Monday, May 27, 2019
Gorakhpur

गोरखपुर में जैमर ने जाम किया JIO का नेटवर्क….

गोरखपुर के विभिन्न क्षेत्रों में रिलायंस जीओ का नेटवर्क की सेवा तीन दिन से ठप है। मोबाइल हैण्डसेट से बार-बार नेटवर्क गायब होने से करीब 12 लाख उपभोक्ता परेशान है। नेटवर्क गायब होने से परेशान उपभोक्ता अपना हैण्डसेट बार-बार आफ -आन कर रहें है।

हैण्डसेट आफ करके आन करने पर नेटवर्क आ तो जा रहा है। लेकिन उससे उपभोक्ता कोई काम नहीं कर पा रहें है। काम-काजी व नौकरी पेशा लोग दूसरी संचार कंपनी के सिमकार्ड के माध्यम से डेटा का इस्तेमाल कर जरुरी काम निपटा रहे है। रिलांयस जीओ के अफसरों का कहना है कि महानगर में उपर के निर्देश पर दो जैमर लगाए गए है। जिसके कारण महानगर में नेटवर्क प्रभावित हो गया है।

दरअसल संचार कंपनी रिलायंस जीओं की सेवा चालू होने के बाद लाखों उपभोक्ताओं ने जीओ का सिमकार्ड लिया। इसके साथ ही बहुत से लोगों ने अपने नम्बर को पोर्ट भी करा लिया। आकर्षक आफर के चलते उपभोक्ताओं ने जीओ की सेवा पर भरोसा कर लिया। अब तीन दिन से नेटवर्क प्रभावित होने से लाखों उपभोक्ता हैरान-परेशान है।

जीओ उपभोक्ता सुरेश, समीर, संजीव, पुष्पेन्द्र, रमेश आदि ने बताया कि तीन दिन से जीओ की डेटा सर्विस काम नहीं कर रही है। ह्वाटसअप पर आने वाले फोटो व मैसेज को अपलोड करने की कोशिश बेकार साबित हो रही है। फोटो व मैसेज भी नहीं सेण्ड हो पा रहे है। कंपनी के काल सेण्टर पर हर समय लाइन व्यस्त ही आ रही है। समझ में नहीं आ रहा है कि कहां शिकायत दर्ज कराएं।

महानगर के कारोबारी व नौकरी पेशा लोगों का कहना है कि जीओ की डेटा सर्विस ठप होने से हमने दूसरी कंपनी का डेटा इस्तेमाल कर जरुरी काम निपटा रहे है। जीओ के नेटवर्क में हर समय दिक्कत रहती है। लेकिन डेटा ज्यादा व सस्ता होने के कारण उसका इस्तेमाल करना मजबूरी हो गई है। हालांकि दूसरी संचार कंपनिया भी सस्ता डेटा उपलब्ध करा रहीं है।

इस तरह नेटवर्क की खामी बनी रही तो नम्बर दूसरी कंपनी में पोर्ट करना ही पड़ेगा। रिलांयस जीओं गोरखपुर जोन के अधिकारी वीरेन्द्र सिंह ने ‘हिन्दुस्तान’ को बताया कि एयरफोर्स व जेल परिसर में शासन के निर्देश पर जैमर लगाया है। इस जैमर ने कंपनी की डेटा सेवा को प्रभावित कर दिया है। कारण यह कि जीओ की वायस कालिंग भी डेटा के माध्यम से होती है। जैमर ने डेटा सेवा को ही जाम कर दिया है। एक सवाल के जवाब में उन्होंने कहा कि दोनों जैमर हाई फ्रीक्वेंसी के है। ऐसे में पूरा शहर तो प्रभावित होगा ही।

Advertisements
%d bloggers like this: