Thursday, February 21, 2019
Uttar Pradesh

नवजात को मुंह में दबाकर घूमता रहा कुत्ता, तमाशा देखते रहे लोग.…

पडरौना नगर में मानवीय संवेदना उस समय पूरी तरह से नंगी होती दिखी जब एक कुत्ता नवजात को मुंह में दबाए घूमता रहा। गनीमत रही कि कुत्ते ने उसे नोचकर खाया नहीं। यह नहीं मालूम हो सका कि नवजात कुत्ते के हमले से मरा या मरा हुआ उसको मिला था। पर इतना तो सच है कि किसी ने मानवता को मार नवजात को जीवित या मृत को इस हालत में फेंका तभी वह कुत्ते के मुंह का निवाला बनने की स्थिति तक पहुंच गया। इसको लेकर पूरे नगर में चर्चा गरम है और सवाल भी तैर रहा है कि आखिर कुत्ते को नवजात मिला कहां से। सुबह 11 बजे के लगभग एक कुत्ता नवजात को मुंह में दबाए नगर की सड़क पर घूम रहा था। देखने वाले दंग थे तो यह सवाल भी आपस में करते दिखे कि आखिर किसने नवजात को इस हाल में पहुंचाया। क्या जिसने जन्म दिया उसको तरस नहीं आई। क्या संवेदना इतनी मर चुकी थी कि अपने कलेजे के टुकड़े को इस तरह फेंकने पर मन नही कचोटा। इन सवालों के बीच कुत्ता सरेराह मुंह में दबाए लगभग आधे घंटे तक घूमता रहा और मानवीय संवेदना व रिश्ते की दुहाई देने वाले सभ्य समाज पर सवाल खड़ा करता रहा।
इसी बीच कुत्ता नगर के किनारे गंगीराम मंदिर के पास एकांत में शायद इसलिए पहुंचा कि यहां वह इस नवजात के चिथड़े कर अपना निवाला बना सके। यहां मौजूद कुछ युवकों ने यह देखा तो वे खुद को रोक नहीं पाए और कुत्ते को घेर लिया। खुद को घिरा देख कुत्ता लहूलुहान नवजात को छोड़ भाग गया। युवकाें ने देखा तो नवजात मरा हुआ था। किसी ने पुलिस को सूचना दी। पुलिस ने आवश्यक कार्रवाई पूरी की। प्रभारी कोतवल विजयराज सिंह ने कहा कि इसका पता लगाया जा रहा कि नवजात कहां से कुत्ते को मिला। यह गंभीर मामला है।

Advertisements
%d bloggers like this: