Saturday, July 24, 2021

खजांची से एचएन सिंह चौराहे तक 30 मीटर चौड़ी होगी सड़क ….

पुलिस अधीक्षक द्वारा की गयी मासिक अपराध गोष्ठी में अपराधों की समीक्षा व रोकथाम हेतु दिये गये आवश्यक दिशा-निर्देश

Maharajganj: पुलिस अधीक्षक महराजगंज प्रदीप गुप्ता द्वारा आज दिनांक 17.07.2021 को पुलिस लाइन्स स्थित सभागार में मासिक अपराध गोष्ठी में कानून-व्यवस्था की...

शायर मुनव्वर राना के बोल, ‘दोबारा सीएम बने योगी तो यूपी छोड़ दूंगा’

लखनऊ: मशहूर शायर मुनव्वर राना एक बार फिर अपने बयान की वजह से सुर्खियों में हैं।उन्होंने कहा कि अगर योगी आदित्यनाथ दोबारा...

Maharajganj: CO सुनील दत्त दूबे द्वारा कुशल पर्यवेक्षण करने पर अपर पुलिस महानिदेशक जोन गोरखपुर ने प्रशस्ति पत्र से नवाजा।

Maharajganj/Farenda: सीओ फरेन्दा सुनील दत्त दूबे को थाना पुरन्दरपुर में नवीन बीट प्रणाली के क्रियान्वयन में कुशल पर्यवेक्षण करने पर अपर पुलिस...

विधायक विनय शंकर तिवारी किडनी की बीमारी से पीड़ित ग़रीब युवा के लिए बने मसीहा…

हाल ही में सोशल मीडिया के माध्यम से किडनी की बीमारी से पीड़ित व्यक्ति की मदद हेतु युवाओं के द्वारा अपील की...

महराजगंज जिले के फरेंदा थाने के अंतर्गत SBI कृषि विकास शाखा के सामने से मोटरसाइकिल चोरी

Maharajganj: महाराजगंज जिले के फरेंदा थाने के अंतगर्त मंगलवार को बृजमनगंज रोड पर भारतीय स्टेट बैंक कृषि विकास शाखा के ठीक...

Download GT App from
Google Play

विज्ञापन के लिए संपर्क करें +91 7843810623 (WhatsApp)

असुरन से मेडिकल कॉलेज तक फोरलेन निर्माण के चलते अतिक्रमण की जद में आये भवन स्वामियों की मुश्किलें कम होती नहीं दिख रही हैं। राहत की उम्मीद में गुरुवार को डीएम कार्यालय पहुंचे सैकड़ों लोगों को निराशा ही हाथ लगी है। एसडीएम के बाद डीएम के साथ हुई बैठक में असुरन से एचएन सिंह चौराहे तक 26 मीटर चौड़े फोरलेन और एचएन सिंह से खजांची चौराहे तक 30 मीटर चौड़े फोरलेन निर्माण को लेकर सहमति बनी।

दिक्कत
असुरन से मेडिकल कॉलेज तक फोरलेन के चलते अतिक्रमण की जद
में फंसे सैकड़ों लोगों ने डीएम के साथ की बैठक
डीएम का निर्णय, एचएन सिंह से असुरन तक 26 मीटर चौड़ा होगा फोरलेन
राजस्व विभाग की टीम से अतिक्रमण की जद में आये एक-एक निर्माण की मांगी रिपोर्ट

बुधवार को प्रशासन द्वारा 36 मीटर चौड़ाई को लेकर अतिक्रमण हटाये जाने के बाद स्थानीय लोगों ने विरोध कर दिया था। जिसके बाद शाम को 50 की संख्या में लोग डीएम आवास पहुंचे थे, जिसके बाद डीएम ने गुरुवार को नागरिकों को बुलाया था। गुरुवार को एसडीएम के नेतृत्व में नगर निगम, पीडब्ल्यूडी और जीडीए के अधिकारियों की नागरिकों के साथ बैठक शुरू हुई। बैठक में नागरिकों ने डीएम के पूर्व के निर्णय से अवगत कराया, जिसमें मध्य से 11.75 मीटर पर अतिक्रमण हटाने की बात कही गई थी। प्रकरण पर सहमति नहीं बनी तो मामला डीएम तक पहुंचा। डीएम ने सभी पक्षों को सुना। जीडीए के अधिकारियों ने बताया कि असुरन से खजांची तक मास्टर प्लान में 30 मीटर चौड़ी सड़क है। लोगों की दलील थी कि जीडीए ने 30 मीटर सड़क पर मानचित्र स्वीकृत किया है तो ऐसे में कैसे 36 मीटर तक अतिक्रमण हटाया जा रहा है। कई लोगों का कहना था कि उनकी 15 मीटर सड़क पर रजिस्ट्री है, ऐसे में बिना मुआवजा कब्जा कैसे स्वीकारा जा सकता है।

ये भी पढ़े :  राम जन्मभूमि मामले के फैसले पर शांति व्यवस्था बनाए रखने के लिए फैसला आने से पहले गोरखपुर एसएसपी ने की हिन्दू-मुस्लिम सभ्रांत नागरिकों के साथ बैठक.....
ये भी पढ़े :  गोरखपुर में लग रहे थानावार लॉक डाउन को लेकर सीएम योगी ने दिया यह निर्देश...

सितम्बर में 23.50 मीटर चौड़ी फोरलेन पर बनी थी सहमति
बीते सितम्बर महीने में असुरन से खजांची होते हुए मेडिकल कॉलेज तक 23.50 मीटर चौड़े फोरलेन को लेकर सहमति बनी थी। मंगलवार को मामले ने तब तूल पकड़ लिया जब प्रशासन ने मध्य से 18 मीटर पर अतिक्रमण हटाना शुरू कर दिया। तीन निर्माण ध्वस्त किये जाने के बाद स्थानीय लोगों ने विरोध शुरू कर दिया।

डीएम ने राजस्व टीम से मांगी रिपोर्ट

सभी पक्षों की दलील सुनने के बाद राजस्व विभाग की टीम को डीएम ने निर्देश दिया। डीएम ने राजस्व टीम से अतिक्रमण की जद में आने वाले भवन स्वामियों के भू-खंड और जीडीए के मानचित्र को लेकर रिपोर्ट मांगी है। रिपोर्ट के बाद ही साफ होगा कि अतिक्रमण की जद में फंसे लोगों की रजिस्ट्री कितने मीटर सड़क पर हुई है, और उनका मानचित्र कितने मीटर सड़क पर स्वीकृत है। राजस्व विभाग की टीम ने गुरुवार को दोपहर बाद रिपोर्ट को लेकर कवायद शुरू कर दी है।

ये भी पढ़े :  गोरखपुर के बाँसगांव में गाड़ी को पास न देने पर ओवरटेक कर दबंगो ने मारा पीटा दी जातिसूचक गाली

जमीन ले लेकिन मुआवजा दे सरकार

नागरिक कल्याण समिति के अध्यक्ष अरुण श्रीवास्तव ने कहा है कि प्रशासन अभी तक फोरलेन की चौड़ाई को लेकर खुद असमंजस में है। पूर्व में 23.5 मीटर पर सहमति बनने के बाद प्रशासन अब बढ़ाकर 36 मीटर कर रहा है। इससे काफी लोगों का मकान जो एक बार क्षतिग्रस्त होने के बाद ठीक कराया गया है, दुबारा टूटेगा। लोगों को लाखों की क्षति फिर सहनी पड़ेगी। उन्होंने कहा कि प्रशासन यदि मनमानी करने पर उतारू है तो कम से कम हमें मुआवजा दे।

Hot Topics

गोरखपुर : सगी बहन से शादी करने की जिद पर अड़ा भाई; यहां जाने क्या है माजरा !

उत्तर प्रदेश के गोरखपुर जिले में एक हैरान करने वाला मामला सामने आया है। यहां चिलुआताल में...

गोरखपुर:चिता पर रखे शव के जीवित होने पर मचा हड़कंप, रोकना पड़ा दाह संस्कार,

उत्तर प्रदेश के कुशीनगर में एक हैरान करने वाला मामला सामने आया है। यहां...

देवरिया:- थाने में ही महिला फरियादी के सामने हस्तमैथून करने वाला थानेदार फ़रार,25 हज़ार के इनाम की घोषणा

देवरिया के अंतर्गत आने वाले थाने भटनी में महिला फरियादी के सामने हस्तमैथुन करने वाली थानेदार के खिलाफ मुकदमा दर्ज...

Related Articles

विधायक विनय शंकर तिवारी किडनी की बीमारी से पीड़ित ग़रीब युवा के लिए बने मसीहा…

हाल ही में सोशल मीडिया के माध्यम से किडनी की बीमारी से पीड़ित व्यक्ति की मदद हेतु युवाओं के द्वारा अपील की...

ब्लॉक प्रमुख बड़हलगंज आशीष राय के जीत की गूंज सात समंदर पार भी…

बड़हलगंज से आशीष राय के विजयी घोषित होने पर विदेशों में भी बंटी मिठाइयां गोरखपुर। शनिवार को तीन ब्लॉक...

भाजपा ने ब्लॉक प्रमुख के लिए विधायक विपिन सिंह की पत्नी नीता सिंह,विधायक संत प्रसाद की बहू पर खेला दाँव, देखें गोरखपुर की सूची…

जिला पंचायत अध्यक्ष के चुनाव संपन्न होने के उपरांत त्रिस्तरीय पंचायत को और सुदृढ़ बनाने के लिए भारतीय जनता पार्टी के द्वारा...
%d bloggers like this: