Friday, July 30, 2021

बदलता गोरखपुर: 20 दिसंबर से शुरू होगा ‘गेल की प्राकृतिक गैस पाइप लाइन का हाइड्रो टेस्टिंग…

Maharajganj: दबंग पंचायत मित्र द्वारा किया जा रहा है अवैध नाली का निर्माण।

महराजगंज- फरेंदा ब्लॉक के अंतर्गत ग्राम सभा पिपरा तहसीलदार में पंचायत मित्र द्वारा अपने व्यक्तिगत नाली का निर्माण ग्राम सभा के मुख्य...

पुलिस अधीक्षक द्वारा की गयी मासिक अपराध गोष्ठी में अपराधों की समीक्षा व रोकथाम हेतु दिये गये आवश्यक दिशा-निर्देश

Maharajganj: पुलिस अधीक्षक महराजगंज प्रदीप गुप्ता द्वारा आज दिनांक 17.07.2021 को पुलिस लाइन्स स्थित सभागार में मासिक अपराध गोष्ठी में कानून-व्यवस्था की...

शायर मुनव्वर राना के बोल, ‘दोबारा सीएम बने योगी तो यूपी छोड़ दूंगा’

लखनऊ: मशहूर शायर मुनव्वर राना एक बार फिर अपने बयान की वजह से सुर्खियों में हैं।उन्होंने कहा कि अगर योगी आदित्यनाथ दोबारा...

Maharajganj: CO सुनील दत्त दूबे द्वारा कुशल पर्यवेक्षण करने पर अपर पुलिस महानिदेशक जोन गोरखपुर ने प्रशस्ति पत्र से नवाजा।

Maharajganj/Farenda: सीओ फरेन्दा सुनील दत्त दूबे को थाना पुरन्दरपुर में नवीन बीट प्रणाली के क्रियान्वयन में कुशल पर्यवेक्षण करने पर अपर पुलिस...

विधायक विनय शंकर तिवारी किडनी की बीमारी से पीड़ित ग़रीब युवा के लिए बने मसीहा…

हाल ही में सोशल मीडिया के माध्यम से किडनी की बीमारी से पीड़ित व्यक्ति की मदद हेतु युवाओं के द्वारा अपील की...

Download GT App from
Google Play

विज्ञापन के लिए संपर्क करें +91 7843810623 (WhatsApp)

वाराणसी से गोरखपुर के खाद कारखाना तक प्राकृतिक गैस पहुंचाने के लिए गैस अथॉरिटी आफ इंडिया लिमिटेड(गेल) 20 दिसंबर से हाईड्रो टेस्टिंग का कार्य शुरू करने की योजना बना रही है। हाईड्रो टेस्टिंग की शुरूआत वाराणसी से 0-14 किलोमीटर के मध्य से शुरू होगा। दूसरी ओर सरयू नदी के 2 किलोमीटर नदी तल से पाइप लाइन निकालने के लिए पाइप की बेल्डिंग का कार्य शुरू हो चुका है। असल में गेल जनवरी तक पूरी पाइप लाइन की हाइड्रो टेस्टिंग और फरवरी के आखिर तक कमिशनिंग की प्रक्रिया पूर्ण कर लेना चाहता है।

निर्माणाधीन नीम कोटेड यूरिया खाद कारखाना ‘हिन्दुस्तान उवर्रक एवं रसायन लिमिटेड (एचयूआरएल) को संचालित करने लिए प्राकृतिक गैस की आपूर्ति उपलब्ध कराई जानी है। दिसंबर 2020 में शुरू होने वाले इस कारखाने तक वाराणासी से 18 इंच मोटाई की पाइप लाइन डाली जा रही है। इस पाइप लाइन की चद्दर की मोटाई 9.5 एमएम है। 2019 के लोकसभा चुनाव के पूर्व, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के इस महत्वकांक्षी प्रोजेक्ट को पूर्ण करने का दबाव है। सनद रहे कि वाराणसी से गोरखपुर के बीच 166.35 किलोमीटर लम्बी पाइप लाइन बिछाई जा रही है। अब तक 150 किलोमीटर तक पाइप लाइन बिछाई जा चुकी है। शेष 16.33 किलो मीटर पाइप डालने का कार्य ही शेष है। अधिकारियों के मुताबिक पाइप लाइन की हाइड्रो टेस्टिंग का कार्य 20 दिसंबर से शुरू होगा। टूकड़े-टूकड़े में भूमिगत पाइप लाइन की हाईड्रो टेस्टिंग की जाएगी जिसकी शुरूआत वाराणसी-आजमगढ़ सेक्शन की ओर से 20 दिसंबर से संभावित है।

ये भी पढ़े :  मतगणना की विडियोग्राफी कराने के लिए सौंपा पत्र
ये भी पढ़े :  पुलिस अधीक्षक ने किया ताजिया मार्ग का निरीक्षण पैदल चलकर जाना सड़क का हाल

सरयू नदी पर बेल्ड हो रही पाइप लाइन, इंस्टाल हो रही मशीन

यह पाइप लाइन वाराणसी से आजमगढ़ और आजमगढ़ से गोरखपुर दो पार्ट में विभाजित है। इन दिनों बेलघाट में सरयू नदी के दो किलोमीटर लम्बे पाट के नीचे से पाइप लाइन डाले जाने की तैयारी की जा रही है। नदी के गोरखपुर साइड में 1.1 किलोमीटर उपलब्ध पाइप लाइन की बेल्डिंग की जा रही है। जबकि आजमगढ़ की तरह से जिस तट पर पाइप लाइन आ रही, वहां 400 टन की एचडीडी रिग मशीन इंस्टाल की जा रही है। ताकि इस मशीन की मदद से पूरी दो किलोमीटर की लम्बाई में बेल्ड की जा रही 18 इंच की पाइप लाइन को खींचा जा सके। यह पाइप लाइन नदी तल से 5 से 10 फीट की गहराई से गुजारी जाएगी। इसी के साथ दो किलोमीटर लम्बाई की 6 इंच मोटी पाइप लाइन डाली जाएगी जिससे प्रोजेक्ट से संबंधित केबल गुजारी जाएगी। प्रोजेक्ट से जुड़े अधिकारियों के मुताबिक 18 इंच मोटी की पाइप लाइन गुजारने के लिए तकरीबन 24 इंच मोटा होल और 6 इंच की पाइप लाइन गुजारने के लिए 8 इंच मोटा हो बनाना पड़ता है। दोनों होल के बीच में 5 मीटर की दूरी होती है। होल के तैयार होने के 6 घंटे के भीतर ही पाइप लाइन को टोल में डालने का कार्य शुरू करना होता ताकि पानी के दबाव के कारण होल बंद हो जाए।

ये भी पढ़े :  इस आपदा में गोरखपुर की पुलिस दिखा रही दरियादिली,पुलिस के प्रति लोगों का बदल रहा नज़रिया

20 दिसंबर तक कोलकाता से आएगी पाइप लाइन

नदी में डालने के लिए पाइप लाइन पहले ही आवंटित कर ली गई थी। लेकिन पिछले दिनों कुछ विवाद के हिस्सों पर प्रशासन ने समाधान करा दिया, इसलिए तत्काल नदी के आरक्षित पाइप लाइन का इस्तेमाल वहां कर लिया गया। इसलिए इससे नदी में पाइप लाइन डालने का कार्य बाधित नहीं हुआ बल्कि कार्य शुरू है, उम्मीद है कि 20 दिसंबर तक शेष पाइप लाइन भी कोलकाता से गोरखपुर आ जाएगी। सरयू नदी में पाइप डालने के बाद बरवार खुर्द में राप्ती नदी के 2 किलोमीटर लम्बे तट पर भी पाइप लाइन डालने का कार्य शुरू हो जाएगा।

Hot Topics

गोरखपुर : सगी बहन से शादी करने की जिद पर अड़ा भाई; यहां जाने क्या है माजरा !

उत्तर प्रदेश के गोरखपुर जिले में एक हैरान करने वाला मामला सामने आया है। यहां चिलुआताल में...

गोरखपुर:चिता पर रखे शव के जीवित होने पर मचा हड़कंप, रोकना पड़ा दाह संस्कार,

उत्तर प्रदेश के कुशीनगर में एक हैरान करने वाला मामला सामने आया है। यहां...

देवरिया:- थाने में ही महिला फरियादी के सामने हस्तमैथून करने वाला थानेदार फ़रार,25 हज़ार के इनाम की घोषणा

देवरिया के अंतर्गत आने वाले थाने भटनी में महिला फरियादी के सामने हस्तमैथुन करने वाली थानेदार के खिलाफ मुकदमा दर्ज...

Related Articles

विधायक विनय शंकर तिवारी किडनी की बीमारी से पीड़ित ग़रीब युवा के लिए बने मसीहा…

हाल ही में सोशल मीडिया के माध्यम से किडनी की बीमारी से पीड़ित व्यक्ति की मदद हेतु युवाओं के द्वारा अपील की...

ब्लॉक प्रमुख बड़हलगंज आशीष राय के जीत की गूंज सात समंदर पार भी…

बड़हलगंज से आशीष राय के विजयी घोषित होने पर विदेशों में भी बंटी मिठाइयां गोरखपुर। शनिवार को तीन ब्लॉक...

भाजपा ने ब्लॉक प्रमुख के लिए विधायक विपिन सिंह की पत्नी नीता सिंह,विधायक संत प्रसाद की बहू पर खेला दाँव, देखें गोरखपुर की सूची…

जिला पंचायत अध्यक्ष के चुनाव संपन्न होने के उपरांत त्रिस्तरीय पंचायत को और सुदृढ़ बनाने के लिए भारतीय जनता पार्टी के द्वारा...
%d bloggers like this: