Sunday, October 13, 2019
Gorakhpur

गोरखपुर एम्स में सुरक्षा गार्ड और मजदूरों में मारपीट, जबरदस्त तोड़-फोड़ के बाद निर्माण कार्य ठप….

अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (एम्स) में शनिवार सुबह गेट से एंट्री को लेकर सुरक्षाकर्मियों और मजदूरों में कहासुनी हो गई। देखते ही देखते सुरक्षा गार्ड और मजदूर आपस में भिड़ गए। इस बीच कुछ मजदूर एम्स के भीतर पहुंच गए और वहां पर जमकर तोड़फोड की। फिलहाल पुलिस तैनात कर दी गई है। मजदूरों के गुस्से को देखते हुए ठेकेदार भी मौके से भाग निकले हैं।

पिछले एक साल से एम्स निर्माण का कार्य चल रहा है। इसके लिए यहां पर काम करने वाले मजदूरों को अब तक गेट नंबर एक से प्रवेश दिया जाता था। तीन दिन पहले सिंघड़िया की ओर से एक गेट खोला गया था। इस गेट का रास्ता भी ठीक नहीं था। शनिवार सुबह कुछ मजदूर गेट नंबर एक से एंट्री करने पहुंचे। आरोप है कि सुरक्षाकर्मियों ने उन्हें पिछले गेट से एंट्री करने को कहा।

हालांकि कुछ लोगों का कहना है कि मजदूर हेलमेट नहीं लगाए थे। इसको लेकर सुरक्षा गार्ड उन्हें रोक रहे थे। इसी बात को लेकर पहले तू-तू मैं-मैं हुई।उसके बाद विवाद शुरू हो गया। मारपीट होते देख बाकी मजदूर भी इकट्ठा हो गए। उन्होंने गार्ड को बुरी तरह से पिटाई शुरू कर दी। जबकि कुछ मजदूर एम्स के भीतर में घुस गए। वहां पर उन्होंने कागजों को फाड़ डाला। कंप्यूटर को पलट दिया।

मारपीट और टाइम ऑफिस में तोड़फोड़ की सूचना पर कई थानों की पुलिस को वज्र वाहन के साथमौके पर भेजा गया। तब जाकर मामला शांत हो पाया।

Advertisements
%d bloggers like this: