Saturday, July 24, 2021

कुख्यात बदमाश के पीछे दौड़ी लेडी इंस्पेक्टर, शहर की सड़क पर मुठभेड़ की शंका से 40 मिनट दहशत मची….

पुलिस अधीक्षक द्वारा की गयी मासिक अपराध गोष्ठी में अपराधों की समीक्षा व रोकथाम हेतु दिये गये आवश्यक दिशा-निर्देश

Maharajganj: पुलिस अधीक्षक महराजगंज प्रदीप गुप्ता द्वारा आज दिनांक 17.07.2021 को पुलिस लाइन्स स्थित सभागार में मासिक अपराध गोष्ठी में कानून-व्यवस्था की...

शायर मुनव्वर राना के बोल, ‘दोबारा सीएम बने योगी तो यूपी छोड़ दूंगा’

लखनऊ: मशहूर शायर मुनव्वर राना एक बार फिर अपने बयान की वजह से सुर्खियों में हैं।उन्होंने कहा कि अगर योगी आदित्यनाथ दोबारा...

Maharajganj: CO सुनील दत्त दूबे द्वारा कुशल पर्यवेक्षण करने पर अपर पुलिस महानिदेशक जोन गोरखपुर ने प्रशस्ति पत्र से नवाजा।

Maharajganj/Farenda: सीओ फरेन्दा सुनील दत्त दूबे को थाना पुरन्दरपुर में नवीन बीट प्रणाली के क्रियान्वयन में कुशल पर्यवेक्षण करने पर अपर पुलिस...

विधायक विनय शंकर तिवारी किडनी की बीमारी से पीड़ित ग़रीब युवा के लिए बने मसीहा…

हाल ही में सोशल मीडिया के माध्यम से किडनी की बीमारी से पीड़ित व्यक्ति की मदद हेतु युवाओं के द्वारा अपील की...

महराजगंज जिले के फरेंदा थाने के अंतर्गत SBI कृषि विकास शाखा के सामने से मोटरसाइकिल चोरी

Maharajganj: महाराजगंज जिले के फरेंदा थाने के अंतगर्त मंगलवार को बृजमनगंज रोड पर भारतीय स्टेट बैंक कृषि विकास शाखा के ठीक...

Download GT App from
Google Play

विज्ञापन के लिए संपर्क करें +91 7843810623 (WhatsApp)

उत्तर प्रदेश में अलीगढ़ के थाना बन्नादेवी क्षेत्र में जीटी रोड पर गुरुवार दोपहर फिल्मों जैसा दृश्य था। कुख्यात बदमाश बलिया उर्फ वीरेंद्र को रोका तो उसने पुलिस कर्मियों पर कार चढ़ा दी। इससे एक कांस्टेबल घायल हो गया। पुलिस ने पीछा किया तो एक के बाद एक छह राहगीरों को भी टक्कर मार दी। इस दौरान महिला इंस्पेक्टर अरुणा राय ‘सिंघम’ बन गईं। हाथ में पिस्टल लेकर दौड़ते हुए पीछा किया, जिस पर उनके ऊपर भी तमंचा तान दिया। इसे सहयोगी सिपाही ने हाथ मारकर छीन लिया। बलिया को गिरफ्तार कर लिया गया है। सारसौल चौराहे का है मामला दोपहर एक बजे एसआइ पवन कुमार, अंकित और कांस्टेबल गौरव के साथ इंस्पेक्टर थाने से निकलीं तभी खैर के बिसारा निवासी बलिया की कार नजर आई। इसे रुकवाया और पूछताछ के लिए पुलिसकर्मी जीप से बाहर आए तो बलिया ने कार चढ़ाने की कोशिश की और भाग निकला। कार के पहिये से सिपाही गौरव का पैर जख्मी हो गया। एसआइ अंकित ने राहगीर की बाइक से पीछा किया। बाकी टीम जीप से पीछे लगी थी। इस दौरान दौड़ती कुख्यात की कार ने कई ढकेल को चपेट में ले लिया। सारसौल चौराहे के निकट कार जाम में फंस गई, तो बलिया उतर कर पैदल सेटेलाइट बस स्टैंड से होकर भागने लगा।
पिस्टल निकाल कर दी चेतावनी

इस पर पिस्टल इंस्पेक्टर भी दौड़ीं. उन्होंने बलिया को रुकने की चेतावनी दी, मगर वह रुका नहीं। स्टैंड से निकलते ही भीड़ ने उसे घेर लिया। इंस्पेक्टर उसका गिरहबान पकड़ ही रही थीं, तभी शातिर ने पिस्टल तान दी। कांस्टेबल गौरव ने इसे छीन लिया, अन्यथा अनर्थ हो सकता था।
मुठभेड़ की शंका से 40 मिनट दहशत स्थान: सारसौल चौराहा, समय: दोपहर करीब एक बजे। आगे कुख्यात बलिया और पिस्टल लिए पीछा करतीं इंस्पेक्टर अरुणा राय। ये नजारा चौंकाने वाला था, साथ ही दहशत भरा भी। बाजार में तो मानो अफरातफरी सी मच गई। डर यह था कि कहीं मुठभेड़ हो गई तो कहीं भीड़ भरे बाजार में कोई हताहत न हो जाए। गनीमत रही कि सारी शंका आशंकाओं के विपरीत बलिया पकड़ा गया। वहीं, 40 मिनट चली इस पूरी कार्रवाई में इंस्पेक्टर राय के हौंसले का हर कोई मुरीद हो गया। छीन ली पिस्टल शुरुआत में पुलिस को नहीं पता था कि सफेद रंग की सेंट्रो कार में है कौन। संदिग्ध नजर आने पर रुकने का इशारा दिया तो ढकेल, राहगीरों को टक्कर मारते हुए कार चौराहे की ओर बढ़ गई। पीछे पुलिस की जीप लगी थी। चौराहे से पहले ही जाम लगा देख कार रोककर अंदर बैठा बलिया पैदल भागने लगा। तभी जीप भी रुक गई और इंस्पेक्टर बन्नादेवी अरुणा राय सरकारी पिस्टल हाथ में लिए उसका पीछा करने लगीं। एसआइ पवन और कांस्टेबल गौरव भी साथ थे। कुछ दूर जाकर बलिया रुक गया, इंस्पेक्टर अरुणा पिस्टल लिए ठीक पीछे खड़ी थीं। इंस्पेक्टर को एक्शन मोड पर देख बलिया घबरा गया और उसने पिस्टल निकाल कर तान दी। दूरी महज एक फीट रही होगी। पिस्टल लोडेड थी और शातिर की अंगुली ट्रिगर पर, कुछ भी हो सकता था। अचानक कांस्टेबल गौरव ने हाथ मारकर पिस्टल छीन ली। बम कांड में चर्चित हुआ था बलिया खैर के बंटी और बलिया की रंजिश में अब तक कई घटनाएं हो चुकी हैं। महीने भर पहले ही इस पर खैर पुलिस ने मुकदमा कराया है। 2014 में बलिया का नाम बम कांड में आया था। बंटी भाई अपनी शादी के दिन स्कार्पियो में गांव लौट रहा था। खूनी रंजिश के चलते बंटी के परिवार को सुरक्षा मिली हुई थी। इसीलिए दो सुरक्षाकर्मी गाड़ी में थे। गांव के निकट स्कार्पियो पर देशी बम फेंका गया था। इस हमले में बलिया नामजद हुआ था। फरवरी- 15 में बलिया समेत पांच के खिलाफ गैंगस्टर की कार्रवाई हुई थी। पुलिस पर फायङ्क्षरग कर सरकारी असलाह लूटने के प्रयास के अलावा हमले, लूट समेत कई संगीन मुकदमे अलीगढ़ व दिल्ली में चल रहे हैं। 2012 में प्रशासन ने इसे जिला बदर किया था। एसएसपी आकाश कुलहरि ने बताया कि बलिया पेशेवर अपराधी है। खैर थाने से हिस्ट्रीशीटर है। इस पर मुकदमे दर्ज हैं। इंस्पेक्टर और उनकी टीम ने बहादुरी के साथ उसे धर दबोचा। मुकदमा दर्ज कर कार्रवाई की जा रही है।

ये भी पढ़े :  CM योगी से इंसाफ मांगने पैदल निकले परिजन, पुलिस ने रोका तो ट्रक के आगे लेटीं मां-बहन...

Hot Topics

गोरखपुर : सगी बहन से शादी करने की जिद पर अड़ा भाई; यहां जाने क्या है माजरा !

उत्तर प्रदेश के गोरखपुर जिले में एक हैरान करने वाला मामला सामने आया है। यहां चिलुआताल में...

गोरखपुर:चिता पर रखे शव के जीवित होने पर मचा हड़कंप, रोकना पड़ा दाह संस्कार,

उत्तर प्रदेश के कुशीनगर में एक हैरान करने वाला मामला सामने आया है। यहां...

देवरिया:- थाने में ही महिला फरियादी के सामने हस्तमैथून करने वाला थानेदार फ़रार,25 हज़ार के इनाम की घोषणा

देवरिया के अंतर्गत आने वाले थाने भटनी में महिला फरियादी के सामने हस्तमैथुन करने वाली थानेदार के खिलाफ मुकदमा दर्ज...

Related Articles

यूपी में कई IPS बदले गए,दिनेश कुमार गोरखपुर के नए एसएसपी.

कई IPS के तबादले हुए जिसमे गोरखपुर के एसएसपी जोगेंद्र कुमार को झाँसी का नया डीआईजी बनाया...

बड़े पैमाने पर हुआ सीओ का तबादला,125 सीओ किये गए इधर से उधर….

उत्तर प्रदेश में बड़े पैमाने पर सीओ यानी उपाधीक्षकों के तबादले किये गए।।125 उपाधीक्षकों का तबादला किया...

तंत्र-मंत्र के चक्कर में फंसी बहू, सिद्धि के लिए दे दी अपने ही ससुर की बलि

उत्तर प्रदेश के कौशांबी में तंत्र-मंत्र के चक्कर में फंस कर एक बहू ने अपने ही ससुर...
%d bloggers like this: