- Advertisement -
n
n
Tuesday, May 26, 2020

डॉक्टरों की भारी किल्लत से जूझ रहा गोरखपुर का साधारण मरीज डाक्टर की लिखी दवा भी मिलने में लगातार कठिनाई….

Views
Gorakhpur Times | गोरखपुर टाइम्स

हिमांशु द्विवेदी की रिपोर्ट

21 दिन के लॉक डाउन का दूसरा सप्ताह चल रहा लगातार लोग घर मे रह रहे पुलिस प्रशासन व जिले के अधिकारी लगातार इसके पालन के लिए लगे हुए है पर इसी बीच आम जन में एक खास समस्या उतपन्न हो गयी है ।।। गोरखपुर शहर में प्राइवेट डॉक्टर ना बैठने की वजह से मरीजों में काफी परेशानियां हो रही हैं इसको देखते हुए लॉकडाउन में ज्यादातर प्राइवेट हॉस्पिटल और क्लीनिक बंद है ऐसे में मरीजों को परेशानी हो रही है इसे देखते हुए शासन ने कम स्टाफ के साथ प्राइवेट अस्पताल खोलने के निर्देश दिए हैं साथ ही कहा है कि कि प्रशासन की ओर से तय किए गए समय में अस्पताल जरूर खोलें एडीएम फाइनेंस राजेश सिंह ने बताया कि मरीजों की सहूलियत के लिए डॉक्टर होम विजिट कर सकते हैं इसके अलावा मोबाइल फोन के जरिए भी मरीजों को सलाह दे सकते हैं सभी डॉक्टर मरीजों को अपने नंबर भी उपलब्ध कराएं बताया कि शासन की ओर से तय किया गया है कि प्राइवेट अस्पताल खोलने के लिए डॉक्टर स्टाफ नर्स और पैरामेडिकल स्टाफ के पास भी जारी किए जाएंगे पर स्तिथि के उलट अनेक डाक्टर बैठ नही रहे जिस से आम मरीजो को अपनी स्वास्थ की चिंता लगातार बनी रह रही है टाइम्स संवाददाता को एक आम मरीज से बात हुई तो उसने बताया कि डॉक्टर बैठ नही रहे कुछ दिक्कत भी आ रही अब 15 अप्रैल का इन्तेजार है।

ये भी पढ़े :  #ब्रेकिंग गोरखपुर क्वारंटाइन सेंटर से कोरोना संदिग्‍ध युवक फरार
Advertisements
%d bloggers like this: