Tuesday, July 27, 2021

देश मोदी जी को सुनना चाहता है?

पुलिस अधीक्षक द्वारा की गयी मासिक अपराध गोष्ठी में अपराधों की समीक्षा व रोकथाम हेतु दिये गये आवश्यक दिशा-निर्देश

Maharajganj: पुलिस अधीक्षक महराजगंज प्रदीप गुप्ता द्वारा आज दिनांक 17.07.2021 को पुलिस लाइन्स स्थित सभागार में मासिक अपराध गोष्ठी में कानून-व्यवस्था की...

शायर मुनव्वर राना के बोल, ‘दोबारा सीएम बने योगी तो यूपी छोड़ दूंगा’

लखनऊ: मशहूर शायर मुनव्वर राना एक बार फिर अपने बयान की वजह से सुर्खियों में हैं।उन्होंने कहा कि अगर योगी आदित्यनाथ दोबारा...

Maharajganj: CO सुनील दत्त दूबे द्वारा कुशल पर्यवेक्षण करने पर अपर पुलिस महानिदेशक जोन गोरखपुर ने प्रशस्ति पत्र से नवाजा।

Maharajganj/Farenda: सीओ फरेन्दा सुनील दत्त दूबे को थाना पुरन्दरपुर में नवीन बीट प्रणाली के क्रियान्वयन में कुशल पर्यवेक्षण करने पर अपर पुलिस...

विधायक विनय शंकर तिवारी किडनी की बीमारी से पीड़ित ग़रीब युवा के लिए बने मसीहा…

हाल ही में सोशल मीडिया के माध्यम से किडनी की बीमारी से पीड़ित व्यक्ति की मदद हेतु युवाओं के द्वारा अपील की...

महराजगंज जिले के फरेंदा थाने के अंतर्गत SBI कृषि विकास शाखा के सामने से मोटरसाइकिल चोरी

Maharajganj: महाराजगंज जिले के फरेंदा थाने के अंतगर्त मंगलवार को बृजमनगंज रोड पर भारतीय स्टेट बैंक कृषि विकास शाखा के ठीक...

Download GT App from
Google Play

विज्ञापन के लिए संपर्क करें +91 7843810623 (WhatsApp)

जिस आत्म विश्वास और उत्साह से मोदी जी ने देश की जनता का 24 मार्च 2020 को कोरोना वायरस से लड़ने के लिए उत्साह बढ़ाया था वह वास्तव में काफी हद तक प्रभावशाली रहा । मात्र 4 घंटे का समय 130 करोड़ लोगो को मिला था 21 दिन के लॉक-डाउन के लिये
। फिर भी मोदी जी के कहने पर लोगो ने गजब का उत्साह दिखाया । ताली और थाली बजाने में शायद ही कोई घर या व्यक्ति छूट गया हो । उस आवाज की खनक ने न केवल कोरोना वायरस को भी आश्चर्य चकित किया बल्कि हिंदुस्तान को आगाह किया था कि हम कितने बड़े खतरे में है । पुनः मोदी जी के एक आव्हान पर देश ने दीया जलाकर जिस एकता का परिचय दिया था उसकी चर्चा न केवल हिंदुस्तान में बल्कि दुनिया भर में रही है । कई विशेषज्ञों ने उसके कई मायने निकाले । संसार मे इकलौता भारत देश ही था जिसने इस नायब तरीके से देश को एकजुट किया और लोग हर बात मानने के लिए तैयार हो गए । आखिर सवाल सब की जिंदगी का जो है ।

ये भी पढ़े :  सम्भलकर :-गोरखपुर में खुला रेंज का पहला साइबर क्राइम थाना,स्पेशल टीम रखेगी नज़र...

पिछले दो बार से लॉक-डाउन की अवधि सीधे गृह मंत्रालय के द्वारा बढ़ाई गयी । हालांकि कुछ राज्यो ने अपने यहा पहले से ही लॉक-डाउन को बढ़ा दिया था । 20 लाख करोड़ की जब घोषणा मोदी जी ने की थी तो सोशल मीडिया में यह चर्चा थी कि यह एक बोल्ड निर्णय है और देश के सभी हिस्से को इसका लाभ होगा । पर वास्तविकता अब किसी से छिपा नही है ।

ये भी पढ़े :  अयोध्या फ़ैसले पे शांति व्यवस्था कायम रखने हेतु सीओ ने जनता से किया अपील

देश के कई राज्यो की कार्य प्रणाली को कोरोना वायरस के संदर्भ में देखे तो उत्तर प्रदेश कही न कही सब से प्रभावशाली रहा है वजह सशक्त नेतृत्व का होना रहा है । जब भी कोई समस्या आती है तो उत्तर प्रदेश जरूर उसमे शामिल होता है वजह यहां की आबादी का अधिक होना है । पर अब इस वायरस के आगमन से देश को पता चल गया कि भविष्य का प्रधान मंत्री उत्तर प्रदेश में मौजूद है ।

पर अब जिस तरह से कोरोना वायरस के विषय मे कई राज्यों को जिम्मेदार बनाया जा रहा है या फिर उन पर भार दिया जा रहा है वह शायद ठीक नही है । ओछी राजनीति भी शुरू हो गयी है । केंद्र राज्य कई मुद्दों पर अलग थलग दिखे है ।

अब देश मोदी जी को सुनना चाहता है । सुनना चाहता है मजदूरों की समस्याओं पर, दुर्घटनाओं में लोगो की मौत पर, गरीबों की दुर्दशा पर, मध्यमवर्ग की कराह पर, देश मोदी जी को अब सुनना चाहता है । सुनना चाहता है आर्थिक पैकेज पर, सुनना चाहता है 1 लाख से अधिक कोरोना वायरस संक्रमित की संख्या पर । सुनना चाहता है तीन महीनों में मात्र अभी तक 24.25 लाख टेस्ट होने पर । आगे की रणनीति पर, आगामी प्लानिंग पर, अर्थव्यवस्था पर, बेरोजगारी पर, कम उत्पादन पर, अब देश मोदी जी को सुनना चाहता है । जब संख्या सैकड़ो में थी तो लॉक-डाउन अब लाख में है तो फिर से सबका चलना अब देश मोदी जी को सुनना चाहता है ।

ये भी पढ़े :  देश को कोरोना रूपी अंधकार से मुक्त करने के लिए देश के प्रधानमंत्री जी के आवाहन पर जलाए दिए
ये भी पढ़े :  अर्जुनपुर गांव के प्रधान के खिलाफ जालसाजी का मुकदमा दर्ज करने का कोर्ट का आदेश प्रधान बिना काम कराए खड़ंजा के नाम पर दो लाख 39 हजार रुपये को किया अपने कब्जे में

कई ऐसी बातें है जिनका जबाब किसी के पास नही है पर देश की बागडोर जिनके हाथ मे है उनके शब्दो के मायने अलग है । अब देश मोदी जी को सुनना चाहता है आम आदमी के लोन राशि की ई एम आई के भुगतान पर, घर के किराये पर, स्कूल की फीस पर, देश मोदी जी को सुनना चाहता है। देश मोदी जी को सुनना चाहता है ।

डॉ अजय कुमार मिश्रा (लखनऊ)
Drajaykrmishra@gmail.com

Hot Topics

गोरखपुर : सगी बहन से शादी करने की जिद पर अड़ा भाई; यहां जाने क्या है माजरा !

उत्तर प्रदेश के गोरखपुर जिले में एक हैरान करने वाला मामला सामने आया है। यहां चिलुआताल में...

गोरखपुर:चिता पर रखे शव के जीवित होने पर मचा हड़कंप, रोकना पड़ा दाह संस्कार,

उत्तर प्रदेश के कुशीनगर में एक हैरान करने वाला मामला सामने आया है। यहां...

देवरिया:- थाने में ही महिला फरियादी के सामने हस्तमैथून करने वाला थानेदार फ़रार,25 हज़ार के इनाम की घोषणा

देवरिया के अंतर्गत आने वाले थाने भटनी में महिला फरियादी के सामने हस्तमैथुन करने वाली थानेदार के खिलाफ मुकदमा दर्ज...

Related Articles

पालघर में नौसेना के नाविक को अगवा कर जिंदा जलाया,मौत…

तमिलनाडु: चेन्नई से 30 जनवरी को अगवा किए गए नौसेना के 26 वर्षीय नाविक को महाराष्ट्र के पालघर...

यूपी: पंचायत चुनावों का बजा बिगुल इलाहाबाद हाईकोर्ट ने किया तारीखों का ऐलान जाने कब होगा पंचायत चुनाव…

हाईकोर्ट ने यूपी सरकार को निर्देश दिया है कि 17 मार्च तक आरक्षण का कार्य पूरा कर...

पूर्वांचल: रामपुर जा रही प्रियंका गांधी के काफिले की कई गाड़ियां आपस में टकराई, बाल-बाल बची

हापुड़: रामपुर दौरे पर निकलीं कांग्रेस की राष्ट्रीय महासचिव प्रियंका गांधी के काफिले में चल रहीं कई गाड़ियां...
%d bloggers like this: