Monday, August 2, 2021

गोरखपुर के मौसम विभाग को देश भर में पहला स्‍थान….

गोरखपुर के नवोदित कलाकारो से सजी फ़िल्म ‘ऑक्सीजन ‘के अभिनव प्रयास की खूब हो रही चर्चा

नवोदित कलाकारों को लेकर डॉ. सौरभ पाण्डेय की फ़िल्म 'ऑक्सीजन 'के अभिनव प्रयास ने रचा इतिहास

बड़हलगंज के बाबा जलेश्वरनाथ मंदिर के पोखरे का 98.5 लाख से होगा सुन्दरीकरण।

बड़हलगंज के बाबा जलेश्वरनाथ मंदिर के पोखरे का 98.5 लाख से होगा सुन्दरीकरण। ...

Maharajganj: प्राथमिक विद्यालय हो रहे मरम्मत कार्य में घटिया तरीके का किया जा रहा है प्रयोग

Maharajganj/Dhani: प्राथमिक विद्यालय हो रहें मरम्मत कार्य में अत्यन्त घटिया किस्म के मसाले व देशी बालू का अधिकता और सिमेन्ट नाम मात्र...

Maharajganj: नालियों के टूट जाने और समय से सफाई न होने से लोग हो रहे परेशान, जांच कर सम्बन्धित कर्मचारियों पर होगी कार्रवाई –...

महाराजगंज/धानी: महाराजगंज जनपद के धानी ब्लाक के अधिकारी भूल चूके हैं अपनी जिम्मेदारी। ग्राम सभा पुरंदरपुर के टोला केवटलिया में नाली टूट...

Maharajganj: दबंग पंचायत मित्र द्वारा किया जा रहा है अवैध नाली का निर्माण।

महराजगंज- फरेंदा ब्लॉक के अंतर्गत ग्राम सभा पिपरा तहसीलदार में पंचायत मित्र द्वारा अपने व्यक्तिगत नाली का निर्माण ग्राम सभा के मुख्य...

Download GT App from
Google Play

विज्ञापन के लिए संपर्क करें +91 7843810623 (WhatsApp)

देश भर के मौसम विज्ञान केन्द्रों में गोरखपुर के मौसम विज्ञान केन्द्र को एक साल के काम के आधार पर सर्वश्रेष्ठ चुना गया है। 15 जनवरी को दिल्ली के डॉ. अंबेडकर इंटरनेशनल सेंटर में भारतीय मौसम विज्ञान के 144 वें स्थापना दिवस पर गोरखपुर केन्द्र को सर्वश्रेष्ठ रेडियोसॉन्ड रेडीयोविंड ऑब्जर्वेटरी का पुरस्कार दिया गया। केन्द्र प्रभारी मौसम विज्ञानी तीर्थेन्द्र बहादुर सिंह को केन्द्रीय पृथ्वी विज्ञान मंत्री डॉ. हर्षवर्धन ने श्रेष्ठता का अवार्ड प्रदान किया।

ये भी पढ़े :  कांग्रेस में शामिल हुए पूर्व सांसद भालचंद यादव,लड़ सकते है संतकबीर नगर से चुनाव...

गोरखपुर में मौसम विज्ञान विभाग की स्थापना वर्ष-1974 में हुई थी। यह पहली बार है जब अपनी विधा में गोरखपुर को देश भर में अव्वल स्थान मिला है। यह अवार्ड 1 नवंबर 17 से 31 अक्तूबर 18 तक की परफारमेंस के आधार पर मिला है। मौसम विभाग के यूपी में कुल 41 केन्द्र हैं। गोरखपुर में रेडियो सोंड रेडियोविंड ऑब्जर्वेटरी से वायुमंडल में मौजूद तत्वों का घनत्व लिया जाता है। इसे केन्द्रीय मुख्यालय को भेजा जाता है, जिससे मौसम का पूर्वानुमान आदि लगाया जाता है। यहां प्रति दिन सुबह व शाम को पांच घंटे के अंतराल पर ढाई किलो के बैलून में हाइड्रोलन भर कर उसमें मौसम विभाग का उपकरण लगाकर छोड़ दिया जाता है।

ये भी पढ़े :  मानव सेवा संस्थान द्वारा जनता को सोसल डिस्टेंसिंग को ध्यान मे रख कर मास्क और राहत सामग्री का वितरण

उपकरण के संदेश के आधार पर वायु मंडल में मौजूद पदार्थों के घनत्व का मापन किया जाता है। केन्द्र प्रभारी तीर्थेन्द्र बहादुर सिंह ने बताया कि यह बैलून 38 किमी तक ऊंचाई तक जाता है। रुद्रपुर देवरिया के मूल निवासी मौसम विज्ञानी तीर्थेंन्द्र बहादुर सिंह ने एक सितंबर-17 को यहां प्रभार लिया था। पहले ही साल के कार्यों के आधार पर केन्द्र को उन्होंने यह उपलब्धि दिलाई है। उन्होंने बताया कि नंबर ऑफ एसेंट्स, कितनी ऊंचाई तक सही डाटा मिला और उपकरणों में खराबी आने के बाद तत्परता से रिपेयरिंग कर दोबारा डाटा हासिल करना, कम से कम उपकरण का इस्तेमाल आदि कई पैरामीटर पर अव्वल आने वाले को ही अवार्ड दिया जाता है। देश भर के मौसम विज्ञान केन्द्र तीन तरह की ऑबर्ग्वेटरी पर काम करते हैं। अवार्ड वितरण समारोह में इसरो के पूर्व चेयरमैन पद्मश्री एएस किरन कुमार, पृथ्वी विज्ञान मंत्रालय के सचिव डॉ. श्रीनारायणन और मौसम विभाग के महानिदेशक केजे रमेश उपस्थित थे।

वीडियो न्यूज़ के लिए हमारे चैनल को सब्सक्राइब करेंं 👈 

ये भी पढ़े :  समस्त बाधाओं व विपत्तियों को दूर करते है भगवान शिव श्रावण मास में जलाभिषेक व रुद्राभिषेक करने का है विशेष महत्व श्रावण मास में रुद्राभिषेक करने के लिए शिववास का नही होता है विचार

Hot Topics

गोरखपुर : सगी बहन से शादी करने की जिद पर अड़ा भाई; यहां जाने क्या है माजरा !

उत्तर प्रदेश के गोरखपुर जिले में एक हैरान करने वाला मामला सामने आया है। यहां चिलुआताल में...

गोरखपुर:चिता पर रखे शव के जीवित होने पर मचा हड़कंप, रोकना पड़ा दाह संस्कार,

उत्तर प्रदेश के कुशीनगर में एक हैरान करने वाला मामला सामने आया है। यहां...

देवरिया:- थाने में ही महिला फरियादी के सामने हस्तमैथून करने वाला थानेदार फ़रार,25 हज़ार के इनाम की घोषणा

देवरिया के अंतर्गत आने वाले थाने भटनी में महिला फरियादी के सामने हस्तमैथुन करने वाली थानेदार के खिलाफ मुकदमा दर्ज...

Related Articles

गोरखपुर के नवोदित कलाकारो से सजी फ़िल्म ‘ऑक्सीजन ‘के अभिनव प्रयास की खूब हो रही चर्चा

नवोदित कलाकारों को लेकर डॉ. सौरभ पाण्डेय की फ़िल्म 'ऑक्सीजन 'के अभिनव प्रयास ने रचा इतिहास

बड़हलगंज के बाबा जलेश्वरनाथ मंदिर के पोखरे का 98.5 लाख से होगा सुन्दरीकरण।

बड़हलगंज के बाबा जलेश्वरनाथ मंदिर के पोखरे का 98.5 लाख से होगा सुन्दरीकरण। ...

विधायक विनय शंकर तिवारी किडनी की बीमारी से पीड़ित ग़रीब युवा के लिए बने मसीहा…

हाल ही में सोशल मीडिया के माध्यम से किडनी की बीमारी से पीड़ित व्यक्ति की मदद हेतु युवाओं के द्वारा अपील की...
%d bloggers like this: