Tuesday, September 28, 2021

बदलती रिश्तों की परिभाषा ।

Maharajganj: हड़हवा टोल प्लाजा पर भेदभाव हुआ तो होगा आन्दोलन।

फरेन्दा, महराजगंज: फरेन्दा नौगढ़ मार्ग पर स्थित हड़हवा टोल प्लाजा पर प्रबन्धक द्वारा कुछ विशेष लोगो को छोड़ बाकी सबसे टोल टैक्स...

Maharajganj: बृजमनगंज थाना क्षेत्र में चोरों के हौसले बुलंद, लोग पूछ रहे सवाल क्या कर रहे हैं जिम्मेदार

बृजमनगंज, महाराजगंज. थाना क्षेत्र में पुलिस की निष्क्रियता के चलते चोरों के हौसले बुलंद है. जिसके कारण चोरी की घटनाएं बढ़ रही...

गोरखपुर:- बोरे में भरकर लाश को ठिकाने लगाने ले जा रहे जीजा साले को पुलिस ने किया गिरफ्तार

बोरे में भरकर लाश को ठिकाने लगाने ले जा रहे जीजा साले को पुलिस ने किया गिरफ्तार गोरखपुर। दिल्ली...

Maharajganj: औकात में रहना सिखो बेटा नहीं तो तुम्हारे घर में घुस कर मारेंगे-भाजपा आईटी सेल मंडल संयोजक, भद्दी भद्दी गालियां फेसबुक पर वायरल।

Maharajganj: महाराजगंज जनपद में भाजपा द्वारा नियुक्त धानी मंडल संयोजक का फेसबुक पर गाली-गलौज और धमकी वायरल। फेसबुक पर धानी मंडल संयोजक...

खुशखबरी:-सहजनवा दोहरीघाट रेलवे ट्रैक को मंजूरी 1320 करोड़ स्वीकृत

गोरखपुर के लिहाज़ से एक बड़ी ख़बर प्राप्त हो रही है जिसमे यह बताया जा रहा है कि सहजनवा दोहरीघाट रेलवे ट्रैक...

Download GT App from
Google Play

विज्ञापन के लिए संपर्क करें +91 7843810623 (WhatsApp)

इस सदी की सबसे बड़ी समस्या यह है कि हम जाने-अन्जाने में रिश्तों की अहमियत न केवल भूलते चले जा रहे है बल्कि असम्वेदनशील होते जा रहे है | कई रिश्तों में परिवर्तन को अधिकांश लोगों ने स्वीकार भी कर लिया है, परन्तु एक परिवर्तन जिसने सभी रिश्तों की अहमियत को कम किया है वह है “स्वयं की आकांक्षा” और “उसकी पूर्ति का सर्वोपरि होना” | ऐसी ही दुखद कहानी है एक ऐसी बूढ़ी माँ की जिसे दर्द तो असहनीय है किन्तु अन्याय अपने ही बच्चो के द्वारा किये जाने से न केवल शांत है बल्कि ईश्वर से न्याय की मांग के बजाय अपनी मौत का इन्तजार कर रही है |

जब मै लखनऊ आया तो एक दो जगह मकान में किराये पर रहने के उपरांत एक ऐसे व्यक्ति के मकान में गया जहाँ मकान मालिक उनकी पत्नी और दो बच्चों के साथ रहते थे | उनके यहाँ किराये पर रहते हुए 3 वर्षो के दौरान मैंने जाना की बड़ा बेटा छोटा – मोटा व्यवसाय करता है जबकि छोटे बेटे ने वकालत की पढ़ाई की है और उसी की प्रैक्टिस कर रहा है | समय का पहिया अपनी ही रफ्तार से चलता है | कुछ समय पश्चात मुझे पता चला की मकान मालिक की आकस्मिक मौत हो गयी | मै उनके घर मिलने गया तो ज्ञात हुआ की 2 माह पूर्व उनकी मौत हो गयी | मैंने उनकी पत्नी के बारें में जानना चाहा तो उनके बड़े बेटे ने बताया की वह गाँव गयी है और वही रह रही है |

ये भी पढ़े :  चोरी हुई बाईक का रिपोर्ट दर्ज

अच्छा मकान, सुख सुविधाएँ और वर्षो से उस महिला का अपने पति के साथ रहना, फिर उनके पति की मृत्यु के पश्चात् गाँव चले जाना मुझे थोडा अजीब लगा किन्तु फिर मन में विचार आया की हो सकता है की दुःख की वजह से गाँव जाना उचित समझा हो | जहाँ उनके अपने लोग रह रहें हो | वर्ष दर वर्ष समय व्यतीत होता चला गया उस कालोनी को छोड़े हुए मुझे भी वर्षो हो गये | हालाँकि मै उधर जब भी जाता था उस महिला के बारे में पता करता था, किन्तु सभी लोग यही कहते थे की वो तो गाँव में है |

ये भी पढ़े :  भाजपा जिला उपाध्यक्ष गोरखपुर हरिकेश त्रिपाठी ने पेश की मानवता की मिसाल, सोशल मीडिया पर खूब हो रही प्रशंसा

आज मै पुनः उसी कालोनी में उनकी खबर लेने जैसे ही उनके घर पंहुचा वो महिला बाहर कुर्शी पर बैठी थी | मुझे दूर से देखते ही मेरे पास आ गयी और आप बीती सुनाने लगी | उनकी आप बीती कुछ इस तरह थी –

 “बेटा जब तक मेरे पति जिन्दा थे तब तक मेरी इज्जत मेरे बेटे और बहु दोनों करते थे | उनकी मृत्यु के उपरांत मुझे इन लोगों ने जबरजस्ती गाँव भेज दिया और मै वर्षो से वही रह रही थी | गाँव की कुछ जमीन मेरे जेठने बेचीं | जिसमे मेरे हिस्से के 5 लाख रूपये मिले थे | मेरे इन दोनों बच्चो को जब इसकी खबर लगी तो मुझे यहाँ लिवा लाने को गए | मैंने उनसे कहा बेटा मेरे पेट में पथरी हो गयी है, मै पहले अपना इलाज करवाउंगी फिर मै तुम लोगों के साथ चलूंगी | बेटों ने कहा आप लखनऊ चलिये आपका इलाज हम करवा देगे और मुझे लखनऊ ले आये पथरी का आपरेशन कराने के बहाने सारे पैसे मुझसे ले लिये और सरकारी हस्पताल में मेरा इलाज करवाया | डाक्टर ने मुझे एक हप्ते आराम करने के लिये बोला था किन्तु आपरेशन के अगले दिन से मुझे काम करना पड़ता है और मेरे सारे पैसे इन लोगों ने ले लिये है | मेरे खाने तक का सही इंतजाम नहीं है, मै हाल में सोती हूँ और जल्दी फिर से गाँव चली जाउंगी | तुम कैसे हो बेटा”

ये भी पढ़े :  पूर्वांचल में उज्ज्वला स्कीम का दिख सकता है नतीजों पर असर....

मैंने उनकी सारी बातें सुनी और जैसे ही कुछ बोलना चाहा उनका बड़ा बेटा घर से बाहर निकला और बोला अरे अंदर चलो जब देखो बक-बक करती रहती हो | गाँव जाकरके बक बक करना | मुझे बड़ा अजीब लगा की वो लड़का, जब उसके पिता जी जिन्दा थे तो अपनी माँ को बड़ा इज्जत दिया करता था, जबकि उनकी मृत्यु के बाद ……. छोटे बेटे को उसके पिता की मृत्यु की वजह से उनके स्थान पर जाब लग गयी | फिर भी वह अपने माँ के लिये कुछ करने के बजाय बची खुची धनराशी उनसे लेने में प्रयासरत था  |

काफी विचार करने के पश्चात् मेरे मन मष्तिष्क में यह प्रश्न बार बार खड़ा है की इन सब में दोष किसका है ? बेटों का ? माँ का ? समाज का ? या माँ की ममता का जो सबकुछ जानते हुए भी इस लिये चुप है की लाख गलती कर रहे हो पर है ये दोनों मेरे बच्चे ही तो?

ये भी पढ़े :  आगरा-लखनऊ एक्सप्रेस-वे पर मिला महिला का शव, हत्या की आशंका, इलाके में फैली दहशत

वास्तव में बूढ़ी आंखे अब सिर्फ इस लिये जिन्दा है की आसानी से मौत आ जाये और इस जिंदगी से छुटकारा मिल सकें !

हमारे समाज में आप, हम, सब रोज ऐसी किसी घटना से रूबरू हो रहें होगे | इस घटना को आपसे साझा करने का उद्देश्य मात्र यह है रिश्तों की अहमियत करना न केवल हम सब प्राथमिकता दे बल्कि बच्चों को भी इसके महत्व को समझाये | क्योकि हम हर जगह तो नहीं हो सकते परन्तु हमारे संस्कार अपने बच्चों के माध्यम से कई जगह हो सकता है जो सही मायने में अपनेपन और रिश्तों को कही न कही सच्चे ढंग से निभा रहा होगा |

डॉ अजय कुमार मिश्रा

Hot Topics

गोरखपुर : सगी बहन से शादी करने की जिद पर अड़ा भाई; यहां जाने क्या है माजरा !

उत्तर प्रदेश के गोरखपुर जिले में एक हैरान करने वाला मामला सामने आया है। यहां चिलुआताल में...

गोरखपुर:चिता पर रखे शव के जीवित होने पर मचा हड़कंप, रोकना पड़ा दाह संस्कार,

उत्तर प्रदेश के कुशीनगर में एक हैरान करने वाला मामला सामने आया है। यहां...

देवरिया:- थाने में ही महिला फरियादी के सामने हस्तमैथून करने वाला थानेदार फ़रार,25 हज़ार के इनाम की घोषणा

देवरिया के अंतर्गत आने वाले थाने भटनी में महिला फरियादी के सामने हस्तमैथुन करने वाली थानेदार के खिलाफ मुकदमा दर्ज...

Related Articles

शहीद के बेटे नीतीश 15 अगस्त को यूरोप महाद्वीप की सबसे ऊंची चोटी माउंट एलब्रुस पर फहराएंगे तिरंगा, लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला ने सौपा...

Gorakhpur: गोरखपुर के राजेन्द्र नगर के रहने वाले युवा पर्वतारोही नीतीश सिंह 15 अगस्त को यूरोप महाद्वीप की सबसे ऊंची चोटी माउंट...

पालघर में नौसेना के नाविक को अगवा कर जिंदा जलाया,मौत…

तमिलनाडु: चेन्नई से 30 जनवरी को अगवा किए गए नौसेना के 26 वर्षीय नाविक को महाराष्ट्र के पालघर...

यूपी: पंचायत चुनावों का बजा बिगुल इलाहाबाद हाईकोर्ट ने किया तारीखों का ऐलान जाने कब होगा पंचायत चुनाव…

हाईकोर्ट ने यूपी सरकार को निर्देश दिया है कि 17 मार्च तक आरक्षण का कार्य पूरा कर...
%d bloggers like this: