Saturday, July 31, 2021

महराजगंज: भाई-बहनों के रिश्तों के बीच भारत-नेपाल सीमा बना दीवार, घर नहीं जा पाने से बहनें मायूस

गोरखपुर के नवोदित कलाकारो से सजी फ़िल्म ‘ऑक्सीजन ‘के अभिनव प्रयास की खूब हो रही चर्चा

नवोदित कलाकारों को लेकर डॉ. सौरभ पाण्डेय की फ़िल्म 'ऑक्सीजन 'के अभिनव प्रयास ने रचा इतिहास

बड़हलगंज के बाबा जलेश्वरनाथ मंदिर के पोखरे का 98.5 लाख से होगा सुन्दरीकरण।

बड़हलगंज के बाबा जलेश्वरनाथ मंदिर के पोखरे का 98.5 लाख से होगा सुन्दरीकरण। ...

Maharajganj: प्राथमिक विद्यालय हो रहे मरम्मत कार्य में घटिया तरीके का किया जा रहा है प्रयोग

Maharajganj/Dhani: प्राथमिक विद्यालय हो रहें मरम्मत कार्य में अत्यन्त घटिया किस्म के मसाले व देशी बालू का अधिकता और सिमेन्ट नाम मात्र...

Maharajganj: नालियों के टूट जाने और समय से सफाई न होने से लोग हो रहे परेशान, जांच कर सम्बन्धित कर्मचारियों पर होगी कार्रवाई –...

महाराजगंज/धानी: महाराजगंज जनपद के धानी ब्लाक के अधिकारी भूल चूके हैं अपनी जिम्मेदारी। ग्राम सभा पुरंदरपुर के टोला केवटलिया में नाली टूट...

Maharajganj: दबंग पंचायत मित्र द्वारा किया जा रहा है अवैध नाली का निर्माण।

महराजगंज- फरेंदा ब्लॉक के अंतर्गत ग्राम सभा पिपरा तहसीलदार में पंचायत मित्र द्वारा अपने व्यक्तिगत नाली का निर्माण ग्राम सभा के मुख्य...

Download GT App from
Google Play

विज्ञापन के लिए संपर्क करें +91 7843810623 (WhatsApp)

indo-nepal border

रक्षाबंधन पर्व पर इस बार कोरोना का संकट मंडरा रहा है, तो इंडो-नेपाल बॉर्डर की सील सीमा दीवार बन गई है। अब तो ज्यादातर बहनें भाइयों की कलाई पर राखी बांधने के बजाए पोस्ट ऑफिस की सहारा ले रही है। जबकि वही जिले से सटे नेपाल राष्ट्र के अन्य जिलों में भारत की बहनें भाइयों के घर इन बार नहीं आ रही हैं जिससे वे मायूस हैं।

बहनें ससुराल में हो या फिर पति के साथ परदेश। लेकिन रक्षाबंधन के दिन भाई के घर जा कर शुभ मुहूर्त में रक्षा सूत्र बांधने की परंपरा को हर हाल में निभाती है। लेकिन इस बार कोरोना एवं भारत नेपाल की सील सीमा ने बहनो को मुश्किल में डाल दिया है।

इस वर्ष कोरोना संक्रमण के चलते ज्यादातर बहनें चाह कर भी भाइयों के घर नहीं जा पा रही हैं। ऐसे में बहनें डाकखाने से राखी पोस्ट कर भाइयों के घर भेज रही हैं। हालांकि कोरोना संक्रमण को देखते हुए इंडो-नेपाल बॉर्डर महीनों से सील है। दोनों देशों के सुरक्षाबलों द्वारा कड़ी निगरानी कर रहे हैं। भारत से कई बहनें की शादी नेपाल राष्ट्र में हुई है। तो नेपाल राष्ट्र के कई बहनों की शादी भारत के सीमावर्ती इलाकों सहित अन्य शहरों में हुई है।

ये भी पढ़े :  लखनऊ में दो से अधिक शस्त्र लायसेंस रखने पर ..?
ये भी पढ़े :  गोरखपुर के इस जवान ने फर्ज के आगे टाल दी 25 अप्रेल को शादी,माँ कहती है आजा बेटा शादी कर के चले जाना....सलाम जज़्बे को

निराश हैं लोग

नगर के घोड़हवा वार्ड निवासी नंदनी ने बताया कि वह हर वर्ष अपने मायके बलुईधूस जा कर भाइयों की कलाई पर राखी बांधती थी। लेकिन इस वर्ष वह कोरोना संकट के चलते भाइयों के घर नहीं जाउंगी। जिसके कारण अपने भाइयों के लिए डाक से राखी भेजी है।

डगरूपुर की रीता देवी ने बताया कि मेरे भाई मुंबई में रहकर नौकरी करते हैं। हर वर्ष रक्षाबंधन पर मेरे घर आकर राखी बंधवाते थे। लेकिन इस वर्ष कोरोना संकट के चलते घर नहीं आएंगे। जिसके कारण उनके लिए डाक के माध्यम से राखी भेजा गया है।

वही सीमावर्ती गांव शितलापुर निवासी दिवाकर पाठक में बताया कि उनकी बेटी सुमन पाठक की शादी नेपाल राष्ट्र के जिला नवलपरासी के करमैनी गांव में हुआ है। बहन सुमन दो दिन पहले फोन कर बात की।  बहन हर वर्ष रक्षाबंधन पर्व पर राखी और मिठाईयां लेकर घर आती थी। लेकिन इस बार बॉर्डर सील होने के चलते नहीं आ पा रही है। फोन पर भावुक होकर कहा कि कब तक बॉर्डर सील रहेगा। राखी कैसे भेजू कुछ समझ में नहीं आ रहा है।

ये भी पढ़े :  ब्रेकिंग:-गोरखपुर में DM ने किया बड़ा बदलाव,कई SDM बदलें गए सहजनवा SDM बने सुरेश कुमार राय और देखें सूची

शितलापुर खेसरहा निवासी महेन्द्र गुप्ता की पत्नी कुंती का मायका नेपाल राष्ट्र के गांव बेलाटारी फेनहरवा में है। कुंती तीन भाइयों में वह अकेली बहन हैं। कुंती ने बेहद मायूस होकर कहा कि रक्षाबंधन का पर्व काफी निकट आ चुका है। सीमा से सटे मायका होने के कारण कभी भी चली जाती थी। लेकिन बॉर्डर सील होने के कारण मायके जाना काफी मुश्किल हो गया है।

ये भी पढ़े :  गोरखपुर के नवोदित कलाकारो से सजी फ़िल्म 'ऑक्सीजन 'के अभिनव प्रयास की खूब हो रही चर्चा

जयश्री निवासी संजू का मायका नेपाल राष्ट्र के गांव पिपरपाती में है। संजू का कहना है कि रक्षाबंधन पर्व हर साल भाईयों को रक्षाबंधन बांधने जाती थी। लेकिन इस बार तो सीमा सील होने के कारण फोन से ही आर्शिवाद लेना पडेगा। बॉर्डर सील होने के कारण अब हालात बदल चुके हैं। सरहद लांघना आसान नहीं है।

Hot Topics

गोरखपुर : सगी बहन से शादी करने की जिद पर अड़ा भाई; यहां जाने क्या है माजरा !

उत्तर प्रदेश के गोरखपुर जिले में एक हैरान करने वाला मामला सामने आया है। यहां चिलुआताल में...

गोरखपुर:चिता पर रखे शव के जीवित होने पर मचा हड़कंप, रोकना पड़ा दाह संस्कार,

उत्तर प्रदेश के कुशीनगर में एक हैरान करने वाला मामला सामने आया है। यहां...

देवरिया:- थाने में ही महिला फरियादी के सामने हस्तमैथून करने वाला थानेदार फ़रार,25 हज़ार के इनाम की घोषणा

देवरिया के अंतर्गत आने वाले थाने भटनी में महिला फरियादी के सामने हस्तमैथुन करने वाली थानेदार के खिलाफ मुकदमा दर्ज...

Related Articles

गोरखपुर के नवोदित कलाकारो से सजी फ़िल्म ‘ऑक्सीजन ‘के अभिनव प्रयास की खूब हो रही चर्चा

नवोदित कलाकारों को लेकर डॉ. सौरभ पाण्डेय की फ़िल्म 'ऑक्सीजन 'के अभिनव प्रयास ने रचा इतिहास

बड़हलगंज के बाबा जलेश्वरनाथ मंदिर के पोखरे का 98.5 लाख से होगा सुन्दरीकरण।

बड़हलगंज के बाबा जलेश्वरनाथ मंदिर के पोखरे का 98.5 लाख से होगा सुन्दरीकरण। ...

विधायक विनय शंकर तिवारी किडनी की बीमारी से पीड़ित ग़रीब युवा के लिए बने मसीहा…

हाल ही में सोशल मीडिया के माध्यम से किडनी की बीमारी से पीड़ित व्यक्ति की मदद हेतु युवाओं के द्वारा अपील की...
%d bloggers like this: