Wednesday, April 14, 2021

जानिये कहानी गोलघर काली मंदिर की,जिनकी महिमा है अपरम्पार,पूरी होती है मुरादे,अभिनेता व सांसद रवि किशन भी पहुचे आशीर्वाद लेने….

गोरखपुर :- आरपीएम के छात्र प्रवीण ने बढ़ाया ज़िले का मान,SDM बनकर करेंगें प्रदेश की सेवा

प्रदेश की सर्वश्रेष्ठ परीक्षाओं में से एक उत्तर प्रदेश लोक सेवा आयोग 2020 की परीक्षा का परिणाम लोक सेवा आयोग के द्वारा...

नाईट कर्फ्यू का पालन करवाने के लिए सीओ गोरखनाथ मुस्तैद,अनावश्यक निकलने पर होगी कार्यवाही….

कोरोना का प्रकोप जिले में बहुत तेज़ी से बढ़ रहा है।। इसको देखते हुए आज से नाईट कर्फ्यू की शुरुआत हो गयी...

दिनेश पांडेय एक बार फ़िर से सिधुवापार के प्रत्याशी के रूप में हुए सक्रिय

त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव की शुरुआत होने के साथ ही जगह जगह प्रत्याशियों के द्वारा प्रचार प्रसार किया...

सांसद रवि किशन ने जिला।चिकित्सालय गोरखपुर में लिया कोरोना वैक्सीन का पहला डोज लगवाया..

वैश्विक महामारी कोरोना से बचाव हेतु गोरखपुर के सदर सांसद एवं अभिनेता रवि किशन ने आज गोरखपुर नेताजी...

कौड़ीराम से जितेंद्र सिंह (बबुआ) ने चुनाव प्रचार में झोंकी ताकत

जितेंद्र सिंह (बबुआ) ने चुनाव प्रचार में झोंकी ताकत पूर्व प्रत्याशी अजय सिंह व जे.के. सिंह ने दिया समर्थन

Download GT App from
Google Play

विज्ञापन के लिए संपर्क करें +91 7843810623 (WhatsApp)

गोरखपुर के हृदय स्थली गोलघर में स्थित काली मंदिर की अपनी महिमा अपरम्पार है।।रेलवे स्टेशन से मात्र डेढ़ किलोमीटर पर स्थित कालीमंदिर शहर के नामचीन व मशहूर मंदिरों में से एक है।।इसकी महिमा दूर-दूर तक फैली है।।ऐसी मान्यता है कि यहां मांगी हर मुराद पूरी हो जाती है इसलिए नवरात्र के दिनों में माँ के दर्शन हेतु भोर से ही श्रद्धालुओं की भीड़ लग जाती है।।यही कारण रहा दो दिन पहले अभिनेता व सांसद रविकिशन भी गोलघर कालीमंदिर पहुचे और माँ का आशीर्वाद लिया और मीडिया से बात करते हुए कहा कि हम माई का धन्यवाद करने आए है जिनकी वजह से मैं।भारी बहुमत से चुनाव जीते।।

ये भी पढ़े :  स्कूल फीस माफी के लिए चला अभियान, आप भी कर सकते है सहयोग ।

बताया जाता है कि जब रेलवे स्टेशन से लेकर गोलघर का पूरा क्षेत्र जंगल हुआ करता था तो गोलघर स्थित मंदिर में पहले जमीन से माँ की मूर्ति निकली थी।। बाद में वहाँ पर काली माँ की बड़ी मूर्ति लगाई गई।।पर मूर्ति के सामने अगर नीचे देखे तो काली मां का चेहरा आज भी वैसा ही है, जैसा जमीन से निकला था।।जमीन से निकली मूर्ति की पूजा हेतु लोग इकट्ठा हो गए और श्रद्धा जुड़ती गई।।धीरे-धीरे श्रद्धालुयों की मुरादे पूरी होती गई और आस्था का केंद्र बनता गया।।इसकी चर्चा दूर-दूर तक होने लगी तो 1948 में यहां मंदिर निर्माण कराया गया।।

ये भी पढ़े :  गोरखपुर में इस समाजसेवी ने अपने मातृभूमि पर जो किया उसने जीत लिया दिल....

अब वहां प्रतिदिन पूजा पाठ होती है और सैकड़ो श्रद्धालुओ प्रतिदिन आते है ।।वही नवरात्र के दिनों में हजारों की संख्या में भक्तों की भीड़ लगती है सुबह से ही कतार लगनी शुरू हो जाती है।।

Hot Topics

गोरखपुर : सगी बहन से शादी करने की जिद पर अड़ा भाई; यहां जाने क्या है माजरा !

उत्तर प्रदेश के गोरखपुर जिले में एक हैरान करने वाला मामला सामने आया है। यहां चिलुआताल में...

गोरखपुर:चिता पर रखे शव के जीवित होने पर मचा हड़कंप, रोकना पड़ा दाह संस्कार,

उत्तर प्रदेश के कुशीनगर में एक हैरान करने वाला मामला सामने आया है। यहां...

देवरिया:- थाने में ही महिला फरियादी के सामने हस्तमैथून करने वाला थानेदार फ़रार,25 हज़ार के इनाम की घोषणा

देवरिया के अंतर्गत आने वाले थाने भटनी में महिला फरियादी के सामने हस्तमैथुन करने वाली थानेदार के खिलाफ मुकदमा दर्ज...

Related Articles

गोरखपुर :- आरपीएम के छात्र प्रवीण ने बढ़ाया ज़िले का मान,SDM बनकर करेंगें प्रदेश की सेवा

प्रदेश की सर्वश्रेष्ठ परीक्षाओं में से एक उत्तर प्रदेश लोक सेवा आयोग 2020 की परीक्षा का परिणाम लोक सेवा आयोग के द्वारा...

नाईट कर्फ्यू का पालन करवाने के लिए सीओ गोरखनाथ मुस्तैद,अनावश्यक निकलने पर होगी कार्यवाही….

कोरोना का प्रकोप जिले में बहुत तेज़ी से बढ़ रहा है।। इसको देखते हुए आज से नाईट कर्फ्यू की शुरुआत हो गयी...

दिनेश पांडेय एक बार फ़िर से सिधुवापार के प्रत्याशी के रूप में हुए सक्रिय

त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव की शुरुआत होने के साथ ही जगह जगह प्रत्याशियों के द्वारा प्रचार प्रसार किया...
%d bloggers like this: