Wednesday, September 29, 2021

गोरखपुर से बड़ी ख़बर कालमेघ पौधे से हो सकता कोरोना का इलाज़,पढ़ें पूरी रिपोर्ट

Maharajganj: हड़हवा टोल प्लाजा पर भेदभाव हुआ तो होगा आन्दोलन।

फरेन्दा, महराजगंज: फरेन्दा नौगढ़ मार्ग पर स्थित हड़हवा टोल प्लाजा पर प्रबन्धक द्वारा कुछ विशेष लोगो को छोड़ बाकी सबसे टोल टैक्स...

Maharajganj: बृजमनगंज थाना क्षेत्र में चोरों के हौसले बुलंद, लोग पूछ रहे सवाल क्या कर रहे हैं जिम्मेदार

बृजमनगंज, महाराजगंज. थाना क्षेत्र में पुलिस की निष्क्रियता के चलते चोरों के हौसले बुलंद है. जिसके कारण चोरी की घटनाएं बढ़ रही...

गोरखपुर:- बोरे में भरकर लाश को ठिकाने लगाने ले जा रहे जीजा साले को पुलिस ने किया गिरफ्तार

बोरे में भरकर लाश को ठिकाने लगाने ले जा रहे जीजा साले को पुलिस ने किया गिरफ्तार गोरखपुर। दिल्ली...

Maharajganj: औकात में रहना सिखो बेटा नहीं तो तुम्हारे घर में घुस कर मारेंगे-भाजपा आईटी सेल मंडल संयोजक, भद्दी भद्दी गालियां फेसबुक पर वायरल।

Maharajganj: महाराजगंज जनपद में भाजपा द्वारा नियुक्त धानी मंडल संयोजक का फेसबुक पर गाली-गलौज और धमकी वायरल। फेसबुक पर धानी मंडल संयोजक...

खुशखबरी:-सहजनवा दोहरीघाट रेलवे ट्रैक को मंजूरी 1320 करोड़ स्वीकृत

गोरखपुर के लिहाज़ से एक बड़ी ख़बर प्राप्त हो रही है जिसमे यह बताया जा रहा है कि सहजनवा दोहरीघाट रेलवे ट्रैक...

Download GT App from
Google Play

विज्ञापन के लिए संपर्क करें +91 7843810623 (WhatsApp)

कालमेघ पौधे से हो सकता है कोविड-19 का इलाज

यह शोध गोरखपुर विश्वविद्यालय वनस्पति विज्ञान विभाग के शोध छात्र रजनीश राय एवं प्रोफेसर मालविका श्रीवास्तव के द्वारा किया गया है। नोबल कोरोना वायरस रोग जो कि कोविड-19 के नाम से प्रसिद्ध है, वह एक वायरस SARS-CoV-2 के द्वारा होता है। यह वायरस संक्रमण के बाद हमारे शरीर के प्राथमिक प्रतिरोधक प्रक्रिया के सक्रिय होने में 7 से 10 दिन लगते हैं इस दौरान वायरस तेजी से अपनी वृद्धि करता है और अलग-अलग तरह के रासायनिक पदार्थ निकालता है, जिससे हमारा इम्यून सिस्टम सक्रिय होता है और भिन्न तरह के रोग के लक्षण प्रदर्शित होने शुरू हो जाते हैं। अब इसमें हमारे शरीर की प्रतिरोधक क्षमता के ऊपर निर्भर करता है कि वह इन लक्षणों से अपने आप को कैसे बचा पाती है।

ये भी पढ़े :  कोरोना पॉजिटिव गांव के लोगों की बढ़ी दिक्कत

शरीर की प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाना जरूरी है जो मजबूती से संक्रमण से तथा शरीर की कोशिकाओं और उसको के मरने से बचाएगा।
इस अध्ययन में शोधार्थियों ने कालमेघ पौधे का चुनाव किया, जिस का वैज्ञानिक नाम एंड्रोग्राफिस पैनीकुलेटा है जो एकेन्थेसी कुल का पौधा है। इस पौधे मैं विभिन्न प्रकार के औषधिय गुण पाए जाते हैं, ऐसा हमारे प्राचीन चिकित्सा पद्धति में जिक्र पाया जाता है। जिसमें बहुत सारी लाइलाज बीमारियों जैसे कैंसर, डायबिटीज, उच्च रक्तचाप, अल्सर, लेप्रोसी, इनफ्लुएंजा, डिसेंट्री इत्यादि के इलाज में इस पौधे का प्रयोग किया जाता रहा है।
इस पौधे में विभिन्न प्रकार के जैव रासायनिक पदार्थ होते है, जैसे एंड्रोग्राफ़ोलाइड, नियोएंड्रोग्राफ़ोलाइड, डीहाइड्रोएंड्रोग्राफ़ोलाइड महत्वपूर्ण होता है।

ये भी पढ़े :  कोरोना पॉजिटिव गांव के लोगों की बढ़ी दिक्कत

इन जैव रसायनों के पास एंटी-इन्फ्लेमेटरी और इम्यूनिटी माड्युलेट्री गुण पाया जाता है। यह जैव रसायन न्यूमोनिया के लक्षणों को कम करने की योग्यता रखते हैं। उपर्युक्त जैव रसायनों में से एंड्रोग्राफ़ोलाइड के पास anti-inflammatory प्रभाव होता है। इस पौधे से एंड्रोग्राफ़ोलाइड को निकाल कर जब देखा गया तो यह कंपाउंड इम्यूनोमोड्यूलेटरी प्रभाव वाला पाया गया, जो हमारे इम्यून सिस्टम को और प्रभावी बनाता है इन सभी गुणों को देखते हुए यह निष्कर्ष निकलता है की कालमेघ एक चमत्कारिक पौधा है जो कोविड-19 वायरस के द्विगुणन को तथा इससे उत्पन्न होने वाले बीमारी के लक्षणों को ठीक कर सकता है। इस तरीके से देखा जाए तो कालमेघ पौधे को जब तक कोई ऑथेंटिक दवाई खोज नहीं ली जाती है तब तक हम एक हर्बल विकल्प और एक संपूरक दवा के रूप में प्रयोग कर सकते हैं।

ये भी पढ़े :  जमातियों पर सीएम योगी ने कहा – ये ना क़ानून मानेंगे, ना सिस्टम, ये मानवता के दुश्मन, इन्हें छोड़ेंगे नहीं

गोरखपुर टाइम्स के सत्य चरण लक्क़ी से बातचीत के आधार पर

Hot Topics

गोरखपुर : सगी बहन से शादी करने की जिद पर अड़ा भाई; यहां जाने क्या है माजरा !

उत्तर प्रदेश के गोरखपुर जिले में एक हैरान करने वाला मामला सामने आया है। यहां चिलुआताल में...

गोरखपुर:चिता पर रखे शव के जीवित होने पर मचा हड़कंप, रोकना पड़ा दाह संस्कार,

उत्तर प्रदेश के कुशीनगर में एक हैरान करने वाला मामला सामने आया है। यहां...

देवरिया:- थाने में ही महिला फरियादी के सामने हस्तमैथून करने वाला थानेदार फ़रार,25 हज़ार के इनाम की घोषणा

देवरिया के अंतर्गत आने वाले थाने भटनी में महिला फरियादी के सामने हस्तमैथुन करने वाली थानेदार के खिलाफ मुकदमा दर्ज...

Related Articles

गोरखपुर:- बोरे में भरकर लाश को ठिकाने लगाने ले जा रहे जीजा साले को पुलिस ने किया गिरफ्तार

बोरे में भरकर लाश को ठिकाने लगाने ले जा रहे जीजा साले को पुलिस ने किया गिरफ्तार गोरखपुर। दिल्ली...

खुशखबरी:-सहजनवा दोहरीघाट रेलवे ट्रैक को मंजूरी 1320 करोड़ स्वीकृत

गोरखपुर के लिहाज़ से एक बड़ी ख़बर प्राप्त हो रही है जिसमे यह बताया जा रहा है कि सहजनवा दोहरीघाट रेलवे ट्रैक...

दोषियों के खिलाफ होगी कड़ी कार्रवाई: सांसद कमलेश पासवान

दोषियों के खिलाफ होगी कड़ी कार्रवाई: सांसद बांसगांव लोकसभा के सांसद कमलेश पासवान ने कास्त मिश्रौली निवासी भाजपा नेता...
%d bloggers like this: