Tuesday, August 3, 2021

गोरखपुर को सिटी ऑफ नॉलेज के रूप में स्थापित करें: राष्ट्रपति

गोरखपुर के नवोदित कलाकारो से सजी फ़िल्म ‘ऑक्सीजन ‘के अभिनव प्रयास की खूब हो रही चर्चा

नवोदित कलाकारों को लेकर डॉ. सौरभ पाण्डेय की फ़िल्म 'ऑक्सीजन 'के अभिनव प्रयास ने रचा इतिहास

बड़हलगंज के बाबा जलेश्वरनाथ मंदिर के पोखरे का 98.5 लाख से होगा सुन्दरीकरण।

बड़हलगंज के बाबा जलेश्वरनाथ मंदिर के पोखरे का 98.5 लाख से होगा सुन्दरीकरण। ...

Maharajganj: प्राथमिक विद्यालय हो रहे मरम्मत कार्य में घटिया तरीके का किया जा रहा है प्रयोग

Maharajganj/Dhani: प्राथमिक विद्यालय हो रहें मरम्मत कार्य में अत्यन्त घटिया किस्म के मसाले व देशी बालू का अधिकता और सिमेन्ट नाम मात्र...

Maharajganj: नालियों के टूट जाने और समय से सफाई न होने से लोग हो रहे परेशान, जांच कर सम्बन्धित कर्मचारियों पर होगी कार्रवाई –...

महाराजगंज/धानी: महाराजगंज जनपद के धानी ब्लाक के अधिकारी भूल चूके हैं अपनी जिम्मेदारी। ग्राम सभा पुरंदरपुर के टोला केवटलिया में नाली टूट...

Maharajganj: दबंग पंचायत मित्र द्वारा किया जा रहा है अवैध नाली का निर्माण।

महराजगंज- फरेंदा ब्लॉक के अंतर्गत ग्राम सभा पिपरा तहसीलदार में पंचायत मित्र द्वारा अपने व्यक्तिगत नाली का निर्माण ग्राम सभा के मुख्य...

Download GT App from
Google Play

विज्ञापन के लिए संपर्क करें +91 7843810623 (WhatsApp)

राष्ट्रपति ने महाराणा प्रताप शिक्षा परिषद के 86वें संस्थापक सप्ताह समारोह में शताब्दी वर्ष के लिए ‘सिटी ऑफ़ नॉलेज’ के रूप में गोरखपुर को स्थापित करने का लक्ष्य दे दिया। गोरखनाथ मंदिर के महंत दिग्विजयनाथ स्मृति सभागार में 11 विद्यार्थियों को अपने हाथों से पुरस्कृत करने के बाद अपने सम्बोधन में राष्ट्रपति ने शिक्षा को विकास की कुंजी बताया। प्रसिद्ध समाजसेवी बाबा राघव दास, क्रांतिकारी पंडित रामप्रसाद बिस्मिल, प्रेमचंद, फिराक गोरखपुरी और गीता प्रेस का राष्ट्रपति ने अपने भाषण में खासतौर पर उल्लेख किया।

राष्ट्रपति कोविंद ने कहा कि प्रेम, करूणा और सद्भाव जैसे मूल्य ही शिक्षा के सर्वाधिक महत्वपूर्ण आयाम हैं। बुद्ध और कबीर अपने समय के बड़े शिक्षक थे। पूर्वांचल का सौभाग्य है कि यह दोनों से जुड़ी धरती है। शिक्षा की मूलभूत कसौटी अच्छा व्यक्तित्व होता है। उन्होंने आजादी के संघर्ष के दौरान महंत दिग्विजयनाथ द्वारा महाराणा प्रताप शिक्षा परिषद की स्थापना, अपने दो महाविद्यालय देकर गोरखपुर विवि की स्थापना में महत्वपूर्ण योगदान देने और शिक्षा की गुणवत्ता को बढ़ाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाने के लिए गोरक्षपीठ की सराहना की। उन्होंने कहा कि महाराणा प्रताप ने जनता की रक्षा के लिए हंसते-हंसते वनवासी जीवन का वरण किया था। परिषद के विद्यार्थियों के व्यक्तित्व में उसकी झलक मिलनी चाहिए।
राष्ट्रपति ने कहा कि देश में युवाओं की सबसे बड़ी संख्या उत्तर प्रदेश में है। इस युवा शक्ति और संसाधनों का सही इस्तेमाल कर देश प्रगति के पथ पर तेजी से आगे बढ़ सकता है। उन्होंने कहा कि पूर्वांचल के विकास के बिना उत्तर प्रदेश का समग्र विकास नहीं हो सकता।

ये भी पढ़े :  भाजपा ने जिस प्रकार से धड़ाधड़ ब्राह्मण सांसदो के टिकट काटे है उससे भाजपा के ब्राह्मण विरोधी मानसिकता प्रमाणित हो जाती है:- डॉ के सी पांडेय

Hot Topics

गोरखपुर : सगी बहन से शादी करने की जिद पर अड़ा भाई; यहां जाने क्या है माजरा !

उत्तर प्रदेश के गोरखपुर जिले में एक हैरान करने वाला मामला सामने आया है। यहां चिलुआताल में...

गोरखपुर:चिता पर रखे शव के जीवित होने पर मचा हड़कंप, रोकना पड़ा दाह संस्कार,

उत्तर प्रदेश के कुशीनगर में एक हैरान करने वाला मामला सामने आया है। यहां...

देवरिया:- थाने में ही महिला फरियादी के सामने हस्तमैथून करने वाला थानेदार फ़रार,25 हज़ार के इनाम की घोषणा

देवरिया के अंतर्गत आने वाले थाने भटनी में महिला फरियादी के सामने हस्तमैथुन करने वाली थानेदार के खिलाफ मुकदमा दर्ज...

Related Articles

गोरखपुर के नवोदित कलाकारो से सजी फ़िल्म ‘ऑक्सीजन ‘के अभिनव प्रयास की खूब हो रही चर्चा

नवोदित कलाकारों को लेकर डॉ. सौरभ पाण्डेय की फ़िल्म 'ऑक्सीजन 'के अभिनव प्रयास ने रचा इतिहास
ये भी पढ़े :  भाजपा ने जिस प्रकार से धड़ाधड़ ब्राह्मण सांसदो के टिकट काटे है उससे भाजपा के ब्राह्मण विरोधी मानसिकता प्रमाणित हो जाती है:- डॉ के सी पांडेय

बड़हलगंज के बाबा जलेश्वरनाथ मंदिर के पोखरे का 98.5 लाख से होगा सुन्दरीकरण।

बड़हलगंज के बाबा जलेश्वरनाथ मंदिर के पोखरे का 98.5 लाख से होगा सुन्दरीकरण। ...

विधायक विनय शंकर तिवारी किडनी की बीमारी से पीड़ित ग़रीब युवा के लिए बने मसीहा…

हाल ही में सोशल मीडिया के माध्यम से किडनी की बीमारी से पीड़ित व्यक्ति की मदद हेतु युवाओं के द्वारा अपील की...
%d bloggers like this: