Monday, September 20, 2021

चुनाव के बीच योगी सरकार का फैसला, बरेली से प्रयागराज जेल ट्रांसफर होगा अतीक अहमद….

गोरखपुर:- बोरे में भरकर लाश को ठिकाने लगाने ले जा रहे जीजा साले को पुलिस ने किया गिरफ्तार

बोरे में भरकर लाश को ठिकाने लगाने ले जा रहे जीजा साले को पुलिस ने किया गिरफ्तार गोरखपुर। दिल्ली...

Maharajganj: औकात में रहना सिखो बेटा नहीं तो तुम्हारे घर में घुस कर मारेंगे-भाजपा आईटी सेल मंडल संयोजक, भद्दी भद्दी गालियां फेसबुक पर वायरल।

Maharajganj: महाराजगंज जनपद में भाजपा द्वारा नियुक्त धानी मंडल संयोजक का फेसबुक पर गाली-गलौज और धमकी वायरल। फेसबुक पर धानी मंडल संयोजक...

खुशखबरी:-सहजनवा दोहरीघाट रेलवे ट्रैक को मंजूरी 1320 करोड़ स्वीकृत

गोरखपुर के लिहाज़ से एक बड़ी ख़बर प्राप्त हो रही है जिसमे यह बताया जा रहा है कि सहजनवा दोहरीघाट रेलवे ट्रैक...

दोषियों के खिलाफ होगी कड़ी कार्रवाई: सांसद कमलेश पासवान

दोषियों के खिलाफ होगी कड़ी कार्रवाई: सांसद बांसगांव लोकसभा के सांसद कमलेश पासवान ने कास्त मिश्रौली निवासी भाजपा नेता...

पूर्वांचल में मदद की परिभाषा बदलने का ऐतिहासिक कार्य कर रहे हैं युवा नेता पवन सिंह….

युवा नेता पवन सिंह ने मदद करने की परिभाषा पूरी तरह बदल दी है. उन्होंने मदद का दायरा इतना ज्यादा बढ़ा दिया...

Download GT App from
Google Play

विज्ञापन के लिए संपर्क करें +91 7843810623 (WhatsApp)

लोकसभा चुनाव के बीच उत्तर प्रदेश की योगी सरकार ने बाहुबली अतीक अहमद को प्रयागराज सेंट्रल जेल में ट्रांसफर करने का फैसला किया है. अतीक अहमद फिलहाल बरेली जेल में कैद है और माना जा रहा है कि 23 अप्रैल को यहां होने वाले तीसरे चरण के मतदान को देखते हुए यह फैसला लिया गया है. इस साल की शुरुआत में अतीक अहमद को देवरिया जेल से बरेली लाया गया था.

जानकारी के मुताबिक उत्तर प्रदेश की योगी सरकार ने चुनाव आयोग से अतीक के जेल ट्रांसफर से संबंधी इजाजत मांगी थी. लोकसभा चुनाव की वजह से यूपी के साथ पूरे देश में आचार संहिता लागू है और ऐसे में कोई भी प्राशसनिक कदम उठाने से पहले आयोग की सलाह जरूर ली जाती है. हालांकि मुश्किल यह है कि अतीक खुद पूर्वांचल क्षेत्र से आता है और ऐसे में प्रयागराज की जेल में अतीक को रखने के लिए प्रशासन को ज्यादा सतर्कता बरतनी पड़ेगी.

ये भी पढ़े :  ससुर ने बहू से बनाए नाजायज संबंध, पति को पता चला तो उसने पिता को मार डाला....

बरेली लोकसभा सीट पर तीसरे चरण में मतदाना होना है और ऐसे में इलाके में कानून व्यवस्था कायम रखना प्रशासन की पहली जिम्मेदारी है. अतीक को नैनी स्थित प्रयागराज की सेंट्रल जेल में ट्रांसफर किया जाएगा, जहां छठे चरण में 12 मई को वोटिंग होनी है. जेल में रहने के दौरान भी अतीक के पास से कई बार मोबाइल फोन बरामद हो चुके हैं और वह जेल में बैठकर भी बाहर आपराधिक वारदातों को अंजाम दे चुका है.

ये भी पढ़े :  भाजपा विधायक योगेश वर्मा को होली के दौरान मारी गई गोली...

देवरिया जेल में बंद होने के दौरान अतीक के पास से मोबाइल और सिम मिले थे. अतीक अपने विरोधी अपराधियों से जेल में हिंसक झड़पों के लिए भी बदनाम है. प्रशासन के लिए अतीक जैसे अपारधियों को जेल में रखना भी किसी चुनौती से कम नहीं है. उस पर जेल के भीतर भी सिंडिकेट तैयार करने के आरोप लगे हैं और वह अंदर अपराध की साजिश रचता रहता है.

कौन है अतीक अहमद

अतीक अहमद का जन्म 10 अगस्त 1962 को हुआ था. मूलत वह उत्तर प्रदेश के श्रावस्ती जनपद के रहने वाले हैं. पढ़ाई लिखाई में उनकी कोई खास रूचि नहीं थी. इसलिये उन्होंने हाई स्कूल में फेल हो जाने के बाद पढ़ाई छोड़ दी थी. कई माफियाओं की तरह ही अतीक अहमद ने भी जुर्म की दुनिया से सियासत की दुनिया का रुख किया था. पूर्वांचल और इलाहाबाद में सरकारी ठेकेदारी, खनन और उगाही के कई मामलों में उनका नाम आया. अतीक अहमद के खिलाफ उत्तर प्रदेश के लखनऊ, कौशाम्बी, चित्रकूट, इलाहाबाद ही नहीं बल्कि बिहार राज्य में भी हत्या, अपहरण, जबरन वसूली आदि के मामले दर्ज हैं. अतीक के खिलाफ सबसे ज्यादा मामले इलाहाबाद जिले में ही दर्ज हुए.

ये भी पढ़े :  उत्तर प्रदेश पुलिस की रणनीति आई काम, सात माह में गिरा क्राइम का ग्राफ....

साल 2004 के लोकसभा चुनाव में समाजवादी पार्टी ने अतीक को फूलपुर संसदीय क्षेत्र से टिकट दिया और वह सांसद बन गए. उत्तर प्रदेश की सत्ता मई, 2007 में मायावती के हाथ आ गई. अतीक अहमद के हौसले पस्त होने लगे. उनके खिलाफ एक के बाद एक मुकदमे दर्ज हो रहे थे. इसी दौरान अतीक अहमद भूमिगत हो गए थे.

ये भी पढ़े :  BMW से सब्जी लेने नोएडा से मेरठ चला आया रईसजादा, पुलिस ने रोका और फिर...

Hot Topics

गोरखपुर : सगी बहन से शादी करने की जिद पर अड़ा भाई; यहां जाने क्या है माजरा !

उत्तर प्रदेश के गोरखपुर जिले में एक हैरान करने वाला मामला सामने आया है। यहां चिलुआताल में...

गोरखपुर:चिता पर रखे शव के जीवित होने पर मचा हड़कंप, रोकना पड़ा दाह संस्कार,

उत्तर प्रदेश के कुशीनगर में एक हैरान करने वाला मामला सामने आया है। यहां...

देवरिया:- थाने में ही महिला फरियादी के सामने हस्तमैथून करने वाला थानेदार फ़रार,25 हज़ार के इनाम की घोषणा

देवरिया के अंतर्गत आने वाले थाने भटनी में महिला फरियादी के सामने हस्तमैथुन करने वाली थानेदार के खिलाफ मुकदमा दर्ज...

Related Articles

पूर्वांचल में मदद की परिभाषा बदलने का ऐतिहासिक कार्य कर रहे हैं युवा नेता पवन सिंह….

युवा नेता पवन सिंह ने मदद करने की परिभाषा पूरी तरह बदल दी है. उन्होंने मदद का दायरा इतना ज्यादा बढ़ा दिया...

स्वर्णकार समाज ने लोकसभा , विधानसभा में अपने प्रतिनिधित्व के लिए भरी हुँकार,जल्द प्रदेश व्यापी होगी सभा

स्वर्णकार समाज का स्वर लोकसभा एवं विधानसभाओं में मुखरित हो प्रतिनिधित्व सभी पंचायतों में हो इस विचार के साथ स्वर्णकार समाज...

यूपी में कई IPS बदले गए,दिनेश कुमार गोरखपुर के नए एसएसपी.

कई IPS के तबादले हुए जिसमे गोरखपुर के एसएसपी जोगेंद्र कुमार को झाँसी का नया डीआईजी बनाया...
%d bloggers like this: