Sunday, October 13, 2019
Gorakhpur

गोरखपुर लिंक एक्सप्रेस-वे के लिए 400 करोड़ रुपये जारी….

प्रदेश सरकार ने गोरखपुर लिंक एक्सप्रेस- वे के लिए 400 करोड़ रुपये जारी कर दिए हैं। यह रकम गोरखपुर और अम्बेडकर नगर में जमीन खरीद पर खर्च होगी।

सरकार ने वित्तीय वर्ष 2019-20 के लिए गोरखपुर लिंक एक्सप्रेस-वे के लिए 1000 करोड़ रुपये का बजटीय प्रावधान किया था। इस मद में अब 834.921 करोड़ रुपये बचे हैं। इसी धनराशि से 300 करोड़ गोरखपुर के डीएम को दिए जाएंगे ताकि वह जमीन खरीद में इस रकम का इस्तेमाल कर सकें। बाकी 100 करोड़ अम्बेडकरनगर के डीएम को दिए जाएंगे। यह पैसा डीएम के खाते में जाएगा। जिलाधिकारी की जिम्मेदारी होगी कि वह इस रकम के इस्तेमाल का उपभोग प्रमाण समय से यूपीडा को उपलब्ध करा दें और यूपीडा की जिम्मेदारी होगी कि वह इस खर्च पर निगाह रखे। असल में यह गोरखपुर लिंक एक्सप्रेस-वे आजमगढ़ के रास्ते पूर्वांचल एक्सप्रेस- वे से जुड़ेगा।

110 मीटर चौड़ाई में होगा अधिग्रहण

लिंक एक्सप्रेस-वे के लिए 110 मीटर चौड़ाई में जमीन का अधिग्रहण होना प्रस्तावित है। गोरखपुर के सहजनवां और खजनी में जमीनों का सर्वाधिक अधिग्रहण होना है। लिंक एक्सप्रेस-वे के लिए जमीन का नये सिरे से अधिग्रहण किया जा रहा है। ऐसा इसलिये होगा ताकि कस्बाई इलाकों में मकान-दुकान और बड़े-बड़े पेड़ को नुकसान नहीं हो। इसके साथ ही अधिग्रहण में इस बात का भी ध्यान रखा जाएगा कि फोरलेन के दोनों तरफ इंण्डस्ट्रीयल कारीडोर विकसित किया जा सके।

लिंक एक्सप्रेस-वे का यह होगा रूट

लिंक एक्सप्रेस वे कुशीनगर-कालेसर फोरलेन के सोनवल के पास से शुरू होगा। लिंक एक्सप्रेस खजनी, हरनही, सिकरीगंज, बेलघाट, कम्हरियाघाट होते हुए पूर्वांचल एक्सप्रेस वे से मिलेगा। गोरखपुर की सीमा में लिंक एक्सप्रेस की लंबाई 47 किमी होगी और अंबेडकर नगर में 42.5 किमी होगी। अंबेडकर नगर के शाहगंज में पूर्वांचल एक्सप्रेस वे और लिंक एक्सप्रेस मिलेंगे।

Advertisements
%d bloggers like this: