Thursday, July 29, 2021

गोरखपुर: जर्जर हालात में ‘जिंदा’ है वीरों की शहादत की निशानी

Maharajganj: दबंग पंचायत मित्र द्वारा किया जा रहा है अवैध नाली का निर्माण।

महराजगंज- फरेंदा ब्लॉक के अंतर्गत ग्राम सभा पिपरा तहसीलदार में पंचायत मित्र द्वारा अपने व्यक्तिगत नाली का निर्माण ग्राम सभा के मुख्य...

पुलिस अधीक्षक द्वारा की गयी मासिक अपराध गोष्ठी में अपराधों की समीक्षा व रोकथाम हेतु दिये गये आवश्यक दिशा-निर्देश

Maharajganj: पुलिस अधीक्षक महराजगंज प्रदीप गुप्ता द्वारा आज दिनांक 17.07.2021 को पुलिस लाइन्स स्थित सभागार में मासिक अपराध गोष्ठी में कानून-व्यवस्था की...

शायर मुनव्वर राना के बोल, ‘दोबारा सीएम बने योगी तो यूपी छोड़ दूंगा’

लखनऊ: मशहूर शायर मुनव्वर राना एक बार फिर अपने बयान की वजह से सुर्खियों में हैं।उन्होंने कहा कि अगर योगी आदित्यनाथ दोबारा...

Maharajganj: CO सुनील दत्त दूबे द्वारा कुशल पर्यवेक्षण करने पर अपर पुलिस महानिदेशक जोन गोरखपुर ने प्रशस्ति पत्र से नवाजा।

Maharajganj/Farenda: सीओ फरेन्दा सुनील दत्त दूबे को थाना पुरन्दरपुर में नवीन बीट प्रणाली के क्रियान्वयन में कुशल पर्यवेक्षण करने पर अपर पुलिस...

विधायक विनय शंकर तिवारी किडनी की बीमारी से पीड़ित ग़रीब युवा के लिए बने मसीहा…

हाल ही में सोशल मीडिया के माध्यम से किडनी की बीमारी से पीड़ित व्यक्ति की मदद हेतु युवाओं के द्वारा अपील की...

Download GT App from
Google Play

विज्ञापन के लिए संपर्क करें +91 7843810623 (WhatsApp)

NBT

प्रकाशिनी मणि त्रिपाठी, गोरखपुर
सीएम योगी आदित्यनाथ का गृहजनपद अपनी अनेक ऐतिहासिक इमारतों के लिए प्रसिद्ध है। यह वही भूमि है जो शहीदों के स्मारकों के लिए प्रसिद्ध है। चौरी चौरा से लेकर घंटाघर तक, स्वतंत्रता संग्राम के वीरों के बलिदानों के किस्से आज भी इन इमारतों में जिंदा हैं। गोरखपुर के 20 फीट ऊंचे घंटाघर की दीवार के चारों तरफ राम प्रसाद बिस्मिल के पोस्टर के साथ ही अनेक क्रन्तिकारी स्लोगन लिखे गए हैं, जो उस समय के अंग्रेज अधिकारियो की क्रूरता को प्रदर्शित करते हैं।
ऐतिहासिक धरोहर के रूप में शामिल इस धरोहर की जर्जर दीवार अपने हालात खुद बयां करती है। इसका रंग ढल चुका है, चारों तरफ बिजली के खम्बे से तार लटके रहते हैं तो वहीं इसके नीचे ठेला पर सामान बेचने वालों का जमावड़ा लगा रहता है। इस धरोहर के वर्तमान स्थिति को देखकर इतिहासकार भी दुखी हैं। स्वतंत्रता संग्राम के समय 1857 के विद्रोह के समय यहां एक पाकड़ का पेड़ हुआ करता था। जो अंग्रेज अधिकारियों के क्रूरता को बयां करता था, इस पेड़ पर अली हसन सहित देश के कई योद्धाओं को फांसी के फंदे पर इसपर लटकाया गया।
शहीदों को समर्पित है यह इमारत
घंटाघर के निर्माण का श्रेय रायगंज के सेठ राम खेलावन और सेठ ठाकुर प्रसाद को जाता है। जिन्होंने सन 1930 में अपने पिता सेठ चिगांन की याद में यहां एक इमारत बनवाई, और इसे देश के शहीदों को समर्पित कर दिया। कुछ दिन तक यह चिगांन टावर के नाम से भी जाना गया लेकिन बाद में वहां घंटे वाली ब्रिटिश घड़ी टांगी गई. जिसके बाद से इसे घंटाघर के नाम से जाना जाने लगा।
पहले हुआ करता था पाकड़ का पेड़
कहा जाता है कि आज जहां घंटाघर है, वहां कभी पाकड़ का पेड़ हुआ करता था। उसी पेड़ पर अंग्रेज अफसर भारतीयों को फांसी की सजा देते थे। बाद में शहीदों ने अपने आक्रोश को व्यक्त करने के लिए इस स्थान को चुना। यहीं से बिस्मिल की माता ने भी भाषण दिया था। 19 दिसम्बर 1927 को राम प्रसाद बिस्मिल को जब जिला कारागार में फांसी दी गई तो यहां उनके शव को रखा गया था
क्या कहते हैं युवा नेता
शहर के युवा नेता शिव शंकर गौड़ मनीष ओझा गौरव वर्मा का कहना है कि इस इमारत को देख कर के ही उनके अंदर देश भक्ति की लहर दौड़ी है। इस जगह पर हमारे अनेक वीर सपूतों को फांसी दी गई। शहीदों को समर्पित इस जगह को धरोहर के रूप में शामिल किया गया है लेकिन प्रशासन इसे सहेजने सवारने में कितनी सक्रिय है यह इसकी दीवार को देख कर के ही अंदाज लगाया जा सकता है।
इसकी स्थिति से दुखी हैं इतिहासकार
गोरखपुर विश्विद्यालय के प्राचीन इतिहास विभाग के प्रोफेसर डॉ शीतला प्रसाद सिंह ने कहा है कि हम एक ओर ऐतिहासिक धरोहरों को सहेजने सवारने का काम कर रहे हैं तो वहीं जिले में अनेक ऐसे इमारत दिख जाएंगे जिसकी दीवारें जर्जर हालत में पड़ी हुई हैं। ऐतिहासिक इमारतें,धरोहर ही हमारी पूंजी है जिससे हमारे आने वाली पीढ़ी को कुछ सीखने को मिलेगा लेकिन वर्तमान स्थिति को देखकर मन दुखित हो जाता है।
Original Article

ये भी पढ़े :  बेलीपार लूट और हत्याकांड में गोरखपुर पुलिस के हाथ अब तक खाली

Hot Topics

गोरखपुर : सगी बहन से शादी करने की जिद पर अड़ा भाई; यहां जाने क्या है माजरा !

उत्तर प्रदेश के गोरखपुर जिले में एक हैरान करने वाला मामला सामने आया है। यहां चिलुआताल में...

गोरखपुर:चिता पर रखे शव के जीवित होने पर मचा हड़कंप, रोकना पड़ा दाह संस्कार,

उत्तर प्रदेश के कुशीनगर में एक हैरान करने वाला मामला सामने आया है। यहां...

देवरिया:- थाने में ही महिला फरियादी के सामने हस्तमैथून करने वाला थानेदार फ़रार,25 हज़ार के इनाम की घोषणा

देवरिया के अंतर्गत आने वाले थाने भटनी में महिला फरियादी के सामने हस्तमैथुन करने वाली थानेदार के खिलाफ मुकदमा दर्ज...

Related Articles

विधायक विनय शंकर तिवारी किडनी की बीमारी से पीड़ित ग़रीब युवा के लिए बने मसीहा…

हाल ही में सोशल मीडिया के माध्यम से किडनी की बीमारी से पीड़ित व्यक्ति की मदद हेतु युवाओं के द्वारा अपील की...

ब्लॉक प्रमुख बड़हलगंज आशीष राय के जीत की गूंज सात समंदर पार भी…

बड़हलगंज से आशीष राय के विजयी घोषित होने पर विदेशों में भी बंटी मिठाइयां
ये भी पढ़े :  विश्वविद्यालय प्रशासन पर छात्रों ने लगाया तानाशाही व मेस के नाम पर धनउगाही करने का आरोप,मुख्यद्वार पर छात्रों ने दिया धरना,जमकर की नारेबाजी.....
गोरखपुर। शनिवार को तीन ब्लॉक...

भाजपा ने ब्लॉक प्रमुख के लिए विधायक विपिन सिंह की पत्नी नीता सिंह,विधायक संत प्रसाद की बहू पर खेला दाँव, देखें गोरखपुर की सूची…

जिला पंचायत अध्यक्ष के चुनाव संपन्न होने के उपरांत त्रिस्तरीय पंचायत को और सुदृढ़ बनाने के लिए भारतीय जनता पार्टी के द्वारा...
%d bloggers like this: