Thursday, December 9, 2021

गोरखपुर के युवक की मौत पर CM योगी की नज़र, CM ऑफिस ने किया ट्वीट

PM मोदी ने गोरखपुर समेत पूर्वांचल को दी बड़ी सौगात,लाखों लोग रहे मौजूद

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गोरखपुर खाद कारखाने का किया लोकार्पण गोरखपुर। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के हाथों फर्टिलाइजर कैंपस में...

गोरखपुर पहुँचे खेल मंत्री ने केशरिया ध्वजारोहण कर CM योगी सहित ग्रहण किया गार्ड ऑफ ऑनर,देखें मनमोहक शोभायात्रा की तश्वीरें

केंद्रीय मंत्री ने शोभायात्रा को सलामी दिया,भब्य संस्थापक सप्ताह शोभायात्रा निकाली गयी गोरखपुर। 89...

PM मोदी के गोरखपुर आगमन को लेकर भाजपा किसान मोर्चा प्रदेश अध्यक्ष कामेश्वर सिंह ने कार्यकर्ताओं के साथ कि बैठक

गोरखपुर। सात अक्टूबर को गोरखपुर के फर्टिलाइजर स्थित खाद कारखाने का उद्घाटन करने आ रहे देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के कार्यक्रम...

गोरखपुर:- प्रधानमंत्री की रैली के लिए भाजपाइयों ने कसी कमर

प्रधानमंत्री की रैली के लिए भाजपाइयों ने कसी कमर पिपरौली 7 दिसंबर को गोरखपुर खाद कारखाना...

संदिग्ध परिस्थिति में मिला एएनएम की शव

घुघली/महराजगंज: जनपद के घुघली थाना क्षेत्र के ग्राम सभा रामपुर बाल्डीहा में एएनएम पद पर कार्यरत खुशबू यादव की संदिग्ध परिस्थितियों बुधवार...

Download GT App from
Google Play

विज्ञापन के लिए संपर्क करें +91 7843810623 (WhatsApp)

अपर मुख्य सचिव (गृह एवं सूचना) अवनीश कुमार अवस्थी और निदेशक, सूचना एवं जनसंपर्क विभाग शिशिर को टैग करते हुए किए दो ट्वीट के बाद सरकारी मशीनरी हरकत में आई और गोरखपुर के उस परिवार को खोज निकाला गया। गोरखपुर के डीएम के. विजयेंद्र पाण्डियन ने कहा कि मृतक के परिजनों को दो लाख रुपये की सहायता दी जाएगी। साथ ही महिला को योग्यता के अनुसार नौकरी के अलावा सीएम आवास दिया जाएगा।

यह है सरकार का ट्वीट

मुख्यमंत्री ने दिल्ली में एक निराश्रित व्यक्ति की मृत्यु की खबर का संज्ञान लिया, उन्होंने दिल्ली के लिए बनाए गए नोडल अफसर और गोरखपुर DM को निर्देशित किया कि तत्काल उस व्यक्ति के शव को गोरखपुर में उनके परिजनों तक पहुंचाने की व्यवस्था करें।

इसके बाद दूसरा ट्वीट भी किया गया। दूसरे ट्वीट में लिखा गया कि मुख्यमंत्री ने परिजनों को, नियमानुसार आर्थिक सहायता प्रदान करने के भी निर्देश दिए हैं।

चिकन पॉक्स से हुई मौत, नहीं आ पाया था शव

चौरीचौरा का रहने वाला सुनील दिल्‍ली में रहकर मजदूरी करता था। बीते दिनों चिकन पाक्‍स से उसकी मौत हो गई। लॉकडाउन के कारण उसका शव दिल्‍ली से गोरखपुर नहीं आ पाया तो परिजनों ने पुतला बनाकर अंतिम किया।

ये भी पढ़े :  सोशल मीडिया पर ट्रेंड कर रहा #JusticeForRinkuSharma, आरोपियों को फांसी देने की की मांग

डुमरी खुर्द का सुनील दिल्ली में मजदूरी करता था। पत्नी पूनम पांच बच्चों के साथ गांव में रहती है। लॉकडाउन का पालन करने के चलते सुनील घर नहीं आ सका। इसी बीच चिकनपॉक्स होने पर उसे सफदरजंग अस्पताल में भर्ती कराना पड़ा। 14 अप्रैल को उसकी मौत हो गई। दिल्ली पुलिस ने अगले ही दिन ग्राम प्रधान को सूचना भेज दी। इसके बाद एक-एक करके परिवार, पुलिस और प्रशासन को इसकी जानकारी हुई, लेकिन किसी ने गरीब का शव घर तक लाने के लिए ठोस पहल नहीं की। नतीजतन सुनील का शव एक हफ्ते तक मर्चरी में पड़ा रहा। इधर, इंतजार करके थक चुके बेबस परिवार ने पुरोहितों की सलाह पर सुनील का पुतला बनाकर अंतिम संस्कार कर दिया। डेढ़ साल के बेटे अभि ने मुखाग्नि दी। सुनील की मौत के बाद पूनम के सामने बेटी नीशू, खुशबू, निशि, अनुष्का व बेटा अभि की परवरिश का संकट खड़ा हो गया।

ये भी पढ़े :  तिरंगा जलाकर Tik Tok वीडियो बना रहे थे अराजकतत्व, देशद्रोह का मुकदमा दर्ज...

पोस्टमार्टम रिपोर्ट के बाद मिलेगी मदद

सुनील की पत्नी पूनम ने मंगलवार को एसडीएम अर्पित गुप्ता एवं तहसीलदार रत्नेश त्रिपाठी से मुलाकात की। उसने गुजारे के लिए आर्थिक मदद के साथ आवास, विधवा पेंशन एवं बच्चों के पढ़ाई के लिए व्यवस्था कराने की गुहार लगाई। तहसीलदार ने बताया कि पत्नी ने सुनील का दिल्ली में अंतिम संस्कार कराकर दस्तावेज उपलब्ध कराने की मांग की है। फिलहाल जनसहयोग से उसके खाते में 76500 रुपये जमा करा दिए गए हैं।

शास्त्र सम्मत है पुतला दहन

धर्माचार्य पंडित शरदचंद्र मिश्र व डॉ. जोखन पांडेय के अनुसार गरुण पुराण के मुताबिक पुतला दहन में सभी प्रक्रियाएं शव दाह की तरह ही होती हैं। बांस के टुकड़ों से मानव आकृति बनाई जाती है। इसके बाद कई अन्य विधान द्वारा पुतला मानव के बराबर बनाया जाता है। यदि पुतला दहन के बाद शव मिल गया तो उसका दाह संस्कार नहीं किया जाता, उसे जल में प्रवाहित कर दिया जाता है या भूमि में दबा दिया जाता है।

ये भी पढ़े :  कौड़ीराम अंतर्गत नशे की धुत में ट्रेक्टर चालक ने दुकान को रौंदा

दिल्ली से युवक की गुहार पर जिला प्रशासन ने की मदद

कोरोना संक्रमण के बीच जिला प्रशासन लोगों की मदद में मुस्तैदी से जुटा है। जिला प्रशासन इस बात का पूरा ख्याल रख रहा है कि हर जरूरतमंद को सही समय पर जरूरी सुविधाएं मिलें। गोरखपुर के राजेश दिल्ली  में नौकरी करते हैं। राजेश के पिता पूर्व राजस्व निरीक्षक श्रीनाथ विश्वकर्मा का 18 अप्रैल को निधन हो गया। पिता के निधन पर राजेश ने दिल्ली से गोरखपुर आने के लिए पास का आवेदन किया लेकिन उसे नामंजूर कर दिया गया। राजेश ने दोबारा आवेदन किया और बताया कि वह इकलौता पुत्र है, बावजूद पास जारी नहीं हो सका। ऐसे में राजेश ने गोरखपुर जिला प्रशासन से गुहार लगाई। प्रशासन ने राजेश के प्रार्थना पत्र पर सहानुभूति पूर्वक विचार करते हुए राजेश के घरवालों को एक वाहन दिल्ली ले जाने और वहां से राजेश को गोरखपुर लाने की अनुमति दे दी। साथ ही निर्देश दिया कि वह अंत्येष्टि में भी पूरी तरह से लॉकडाउन और फिजिकल डिस्टेंसिंग का पालन करें।

ये भी पढ़े :  यूपी बोर्ड 2020 का रिजल्ट आज, गोरखपुर मंडल में होगा 4 लाख 80 हजार स्टूडेंट्स के भाग्य का फैसला

Hot Topics

गोरखपुर : सगी बहन से शादी करने की जिद पर अड़ा भाई; यहां जाने क्या है माजरा !

उत्तर प्रदेश के गोरखपुर जिले में एक हैरान करने वाला मामला सामने आया है। यहां चिलुआताल में...

गोरखपुर:चिता पर रखे शव के जीवित होने पर मचा हड़कंप, रोकना पड़ा दाह संस्कार,

उत्तर प्रदेश के कुशीनगर में एक हैरान करने वाला मामला सामने आया है। यहां...

देवरिया:- थाने में ही महिला फरियादी के सामने हस्तमैथून करने वाला थानेदार फ़रार,25 हज़ार के इनाम की घोषणा

देवरिया के अंतर्गत आने वाले थाने भटनी में महिला फरियादी के सामने हस्तमैथुन करने वाली थानेदार के खिलाफ मुकदमा दर्ज...

Related Articles

PM मोदी ने गोरखपुर समेत पूर्वांचल को दी बड़ी सौगात,लाखों लोग रहे मौजूद

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गोरखपुर खाद कारखाने का किया लोकार्पण गोरखपुर। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के हाथों फर्टिलाइजर कैंपस में...

गोरखपुर पहुँचे खेल मंत्री ने केशरिया ध्वजारोहण कर CM योगी सहित ग्रहण किया गार्ड ऑफ ऑनर,देखें मनमोहक शोभायात्रा की तश्वीरें

केंद्रीय मंत्री ने शोभायात्रा को सलामी दिया,भब्य संस्थापक सप्ताह शोभायात्रा निकाली गयी गोरखपुर। 89...

PM मोदी के गोरखपुर आगमन को लेकर भाजपा किसान मोर्चा प्रदेश अध्यक्ष कामेश्वर सिंह ने कार्यकर्ताओं के साथ कि बैठक

गोरखपुर। सात अक्टूबर को गोरखपुर के फर्टिलाइजर स्थित खाद कारखाने का उद्घाटन करने आ रहे देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के कार्यक्रम...
%d bloggers like this: