Wednesday, November 20, 2019
Uttar Pradesh

तलाक के बाद पति ने अपने भाई और मामा से हलाला कराने के लिए बनाया दबाव…..

सहारनपुर में एक महिला ने हलाला के खिलाफ आवाज उठाई है. महिला का कहना है कि उसके पति ने पहले उसे तीन तलाक दिया और इसके बाद अपने छोटे भाई व मामा के साथ हलाला कराने के लिए दबाव बनाया. जब उसने हलाला कराने से इनकार कर दिया तो उसके साथ मारपीट की गई. साथ ही घर से निकाल दिया गया. अब पीड़ित महिला ने जिलाधिकारी से न्याय की गुहार लगाई है. मामला नगर कोतवाली के शाहमदार मोहल्ला का है जानकारी के मुताबिक, मामला नगर कोतवाली के शाहमदार मोहल्ला का है. पीड़ित महिला सोमवार को सुप्रीम कोर्ट की अधिवक्ता फरहा फैज के साथ जिलाधिकारी कार्यालय पहुंची. पीड़िता ने अपने पति राव मुनीर पर पहले तीन तलाक दिए जाने फिर अपने छोटे भाई सुहाले मोहम्मद और उसके मामा राव लईक अहमद के साथ हलाला के लिए दबाव बनाने का आरोप लगाया. उसने विरोध किया तो उसके साथ मारपीट की और उसे घर से निकाल दिया. यहां तक कि उसके घर में आकर ससुरालियों ने उसके साथ मारपीट की और उसके पति की दूसरी शादी करने की धमकी दी.
15 दिन पहले महिला ने थाना में की थी शिकायत बता दें कि पीड़त महिला ने 15 दिन पहले महिला थाने में अपने पति, देवर, सास और पति के मामा खिलाफ दहेज उत्पीड़न की रिपोर्ट दर्ज कराई थी. पीड़िता ने बताया कि 30 जनवरी 2017 को वह अपने पति राव मुनीर के साथ रिश्तेदारी में जयपुर गई थी. वहां एक सप्ताह रहने के बाद जब उसने अपने पति से अपने घर वापस चलने के लिए कहा तो उसने एक दिन बाद जाने के लिए कहा. जब उसने उसी दिन घर वापस चलने के लिए कहा तो राव मुनीर नाराज हो गया. उससे कहा कि वह उसके साथ रहने के लायक नहीं है, अभी से वह उससे रिश्ता खत्म कर लेगा. उसने उसी समय तलाक, तलाक, तलाक कह दिया. अमर उजाला वेबसाइट के मुताबिक, जयपुर से वापस लौटने के बाद पीड़िता के पति ने उससे कहा कि उसे उसके साथ रहना है तो उसके मामा के साथ हलाला करना होगा. या फिर उसके छोटे भाई के साथ हलाला करना होगा. महिला ने बताया कि राव लईक पूर्व ब्लॉक प्रमुख हैं, जिसकी उम्र 50 वर्ष से अधिक है. मामले की फाइल को मीडिएशन में भेज दिया गया है वहीं, महिला थाना प्रभारी इस मामले की जांच कर रही है. महिला थाना प्रभारी सरिता सिंह ने मामले की फाइल को मीडिएशन में भेज दिया और उसे जानकारी नहीं दी. उससे एक प्रार्थना-पत्र तहरीर की तरह लिखवाकर ले लिया. वहीं, जिलाधिकारी आलोक कुमार पांडेय का कहना है कि पीड़िता ने अपने पति पर आरोप लगाया है कि उसका पति उस पर अपने मामा एवं भाई के साथ हलाला के लिए दबाव बना रहा है. आरोपियों पर रिपोर्ट दर्ज कराई जा चुकी है. कोर्ट में बयान भी दर्ज करवा दिए गए हैं. मामले में कार्रवाई की जा रही है.

Advertisements
%d bloggers like this: