Sunday, October 17, 2021

कुशीनगर मस्जिद विस्‍फोट कांड : सेना में मेजर होने की धौंस देता रहा आरोपी, फर्राटेदार अंग्रेजी में फंस गई पुलिस…

Mrj: अधिकरियो के रहमो-करम पर दबंगों द्वारा चकनाले की जमीन पर बिना मान्यता प्राप्त विद्यालय का किया जा रहा है संचालन, बच्चों का भविष्य...

Maharajganj/Dhani: युवा समाजसेवी अजय कुमार का कहना है कि धानी ब्लाक के अन्तर्गत एक विद्यालय साधु शरण गंगोत्री देवी लेदवा रोड बंगला...

साष्टांग प्रणाम यात्रा पे निकला बांसी से लेहड़ा मंदिर – भक्त रामशब्द लोधी

Maharajganj/ SiddharthNagar: बांसी क्षेत्र के अंतर्गत राम गोहार गाँव से रामशब्द लोधी ने लगातार तेरह वर्षों से नवमी में सष्टांग प्रणाम यात्रा...

Maharajganj: हड़हवा टोल प्लाजा पर भेदभाव हुआ तो होगा आन्दोलन।

फरेन्दा, महराजगंज: फरेन्दा नौगढ़ मार्ग पर स्थित हड़हवा टोल प्लाजा पर प्रबन्धक द्वारा कुछ विशेष लोगो को छोड़ बाकी सबसे टोल टैक्स...

Maharajganj: बृजमनगंज थाना क्षेत्र में चोरों के हौसले बुलंद, लोग पूछ रहे सवाल क्या कर रहे हैं जिम्मेदार

बृजमनगंज, महाराजगंज. थाना क्षेत्र में पुलिस की निष्क्रियता के चलते चोरों के हौसले बुलंद है. जिसके कारण चोरी की घटनाएं बढ़ रही...

गोरखपुर:- बोरे में भरकर लाश को ठिकाने लगाने ले जा रहे जीजा साले को पुलिस ने किया गिरफ्तार

बोरे में भरकर लाश को ठिकाने लगाने ले जा रहे जीजा साले को पुलिस ने किया गिरफ्तार गोरखपुर। दिल्ली...

Download GT App from
Google Play

विज्ञापन के लिए संपर्क करें +91 7843810623 (WhatsApp)

कुशीनगर मस्जिद में विस्‍फोट मामले में पुलिस को सेना के एक रिटार्यड मेजर पर भी संदेह है।

तुर्कपट्टी थाना क्षेत्र के गांव बैरागी पट्टी मस्जिद में बारूदी विस्फोट कांड की जांच जैसे-जैसे आगे बढ़ रही है, नए-नए तथ्य भी उभर कर सामने आ रहे हैं। जिन आरोपितों की तलाश में आज पुलिस को मशक्कत करनी पड़ रही है उनमें से एक प्रमुख अशफाक घटना के समय मौके पर मौजूद था। सेना का यह कथित मेजर पुलिस का रुख दूसरी तरफ मोडऩे में तो सफल रहा। उसने अधिकारियों को भी अपने रुतबे में ले लिया था। घटना के दूसरे दिन एटीएस की जांच-पड़ताल में कथित मेजर की भी भूमिका पाई गई।

यस सर, जी सर कहते रहे अधिकारी…..

अगर पुलिस और गुप्तचर विभाग घटना की संवेदनशीलता को भांप कर सतर्क रही होती तो आज आरोपित उनके हाथों से दूर नहीं होते। सेना में मेजर होने की धौंस व अंग्रेजी में फर्राटे से बात करने के कारण पुलिस के बड़े अधिकारी अशफाक से प्रभावित नजर आए, तो स्थानीय पुलिस अशफाक की हर बात पर यस सर, जी सर कर रही थी। पुलिस अधिकारी इस कदर प्रभाव में थे कि अशफाक से सामान्य पूछताछ का साहस नहीं जुटा पा रहे थे। हालांकि एक वरिष्ठ प्रशासनिक अधिकारी ने अशफाक की आईडी मांगी तो वह दिखाने की बजाय उनसे बहस करने लगा।

रिटायर्ट अधिकारी है अशफाक

प्रशासनिक अधिकारी ने उसकी शैली को अनुचित बताते हुए फटकार लगाई। हालांकि बहस में अशफाक ने यह स्वीकार किया कि वह 2017 में ही रिटायर्ड है और आइडी हैदराबाद में जमा है। इसके बाद से अशफाक फरार चल रहा है। पूरे प्रकरण में फौरी तौर पर जिले की पुलिस टीम की लापरवाही सामने आई है। यदि पुलिस ने मामले की गंभीरता समझी होती तो एक अशफाक के पकड़े जाने के साथ ही अब तक पूरी साजिश उजागर हो चुकी होती। यह तो फारेंसिक व बम निरोधक दस्ते की देन है कि विस्फोट के दूसरे दिन मौके पर पहुंच कर बारूदी विस्फोट होने की पुष्टि की। मस्जिद में हुआ विस्फोट दस किलो बारूद का था। इसकी गूंज डेढ़ किलोमीटर की परिधि में सुनी गई थी।

ये भी पढ़े :  मिस यूपी मेगा स्टार के फाइनल में पहुंची कुशीनगर की संस्कृति...
ये भी पढ़े :  कुशीनगर एसडीएम ने उड़ा दी कानून की धज्जियां,बुलाई जबरदस्त डांस पार्टी बिना मास्क बिना डिस्टेंसिंग के मनाया जश्न....

10 किलो से अधिक था विस्फोटक…..

फोरेंसिक जांच के बाद विशेषज्ञों ने मस्जिद में 10 किलो से अधिक विस्फोटक होने का अनुमान लगाया है। इसीलिए विस्फोट इतना जबरदस्त हुआ था कि डेढ़ किलोमीटर की परिधि में धमका सुना गया। विस्फोट के बाद मौके पर पहुंची फोरेंसिक टीम और बम निरोधी दस्ते ने पहले ही दिन बारूद से विस्फोट होने की पुष्टि कर दी थी।

एडीजी ने कहा, मस्जिद विस्फोट कांड में आतंकी कनेक्शन की बू…..

विस्फोट के तार आतंकी संगठन से जुड़े हो सकते हैं। एडीजी रेंज जयनारायण सिंह ने बताया कि सुरक्षा एजेंसियों की शुरुआती जांच में इसके ठोस संकेत मिले हैं। एडीजी ने कहा कि पुलिस की कई टीमें घटना के अनावरण में जुटी हैं। दो से तीन दिन के अंदर घटना का पर्दाफाश हो जाएगा।

गांव में कायम थी हाजी की दहशत…..

बैरागीपट्टी गांव में हाजी कुतुबुद्दीन का काफी दबदबा था। उससे जुड़े लोगों पर तो इसका असर नहीं था लेकिन जो उससे जुड़े नहीं थे, वे हर समय काफी दहशत में रहते थे। सोमवार को हुए विस्फोट में उसका  नाम आने के बाद पुलिस ने उस पर शिकंजा कसना शुरू किया तो उससे डरे लोगों का दर्द बाहर आ गया। गांव के रामायण गुप्त, ऐसे ही लोगों में से एक हैं। बात चलने पर उनकी पीड़ा शब्द बनकर छलकने लगी। रामायण और उनकी पत्नी ने जागरण संवाददाता को बताया कि हाजी कुतुबुद्दीन के भय से वे और उनके परिवार के लोग काफी समय से परेशान हैं, लेकिन उन्हें न्याय नहीं मिल पा रहा। उनके मुताबिक हाजी ने उनकी भूमि पर कब्जा कर लिया, लेकिन उन्हें न्याय नहीं मिला। उसका रसूख इतना है कि गांव के लोग उससे भय खाते हैं तो अधिकारी भी उसकी ही बात सुनते हैं। 

ये भी पढ़े :  आईये जानते है ....क्या है गणतंत्र दिवस , और क्यू मनाते है 26 जनवरी..

हाजी पर कसा शिकंजा तो उभर आई इनकी पीड़ा….

बैरागीपट्टी गांव में कुतुबुद्दीन के व्यवहार से लोगों में भय का माहौल है। रमायण गुप्ता की पीड़ा तो पूछिए मत। सोमवार को जब उन्हें पता चला कि मस्जिद में हुए विस्फोट के पीछे उसी का हाथ है और पुलिस उसकी तलाश कर रही तो वह भी गांव वालों के राग में राग मिलाते हुए उसके विरुद्ध मुखर हो गए। अपनी पीड़ा बताते हुए रमायण दंपती ने बताया कि हाजी कुतुबुद्दीन के भय से वे और उनके परिवार के लोग काफी समय से परेशान हैं, लेकिन उन्हें न्याय नहीं मिल पा रहा। बताया कि हाजी ने उनकी भूमि पर कब्जा कर लिया। न्यायालय में पांच वर्ष तक मुकदमा चला, जिसमें छल-कपट के बल पर वह जीत गया। उसका रसूख इतना है कि गांव के लोग उससे भय खाते हैं तो अधिकारी भी उसकी ही बात सुनते हैं। 

ये भी पढ़े :  कुशनिगर के भिखारी कुमार बेचते हैं कबाड़,गोरखपुर के सरकारी स्कूल से पढ़े उनके बेटे ने कठिन मेनहत कर पाया नीट में स्थान- बनेगा गाँव का पहला डॉक्टर

बैरागीपट्टी में पटरी पर लौटा जीवन….

मस्जिद में विस्फोट के बाद बैरागी पट्टी गांव में पसरे डर का माहौल चौथे दिन सामान्य होता नजर आया। हालांकि किसी अपरिचित से बात करने से वे परहेज कर रहे थे। अलबत्ता मौका मिलने पर सहमी नजरों से इधर-उधर देखते हुए आपस में वे जरूर खुसर-पुसर करने से नहीं चूक रहे थे। घरों के बाहर ब’चे भी खेलते नजर आए। गांव में संचालित परिषदीय विद्यालय में पढऩे वाले ब”ो पहुंचे तो जरूर पर संख्या कम रही। सोमवार दोपहर लगभग साढ़े बारह बजे गांव के पश्चिम दिशा में स्थित मस्जिद में अचानक तेज विस्फोट होने से गांव में दहशत फैल गई थी। आस-पास रहे लोग अनहोनी की आशंका से घबरा उठे थे।  गांव पुलिस छावनी में तब्दील हो गया। अचानक बदली गांव की फिजा में दहशत घुल गई। डरे-सहमे लोग घरों से बाहर निकलने से बचते रहे। 

Hot Topics

गोरखपुर : सगी बहन से शादी करने की जिद पर अड़ा भाई; यहां जाने क्या है माजरा !

उत्तर प्रदेश के गोरखपुर जिले में एक हैरान करने वाला मामला सामने आया है। यहां चिलुआताल में...

गोरखपुर:चिता पर रखे शव के जीवित होने पर मचा हड़कंप, रोकना पड़ा दाह संस्कार,

उत्तर प्रदेश के कुशीनगर में एक हैरान करने वाला मामला सामने आया है। यहां...

देवरिया:- थाने में ही महिला फरियादी के सामने हस्तमैथून करने वाला थानेदार फ़रार,25 हज़ार के इनाम की घोषणा

देवरिया के अंतर्गत आने वाले थाने भटनी में महिला फरियादी के सामने हस्तमैथुन करने वाली थानेदार के खिलाफ मुकदमा दर्ज...

Related Articles

UP: पंचायत चुनाव में पैसा बांट रहे थे BJP के पूर्व MLA के भाई, रंगे हाथ पकड़े गए

पूर्व भाजपा विधायक अवनीन्द्र नाथ द्विवेदी उर्फ महंत दूबे के छोटे भाई व पूर्व प्रधान सत्येन्द्र नाथ द्विवेदी उर्फ राजू द्विवेदी को...

Kushinagar: बोलेरो की ठोकर से बाइक मे लगी आग, चालक फरार।।

कुशीनगर/नेबुआ नौरंगिया थाना क्षेत्र के सरगटिया चौराहे पर सोमवार को दोपहर के 1:00 बजे के करीब एक सफेद रंग की बोलेरो गाड़ी...

कुशनिगर के भिखारी कुमार बेचते हैं कबाड़,गोरखपुर के सरकारी स्कूल से पढ़े उनके बेटे ने कठिन मेनहत कर पाया नीट में स्थान- बनेगा गाँव...

आपके क्षेत्र तथा आसपास कभी-कभी कुछ ऐसी घटनाएं होती हैं जो कि आपको जीवन पर्यंत सीख दी जाती हैं जी हां कुछ...
%d bloggers like this: