Saturday, September 25, 2021

डिजिटल स्किल में सबसे अव्वल है भारत, ब्रिटेन-अमेरिका को भी पछाड़ा….

Maharajganj: हड़हवा टोल प्लाजा पर भेदभाव हुआ तो होगा आन्दोलन।

फरेन्दा, महराजगंज: फरेन्दा नौगढ़ मार्ग पर स्थित हड़हवा टोल प्लाजा पर प्रबन्धक द्वारा कुछ विशेष लोगो को छोड़ बाकी सबसे टोल टैक्स...

Maharajganj: बृजमनगंज थाना क्षेत्र में चोरों के हौसले बुलंद, लोग पूछ रहे सवाल क्या कर रहे हैं जिम्मेदार

बृजमनगंज, महाराजगंज. थाना क्षेत्र में पुलिस की निष्क्रियता के चलते चोरों के हौसले बुलंद है. जिसके कारण चोरी की घटनाएं बढ़ रही...

गोरखपुर:- बोरे में भरकर लाश को ठिकाने लगाने ले जा रहे जीजा साले को पुलिस ने किया गिरफ्तार

बोरे में भरकर लाश को ठिकाने लगाने ले जा रहे जीजा साले को पुलिस ने किया गिरफ्तार गोरखपुर। दिल्ली...

Maharajganj: औकात में रहना सिखो बेटा नहीं तो तुम्हारे घर में घुस कर मारेंगे-भाजपा आईटी सेल मंडल संयोजक, भद्दी भद्दी गालियां फेसबुक पर वायरल।

Maharajganj: महाराजगंज जनपद में भाजपा द्वारा नियुक्त धानी मंडल संयोजक का फेसबुक पर गाली-गलौज और धमकी वायरल। फेसबुक पर धानी मंडल संयोजक...

खुशखबरी:-सहजनवा दोहरीघाट रेलवे ट्रैक को मंजूरी 1320 करोड़ स्वीकृत

गोरखपुर के लिहाज़ से एक बड़ी ख़बर प्राप्त हो रही है जिसमे यह बताया जा रहा है कि सहजनवा दोहरीघाट रेलवे ट्रैक...

Download GT App from
Google Play

विज्ञापन के लिए संपर्क करें +91 7843810623 (WhatsApp)

डिजिटल कामकाज को लेकर भारत दुनियाभर में सबसे कुशल देश है। जबकि ब्रिटेन और अमेरिका दूसरे-तीसरे स्थान पर हैं। Gartner Inc. के गुरुवार को जारी सर्वे में बताया गया कि डिजिटल प्लेटफॉर्म पर काम करने वाले 67 फीसदी कर्मचारियों ने मशीन लर्निंग, एआई और इंटरनेट ऑफ थिंग्स जैसी नई तकनीक को अपने कामकाज के लिए बेहतर बताया है।
गार्टनर 2019 डिजिटल वर्कप्लेस सर्वे के अनुसार – अधिकांश भारतीय कर्मचारी डिजिटल क्षेत्र की नई तकनीकों को सीखने में रुचि दिखा रहे हैं। 27 फीसदी से ज्यादा कर्मचारी डिजिटली रूप से पूरी तरह दक्ष हो चुके हैं और 10 में से 7 कर्मचारी नई तकनीकों को उच्च वेतन और बेहतर अवसर के रूप में देखते हैं।

ये भी पढ़े :  शर्मनाक: कंधे पर ऑक्सीजन सिलेंडर और ट्रे में नवजात को लेकर भटकता रहा दंपति, इलाज नहीं मिलने से मासूम की मौत
Demo Pic

तकनीकी पेशेवरों का मानना है कि मैन्युअल या सेमी स्किल्ड कर्मचारियों के बजाए डिजिटल तकनीक में दक्ष लोगों की मांग ज्यादा है। कर्मचारियों द्वारा रियल टाइम सहयोग के लिए टूल इस्तेमाल करने के मामले में सिंगापुर और भारत काफी आगे हैं, जबकि चीन, फ्रांस, जर्मनी, अमेरिका और ब्रिटेन में इसका विकास सुस्त है। रिपोर्ट बताती है कि 45 फीसदी भारतीय कर्मचारियों को इस बात से कोई फर्क नहीं पड़ता कि डिजिटल तकनीक उनके कामकाज की आदतों की निगरानी करती है।

ये भी पढ़े :  अगर करना है ट्रेन में सफर तो डाउनलोड करें ये ऐप - सरकार ने किया अनिवार्य

Hot Topics

गोरखपुर : सगी बहन से शादी करने की जिद पर अड़ा भाई; यहां जाने क्या है माजरा !

उत्तर प्रदेश के गोरखपुर जिले में एक हैरान करने वाला मामला सामने आया है। यहां चिलुआताल में...

गोरखपुर:चिता पर रखे शव के जीवित होने पर मचा हड़कंप, रोकना पड़ा दाह संस्कार,

उत्तर प्रदेश के कुशीनगर में एक हैरान करने वाला मामला सामने आया है। यहां...

देवरिया:- थाने में ही महिला फरियादी के सामने हस्तमैथून करने वाला थानेदार फ़रार,25 हज़ार के इनाम की घोषणा

देवरिया के अंतर्गत आने वाले थाने भटनी में महिला फरियादी के सामने हस्तमैथुन करने वाली थानेदार के खिलाफ मुकदमा दर्ज...

Related Articles

यूपी में जिला पंचायत अध्यक्ष के बाद अब चुने जाएंगे ब्लॉक प्रमुख, 8 को नामांकन, 10 जुलाई को मतदान

ब्लॉक प्रमुख पद के लिए 8 जुलाई को दिन में 11 बजे से शाम 3 बजे तक नामांकन पत्र दाखिल किए जा...

मोदी कैबिनेट में जल्‍द बड़ा फेरबदल, सिंधिया और वरुण गांधी सहित इन चेहरों को मिल सकती है जगह

टाइम्‍स नाउ की खबर के मुताबिक, मोदी कैबिनेट में जल्‍द फेरबदल का ऐलान हो सकता है। इस बार कई युवा चेहरों को...

अब दिल्ली में LG होंगे ‘सरकार’ केंद्र सरकार ने जारी की अधिसूचना, हो सकता है बवाल

दिल्ली में राष्ट्रीय राजधानी राज्यक्षेत्र शासन अधिनियम (NCT) 2021 को लागू कर दिया गया है. इस अधिनियम में शहर की चुनी हुई...
%d bloggers like this: