा पदक से भी नवाजा गया था। इन्हें सुशासन के लिए प्रौद्योगिकी के बेहतर इस्तेमाल के लिए भी जाना जाता है। दर्शनशास्त्र, राजनीति विज्ञान, पब्लिक पॉलिसी में एम.ए., बी.एस.सी, दर्शनशास्त्र में स्लेट, राजनीति विज्ञान में नेट-जे.आर.एफ., बी.एड, उर्दू में डिप्लोमा, सी.जी.एन.आर, राजनीति विज्ञान में पीएचडी की शिक्षा प्राप्त डॉ सोनी एक अच्छे काव्यकार भी हैं।

Hot Topics

गोरखपुर : सगी बहन से शादी करने की जिद पर अड़ा भाई; यहां जाने क्या है माजरा !

उत्तर प्रदेश के गोरखपुर जिले में एक हैरान करने वाला मामला सामने आया है। यहां चिलुआताल में...

गोरखपुर:चिता पर रखे शव के जीवित होने पर मचा हड़कंप, रोकना पड़ा दाह संस्कार,

उत्तर प्रदेश के कुशीनगर में एक हैरान करने वाला मामला सामने आया है। यहां...

देवरिया:- थाने में ही महिला फरियादी के सामने हस्तमैथून करने वाला थानेदार फ़रार,25 हज़ार के इनाम की घोषणा

देवरिया के अंतर्गत आने वाले थाने भटनी में महिला फरियादी के सामने हस्तमैथुन करने वाली थानेदार के खिलाफ मुकदमा दर्ज...

Related Articles

Maharajganj: औकात में रहना सिखो बेटा नहीं तो तुम्हारे घर में घुस कर मारेंगे-भाजपा आईटी सेल मंडल संयोजक, भद्दी भद्दी गालियां फेसबुक पर वायरल।

Maharajganj: महाराजगंज जनपद में भाजपा द्वारा नियुक्त धानी मंडल संयोजक का फेसबुक पर गाली-गलौज और धमकी वायरल। फेसबुक पर धानी मंडल संयोजक...

सिद्धार्थ पांडेय बने भाजपा मीडिया सम्‍पर्क विभाग के क्षेत्रीय संयोजक…

उत्‍तर प्रदेश में अगले साल होने वाले विधानसभा चुनावों की तैयारी में जुटी भाजपा संगठन को नए स्‍तर से मजबूत बनाने में...

शहीद के बेटे नीतीश 15 अगस्त को यूरोप महाद्वीप की सबसे ऊंची चोटी माउंट एलब्रुस पर फहराएंगे तिरंगा, लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला ने सौपा...

Gorakhpur: गोरखपुर के राजेन्द्र नगर के रहने वाले युवा पर्वतारोही नीतीश सिंह 15 अगस्त को यूरोप महाद्वीप की सबसे ऊंची चोटी माउंट...
%d bloggers like this: