Thursday, October 21, 2021

क्या टिक-टॉक है खतरे की घंटी ?

Mrj: अधिकरियो के रहमो-करम पर दबंगों द्वारा चकनाले की जमीन पर बिना मान्यता प्राप्त विद्यालय का किया जा रहा है संचालन, बच्चों का भविष्य...

Maharajganj/Dhani: युवा समाजसेवी अजय कुमार का कहना है कि धानी ब्लाक के अन्तर्गत एक विद्यालय साधु शरण गंगोत्री देवी लेदवा रोड बंगला...

साष्टांग प्रणाम यात्रा पे निकला बांसी से लेहड़ा मंदिर – भक्त रामशब्द लोधी

Maharajganj/ SiddharthNagar: बांसी क्षेत्र के अंतर्गत राम गोहार गाँव से रामशब्द लोधी ने लगातार तेरह वर्षों से नवमी में सष्टांग प्रणाम यात्रा...

Maharajganj: हड़हवा टोल प्लाजा पर भेदभाव हुआ तो होगा आन्दोलन।

फरेन्दा, महराजगंज: फरेन्दा नौगढ़ मार्ग पर स्थित हड़हवा टोल प्लाजा पर प्रबन्धक द्वारा कुछ विशेष लोगो को छोड़ बाकी सबसे टोल टैक्स...

Maharajganj: बृजमनगंज थाना क्षेत्र में चोरों के हौसले बुलंद, लोग पूछ रहे सवाल क्या कर रहे हैं जिम्मेदार

बृजमनगंज, महाराजगंज. थाना क्षेत्र में पुलिस की निष्क्रियता के चलते चोरों के हौसले बुलंद है. जिसके कारण चोरी की घटनाएं बढ़ रही...

गोरखपुर:- बोरे में भरकर लाश को ठिकाने लगाने ले जा रहे जीजा साले को पुलिस ने किया गिरफ्तार

बोरे में भरकर लाश को ठिकाने लगाने ले जा रहे जीजा साले को पुलिस ने किया गिरफ्तार गोरखपुर। दिल्ली...

Download GT App from
Google Play

विज्ञापन के लिए संपर्क करें +91 7843810623 (WhatsApp)

भारत मे शायद ही कोई ऐसा व्यक्ति हो जो टिक-टॉक (TikTok) को न जानता हो | चार साल से भी कम समय मे इसने दुनियाँ मे अपनी अलग पहचान बनायी है | भारत समेत 154 देशों मे टिक-टॉक का इस्तेमाल किया जा रहा | टिक-टॉक की भारत मे एंट्री होने के समय से ही इस पर प्रतिबंध की मांग उठ रही है | आंशिक अवधि के लिए इस पर प्रतिबंध भी किया गया था | नन्हे बच्चों से लेकर बुजुर्ग, शहर से गाँव तक इसके यूजर मिल जायेगे | कई लोगों का ऐसा मानना है की टिक-टॉक ऐप हमारी संस्कृति को अपमानित कर रहा है। साथ ही अनुचित कंटेंट को प्रोत्साहित कर रहा है । यह बच्चों पर गलत असर भी डाल रहा है । अक्सर समाचार पत्रों मे पढ़ने को मिलता है की कुछ बच्चों ने इसके कारण आत्महत्या कर ली । कुछ लोग टिकटोक पर ज्यादा लाइक पाने और पोपुलर होने के लिए ऐसे खतरनाक स्टंट करते है की उनके साथ दुर्घटना घटित हो जाती है और उनकी मौत हो जाती है | टिक-टॉक पर ज्यादा लाइक पाने के लिए कुछ लोग अश्लीलता को बढ़ावा भी दे रहें है | कई लोगों का यह भी मानना है की टिक-टॉक यूजर्स की प्राइवेसी पॉलिसी का उल्लंघन भी कर रहा है।

ये भी पढ़े :  माँ तरकुलही देवी के दर्शन का जल्द ले पाएँगे लाभ,पर मानना होगा सरकारी नियम....
ये भी पढ़े :  बिग ब्रेकिंग:तरकुलहा मंदिर अस्थाई रूप से हुआ बंद, कोरोना का असर...

चीन के द्वारा विकसित, टिक-टॉक एक सोशल मीडिया एप है इसके जरिए स्मार्टफोन यूजर छोटे-छोटे वीडियो बनाते और शेयर करते हैं । वर्ष 2018 के पश्चात टिक-टॉक की लोकप्रियता बहुत तेजी से बढ़ी | सोशल मीडिया के सभी प्लेटफॉर्म मे से लोग सबसे ज्यादे समय तक टिक-टॉक पर देते है | भारत मे अभी तक इसे गूगल प्ले स्टोर से 1.96 करोड़ से अधिक बार डाउनलोड किया जा चुका है |

कुछ लोग कम समय मे फेमस होने और पैसा पाने के लिये कुछ भी करने को तैयार रहते है | अशिक्षा, बेरोजगारी, सफलता के अवसरों के कम होने की वजह से भारत मे टिक-टॉक यूजर्स की संख्या तेजी से बढ़ी है | भारत के हर शहर, गाँव मे इसके यूजर्स है | यूजर्स की संख्या अधिक होने की वजह से सभी को अपनी बात कहने और लोगों तक पहुचाने का एक प्लेटफॉर्म मिल गया है, जिसकी लागत भी कुछ नहीं है | नतीजन बॉलीवुड स्टार से लेकर, सरकारी विभाग तक आपको टिक-टॉक पर मिल जायेगे | दिन-प्रतिदिन फेमस लोग इसमे जुड़ते चले जा रहें है |

कोरोनावायरस के भारत मे आने के पश्चात कई ऐसे विडिओज टिक-टॉक पर सामने आयें जिसमें सरकार के निर्देशों के विपरीत बातें कही गयी | जिसकी चारों तरफ आलोचना भी हुई है | सोशल डिस्टेनसिंग का मजाक उड़ाया गया | ऐसे विडिओ भारत के विरोधी देशों द्वारा धार्मिक विवाद को बढ़ावा देने और कोरोनावायरस से देश को नुकशान पहुचाने के उद्देश्य से बनाये गए | ऐसा नहीं है की टिक-टॉक के जरिएं सिर्फ अश्लीलता और गलत विचार ही परोसे जा रहें है | कई लोग इसपर अच्छे वीडियोज़ बनाकर आकर्षक आय भी अर्जित कर रहें है | कई तरह की जानकारी लोगों तक पहुचाने के लिए विभिन्न एजेंसिया इसका सहारा भी ले रही है | समस्त पहलुओं का आंतरिक विवेचन करने पर यह जरूर कहा जा सकता है की लाभ की अपेक्षा टिक-टॉक भारत के समाज को नुकशान अधिक प्रदान कर रहा है जिससे लोगों मे अश्लीलता, धार्मिक उन्माद, सोचने-समझने की शक्ति और बच्चों पर बुरा प्रभाव पड़ रहा है | क्योंकि बिना सोचे-समझे, लोग पोपुलर होने के उद्देश्य से कुछ भी कर गुजरने से गुरेज नहीं कर रहें है | हाल की घटनाओं ने टिक-टॉक के जरिए देश को खतरे की दस्तक जरूर दे दिया है |

ये भी पढ़े :  लखनऊ में इतने देर का तक रहेगा सूर्य ग्रहण
ये भी पढ़े :  #GORAKHPUR विधायक के पैड पर फर्जी इस्तेमाल कर बनवा दी पांच करोड़ की रोड

कृष्णा मिश्रा की कलम से।

डाक्टर-अजय कुमार मिश्रा(लखनऊ)

Hot Topics

गोरखपुर : सगी बहन से शादी करने की जिद पर अड़ा भाई; यहां जाने क्या है माजरा !

उत्तर प्रदेश के गोरखपुर जिले में एक हैरान करने वाला मामला सामने आया है। यहां चिलुआताल में...

गोरखपुर:चिता पर रखे शव के जीवित होने पर मचा हड़कंप, रोकना पड़ा दाह संस्कार,

उत्तर प्रदेश के कुशीनगर में एक हैरान करने वाला मामला सामने आया है। यहां...

देवरिया:- थाने में ही महिला फरियादी के सामने हस्तमैथून करने वाला थानेदार फ़रार,25 हज़ार के इनाम की घोषणा

देवरिया के अंतर्गत आने वाले थाने भटनी में महिला फरियादी के सामने हस्तमैथुन करने वाली थानेदार के खिलाफ मुकदमा दर्ज...

Related Articles

गोरखपुर:- बोरे में भरकर लाश को ठिकाने लगाने ले जा रहे जीजा साले को पुलिस ने किया गिरफ्तार

बोरे में भरकर लाश को ठिकाने लगाने ले जा रहे जीजा साले को पुलिस ने किया गिरफ्तार गोरखपुर। दिल्ली...

खुशखबरी:-सहजनवा दोहरीघाट रेलवे ट्रैक को मंजूरी 1320 करोड़ स्वीकृत

गोरखपुर के लिहाज़ से एक बड़ी ख़बर प्राप्त हो रही है जिसमे यह बताया जा रहा है कि सहजनवा दोहरीघाट रेलवे ट्रैक...

दोषियों के खिलाफ होगी कड़ी कार्रवाई: सांसद कमलेश पासवान

दोषियों के खिलाफ होगी कड़ी कार्रवाई: सांसद बांसगांव लोकसभा के सांसद कमलेश पासवान ने कास्त मिश्रौली निवासी भाजपा नेता...
%d bloggers like this: