Monday, August 2, 2021

कोरोना के बाद कभी ‘नॉर्मल’ नहीं हो सकेगी ज़िंदगी: अमेरिकी वैज्ञानिक

गोरखपुर के नवोदित कलाकारो से सजी फ़िल्म ‘ऑक्सीजन ‘के अभिनव प्रयास की खूब हो रही चर्चा

नवोदित कलाकारों को लेकर डॉ. सौरभ पाण्डेय की फ़िल्म 'ऑक्सीजन 'के अभिनव प्रयास ने रचा इतिहास

बड़हलगंज के बाबा जलेश्वरनाथ मंदिर के पोखरे का 98.5 लाख से होगा सुन्दरीकरण।

बड़हलगंज के बाबा जलेश्वरनाथ मंदिर के पोखरे का 98.5 लाख से होगा सुन्दरीकरण। ...

Maharajganj: प्राथमिक विद्यालय हो रहे मरम्मत कार्य में घटिया तरीके का किया जा रहा है प्रयोग

Maharajganj/Dhani: प्राथमिक विद्यालय हो रहें मरम्मत कार्य में अत्यन्त घटिया किस्म के मसाले व देशी बालू का अधिकता और सिमेन्ट नाम मात्र...

Maharajganj: नालियों के टूट जाने और समय से सफाई न होने से लोग हो रहे परेशान, जांच कर सम्बन्धित कर्मचारियों पर होगी कार्रवाई –...

महाराजगंज/धानी: महाराजगंज जनपद के धानी ब्लाक के अधिकारी भूल चूके हैं अपनी जिम्मेदारी। ग्राम सभा पुरंदरपुर के टोला केवटलिया में नाली टूट...

Maharajganj: दबंग पंचायत मित्र द्वारा किया जा रहा है अवैध नाली का निर्माण।

महराजगंज- फरेंदा ब्लॉक के अंतर्गत ग्राम सभा पिपरा तहसीलदार में पंचायत मित्र द्वारा अपने व्यक्तिगत नाली का निर्माण ग्राम सभा के मुख्य...

Download GT App from
Google Play

विज्ञापन के लिए संपर्क करें +91 7843810623 (WhatsApp)

कोविड-19 (Covid-19) के संक्रमण का आंकड़ा लगभग साढ़े 14 लाख हो चुका है. मौत की दर भी लगातार बढ़ते हुए 83 हजार से ज्यादा हो गई है. अमेरिका (America) में इसका आउटब्रेक सबसे ज्यादा है, जहां 400,549 कोरोना मरीजों में से तकरीबन 13 हजार जानें जानें चली गई हैं. 7 अप्रैल को ये दर बढ़कर 1,800 से ज्यादा हो गई, 24 घंटों के भीतर इतनी मौतें अबतक की सबसे ज्यादा मौतें हैं.

वाइट हाउस (White House) के शीर्ष अधिकारियों का मानना है कि मौत का आंकड़ा अभी और बढ़ने वाला है और आने वाले हफ्तों में ये ढाई लाख भी हो सकता है. टीके और इलाज की खोज में जुटे वैज्ञानिकों के मुखिया Dr Fauci ने इस बीच कहा कि ये सब हो भी जाए तो भी अब सबकुछ पहले जैसा नहीं रहेगा. Dr Fauci देश के शीर्ष संक्रामक रोग विशेषज्ञ हैं और National Institute of Allergy and Infectious Diseases (NIH) के डायरेक्टर हैं. प्रेस ब्रीफ के दौरान उनसे पूछा गया कि क्या बिना किसी वैक्सीन या इलाज के हालात सामान्य हो सकते हैं? तब उन्होंने ये कहा था.

असल में कोरोना वायरस संक्रमण के कारण दुनिया भर में कारोबार और सामाजिक जीवन बुरी तरह से प्रभावित हो रहा है. इसी वजह से पिछले सप्ताह वाइट हाउस में रेगुलर प्रेस ब्रीफिंग के दौरान जमा हुए वैज्ञानिकों के प्रमुख Dr Fauci ने कहा कि चीन के वुहान से जो वायरस फैला था, उसके बाद अब हम एक सोसायटी की तरह काम भले ही करने लगें, लेकिन वापस नॉर्मल नहीं हो सकेंगे. हालांकि वैक्सीन आने के बाद काफी राहत मिलेगी लेकिन तब भी हालात सामान्य नहीं होंगे.

ये भी पढ़े :  'जिंदगी झंड बा, महागठबंधन का मुंह बंद बा'.... 
ये भी पढ़े :  किसानों के लिए राहत पैकेज तैयार, मोदी सरकार ने किया सवा लाख करोड़ रुपये का प्रावधान...

बन सकती है सीजनल बीमारी

वैक्सीन को ‘show stopper’ मानते हुए Dr Fauci ने अनुमान लगाया कि पूरी तेजी से साथ भी काम हो तो इसे आने में कम से कम 1 साल लगेगा. इस दौरान कोविड-19 को नियंत्रण करने के लिए किसी कारगर दवा का आना जरूरी है. इस बीच यूएस में एंटीबॉडी टेस्ट पर भी काम चल रहा है ताकि ये पता चल सके कि कितने लोग इस वायरस से संक्रमित हुए हैं और क्या अब उनका शरीर इसके दोबारा हमले को सह सकेगा? बता दें कि अमेरिका में वायरस का कम्युनिटी ट्रांसमिशन शुरू हो चुका है, इसके बाद रोग प्रतिरक्षा पैदा होने लगती है. हालांकि वैज्ञानिक ये डर भी जता रहे है कि कोरोना वायरस सीजनल बीमारी का रूप ले ले और हर साल कोहराम मचाए.

लॉकडाउन में अमेरिकी

कोरोनावायरस टास्क फोर्स में काम कर रहे Dr. Deborah Birx को उम्मीद है कि काम में और तेजी लाई जाए तो शायद अमेरिका के आने वाले सप्ताह वैसे जानलेवा न हों, जैसा सोचा जा रहा है. इस बीच कैलीफोर्निया और वॉशिंगटन में लॉकडाउन से लेकर कोविड-19 को रोकने के लिए सारी कवायदें हो रही हैं. इसके बीच लोगों में इसपर भी गुस्सा है कि अमेरिका के सारे 50 स्टेट्स में लॉकडाउन क्यों नहीं लगाया जा रहा. बता दें कि फिलहाल हर 4 में से 3 अमेरिकी किसी न किसी तरह के लॉकडाउन में है, चाहे वो स्ट्रिक्ट हो या फिर हल्की पाबंदी के साथ. इसके बावजूद 50 में से 18 स्टेट अब भी लॉकडाउन से बाहर हैं.

ये भी पढ़े :  मोदी से बोले देश के साधु-संत- 'पाकिस्तान को ठोक दो-राम मंदिर रोक दो'...

आएंगे ये बड़े बदलाव

इन सबके साथ ही माना जा रहा है कि वैक्सीन आने और दुनियाभर में उसके पहुंचने के बाद भी वैश्विक स्तर पर कई बातें बदलेंगी. जैसे वर्क फ्रॉम होम की संस्कृति बढ़ेगी. कोरोना का संक्रमण फैलने से रोकने के लिए फिलहाल बड़ी संख्या में लोग घरों से काम कर रहे हैं. एक बार अगर इससे काम प्रभावित होता न दिखे, तो ये व्यवस्था चल जाएगी. न्यूयॉर्क में Bain’s Macro Trends Group के डायरेक्टर Karen Harris के अनुसार दुनियाभर में दफ्तर अपने इंफ्रा पर कम से कम खर्च लगाएंगे और लोगों को घरों से काम करने को बढ़ावा देने लगेंगे.

ये भी पढ़े :  जब पुलिसकर्मियों पर जनता करने लगी पुष्प वर्षा,इस महामारी के हीरो हैं यह

इसके बाद पब्लिक हेल्थ की सेवा बेहतर होगी और रिसर्च को बढ़ावा मिलेगा. Australia National University के Warwick McKibbin के अनुसार लगभग सभी देशों को अभी बीमारी फैलने से रोकने के लिए बेतहाशा खर्च करना पड़ेगा, जिसके बाद वायरोलॉजी और एपिडेमियोलॉजी में शोधों को बढ़ावा मिलेगा ताकि भविष्य में ऐसा न हो. साउथ कोरिया जैसे देश इसके प्रमाण हैं, जिन्होंने सार्स के बाद कई चीजों को रुटीन में शामिल कर लिया, जैसे वहां रेस्त्रां या किसी प्रदर्शनी या किसी भी भीड़ वाली जगह जाने पर सबका तापमान जांचा जाता है.

पूजा-पाठ के तरीकों में भारी बदलाव आएगा, जिसका प्रमाण अभी से दिखने लगा है. लगभग सभी देशों के ऐसे हिस्सों में संक्रमण ज्यादा है, जहां के लोग किसी धार्मिक जगह पर किसी समारोह में गए हों. जैसे साउथ कोरिया, मलेशिया, पाकिस्तान और अमेरिका.

Hot Topics

गोरखपुर : सगी बहन से शादी करने की जिद पर अड़ा भाई; यहां जाने क्या है माजरा !

उत्तर प्रदेश के गोरखपुर जिले में एक हैरान करने वाला मामला सामने आया है। यहां चिलुआताल में...

गोरखपुर:चिता पर रखे शव के जीवित होने पर मचा हड़कंप, रोकना पड़ा दाह संस्कार,

उत्तर प्रदेश के कुशीनगर में एक हैरान करने वाला मामला सामने आया है। यहां...

देवरिया:- थाने में ही महिला फरियादी के सामने हस्तमैथून करने वाला थानेदार फ़रार,25 हज़ार के इनाम की घोषणा

देवरिया के अंतर्गत आने वाले थाने भटनी में महिला फरियादी के सामने हस्तमैथुन करने वाली थानेदार के खिलाफ मुकदमा दर्ज...

Related Articles

यूपी में कई IPS बदले गए,दिनेश कुमार गोरखपुर के नए एसएसपी.

कई IPS के तबादले हुए जिसमे गोरखपुर के एसएसपी जोगेंद्र कुमार को झाँसी का नया डीआईजी बनाया...

बड़े पैमाने पर हुआ सीओ का तबादला,125 सीओ किये गए इधर से उधर….

उत्तर प्रदेश में बड़े पैमाने पर सीओ यानी उपाधीक्षकों के तबादले किये गए।।125 उपाधीक्षकों का तबादला किया...

तंत्र-मंत्र के चक्कर में फंसी बहू, सिद्धि के लिए दे दी अपने ही ससुर की बलि

उत्तर प्रदेश के कौशांबी में तंत्र-मंत्र के चक्कर में फंस कर एक बहू ने अपने ही ससुर...
%d bloggers like this: