Wednesday, September 23, 2020

दिल्ली-NCR में एक बार फिर भूकंप, पिछले दो महीने में दर्जन से भी ज्यादा बार हिली धरती…

गोरखपुर के डीएम के विजयेंद्र पांडियन हुए कोरोना पॉजिटिव इनको मिली डीएम की जिम्मेदारी…

डीएम के विजयेंद्र पांडियन कोरोना पाजिटिव मिले। एंटीजन जांच में हुई पुष्टि। rtpcr के लिए भेजा गया नमूना। होम आइसोलेट हुए। सीडीओ...

कैन्ट थानान्तर्गत मारपीट व फायरिंग में संलिप्त दो अभियुक्तों के ऊपर एसएसपी ने 25-25 हजार रूपये धनराशि के पुरस्कार की घोषणा ….

गोरखपुर। वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक गोरखपुर द्वारा अपराध एवं अपराधियों पर अंकुश लगाये जाने हेतु किये जा रहे कार्यवाही...

अभी-अभी गोरखपुर एसएसपी ने की बड़ी कार्रवाई 4 उप निरीक्षक का किया तबादला इनको मिली जिम्मेदारी….

अभी-अभी गोरखपुर एसएसपी ने की बड़ी कार्रवाई 4 उप निरीक्षक का किया तबादला इनको मिली जिम्मेदारी….

CM सिटी के गोरखपुर से वाराणसी NH-29 सड़क बड़ी महामारी का शिकार,चलें सम्भल कर 2019 में बनने वाली सड़क को न जाने कितने वर्ष...

CM सिटी के गोरखपुर से वाराणसी NH-29 सड़क बड़ी महामारी शिकार,चलें सम्भल कर न जाने कितने वर्ष लगेंगे बनने में ….

कोरोना जांच कैंपों की ज्वाइंट मजिस्ट्रेट ने की समीक्षा बैठक…

गोरखपुर। शासन के निर्देशानुसार जिला अधिकारी के विजयेंद्र पांडियन के निर्देशन में ज्वाइंट मजिस्ट्रेट/ एसडीएम सदर गौरव सिंह...

Download GT App from
Google Play

विज्ञापन के लिए संपर्क करें +91 7843810623 (WhatsApp)

राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली और उसके आसपास के क्षेत्र एनसीआर में धरती एक बार फिर हिली है। मंगलवार दोपहर को दिल्ली-एनसीआर में भूकंप के झटके महसूस किए गए। पिछले दो महीनों में कई बार भूकंप के झटके महसूस किए जा चुके हैं।

ये भी पढ़े :  आज का पंचांग (Gorakhpur Tims Media)

प्रारंभिक जानकारी के अनुसार, दिल्ली-एनसीआर में इस बार भी भूकंप की तीव्रता ज्यादा नहीं रही। यह सिर्फ 2.1 थी। इससे पहले शुक्रवार को झारखंड और कर्नाटक में भी भूकंप आया था। कर्नाटक के हम्पी में सुबह 06:55 बजे रिक्टर स्केल पर 4.0 की तीव्रता के साथ भूकंप के झटके महसूस किए गए थे। वहीं, झारखंड के जमशेदपुर में इसी समय रिक्टर स्केल पर 4.7 की तीव्रता वाला भूकंप आया।

दिल्ली-एनसीआर समेत समूचे उत्तर भारत में बीते एक-डेढ़ महीनों के दौरान एक दर्जन से अधिक छोटे भूकंप आए हैं। कोरोना संकट के बीच जब अधिकतर लोग घरों में थे तो बार-बार भूकंप के झटकों ने चिताएं बढ़ाईं लेकिन भूकंप विशेषज्ञों का मानना है कि छोटे भूकंप से ज्यादा खतरा नहीं है बल्कि ये बड़े भूकंप के खतरे को कम कर सकते हैं। राष्ट्रीय भूकंप विज्ञान केंद्र के निदेशक बीके बंसल ने हाल में ‘हिन्दुस्तान’ से बातचीत में कहा कि दिल्ली-एनसीआर और उत्तर भारत में कई फाल्ट लाइनें गुजरती हैं। इनमें हलचलों से जब ऊर्जा निकलती है तो भूकंप आते हैं।

ये भी पढ़े :  होली के पावन अवसर पर सभी नगर वासियों को गोरखपुर टाइम्स मीडीया की पूरी टीम की ओर से हार्दिक शुभ कामनाएं

 

Hot Topics

गोरखपुर : सगी बहन से शादी करने की जिद पर अड़ा भाई; यहां जाने क्या है माजरा !

उत्तर प्रदेश के गोरखपुर जिले में एक हैरान करने वाला मामला सामने आया है। यहां चिलुआताल में...

गोरखपुर:चिता पर रखे शव के जीवित होने पर मचा हड़कंप, रोकना पड़ा दाह संस्कार,

उत्तर प्रदेश के कुशीनगर में एक हैरान करने वाला मामला सामने आया है। यहां...

देवरिया:- थाने में ही महिला फरियादी के सामने हस्तमैथून करने वाला थानेदार फ़रार,25 हज़ार के इनाम की घोषणा

देवरिया के अंतर्गत आने वाले थाने भटनी में महिला फरियादी के सामने हस्तमैथुन करने वाली थानेदार के खिलाफ मुकदमा दर्ज...

Related Articles

गोरखपुर के बाँसगांव की पेशवर महिला ने युवक को फांसने की रची साजिश,पूर्व में कर चुकी है धनउगाही

आप की कलम से “आखिर हमारे देश ने 1962 से कुछ नहीं सीखा” – योगेश श्रीवास्तव

आखिर हमारे देश ने 1962 से कुछ नहीं सीखा . चीन ने फिर उसी धोबीपाट ( कपट ) दाव पर हमारे बीस...

गोरखपुर के आज़ाद ने अपनाया उसे जिसको दुनिया ने ठुकराया,असहायों के लिए बन रहे वरदान

गोरखपुर की गलियों में भटक रहे आसाम के संगीत टीचर के लिए वरदान बने आजाद गोरखपुर के गलियों में...
%d bloggers like this: