Friday, January 15, 2021

लॉकडाउन के 5 माह: बनारस के घाट थे कुछ ऐसे, नावें भी हो गई थीं बंद, जीवन सामान्य होने की ओर

गोरखपुर महोत्सव में सम्पन्न हुआ पुर्वांचल का पहला रोबोटिक्स प्रतियोगिता….

दिनांक 15-01-2021 को गोरखपुर महोत्सव के विज्ञान प्रदर्शनी में काउन्सिल ऑफ़ साइन्स एंड टेक्नॉलजी एवं वीर बहादुर सिंह नक्षत्रशाला गोरखपुर के सहयोग...

गोरखपुर में राम मंदिर निर्माण रैली पर लोगों ने की फूलों की बारिश

राम मंदिर निर्माण धन संग्रह को निकाली जागरूकता रैली रैली का लोगों ने किया पुष्प वर्षा से स्वागत।

गोरखपुर:भव्य राममंदिर निर्माण हेतु श्रीराम जन्मभूमि निधि समर्पण अभियान का हुआ शुभारम्भ….

आयोध्या में भगवान श्रीराम के जन्मभूमि पर बनने वाले भव्य मंदिर के निर्माण हेतु चलाए जा रहे श्रीराम जन्मभूमि निधि समर्पण अभियान...

शहीद के बेटे नीतीश 26 जनवरी को अफ्रीका की सबसे ऊंची चोटी किलिमंजारो पर फहराएंगे तिरंगा,मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सौपा तिरंगा…

गोरखपुरःगोरखपुर के राजेन्द्र नगर के रहने वाले युवा पर्वतारोही नीतीश सिंह 26 जनवरी को अफ्रीका महाद्वीप की सबसे...

Norway: परेशान करने वाली खबर: फाइजर कोरोना वैक्सीन लगवाने के बाद 13 लोगों की हुई मौत, 29 में दिखे साइड इफेक्ट।

ओस्‍लो (नॉर्वे): कोरोना वायरस के खिलाफ दुनियाभर के कई देशों में लोगों को वैक्सीन लगाई जा रही है, लेकिन इस बीच फाइजर वैक्सीन...

Download GT App from
Google Play

विज्ञापन के लिए संपर्क करें +91 7843810623 (WhatsApp)

दशाश्वमेध घाट पहले और अब।

वैश्विक महामारी कोरोना वायरस से अभी भी पूरी दुनिया जूझ रही है। इसको रोकने के लिए स्वास्थ्य मंत्रालय ने सबसे महत्वपूर्ण सुझाव सोशल डिस्टेंसिंग का दिया था। जिससे कि लोगों में कोरोना का संक्रमण रोका जा सके। इस दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 24 मार्च को देश के नाम संबोधन में 25 मार्च की रात से संपूर्ण देश में लॉकडाउन की घोषणा कर दी थी। 24 अगस्त को देश में लॉकडाउन के पांच महीने हो गए। वाराणसी में भी इसका असर पड़ा था। देखें अगली स्लाइड्स में…

वाराणसी में भी लॉकडाउन लगाया गया था। इससे पहले पीएम मोदी ने 22 मार्च को एक दिन के लिए जनता कर्फ्यू लगाया था। इसकी सफलता के बाद पीएम मोदी ने संपूर्ण देश में लॉकडाउन की घोषणा कर दी थी। इसके बाद सभी सामाजिक स्थल, टूरिस्ट स्पॉट, यातायात, सब कुछ बंद कर दिया था। हालांकि जरूरी सामान जैसे, राशन, दवा की दुकान, अस्पताल जैसी जरूरी सुविधाओं को बंद नहीं किया गया था।

ये भी पढ़े :  कोरोना नियंत्रण की हकीकत जानने काशी पहुंचे सीएम योगी,

वाराणसी में गंगा घाट, मंदिर, सड़कों पर जहां भीड़ रहती थी, वहां पर एक दम सन्नाटा पसर गया था। अस्सी घाट, दशाश्वमेध घाट पर सन्नाटा छा गया था। गंगा में चलने वाली नावें बंद हो गई थीं। यहां पर हजारों की संख्या में लोग घूमने के लिए आते थे, अब वहां सिर्फ सन्नाटा दिखता था।

ये भी पढ़े :  कोरोना नियंत्रण की हकीकत जानने काशी पहुंचे सीएम योगी,

दशाश्वमेध घाट और अस्सी घाट पर रौनक हमेशा लगी रहती थी। गंगा आरती देखने के लिए करीब एक लाख लोग आते थे। लॉकडाउन में गंगा आरती भी सूक्ष्म रूप में होने लगी थी। फिलहाल घाटों पर फिर से वही रौनक लौटने लगी है। लोग मास्क लगाकर घूमते नजर आते हैं। लेकिन पहले जैसा माहौल होने में अभी समय लग सकता है।

पीएम मोदी ने 24 मार्च को देश के नाम संबोधन में की थी। जो 25 मार्च से 14 अप्रैल तक था। इसके बाद लॉकडाउन को आगे बढ़ाकर 15 अप्रैल से 3 मई तक कर दिया। फिर इसे बढ़ाकर 17 मई तक किया गया। 18 मई से लॉकडाउन 4.0 शुरू हो गया था।

लॉकडाउन 3.0 के बाद जरूरी सामानों को खरीदने की इजाजत दे दी गई थी। इस दौरान लॉकडाउन कुछ ढील दी गई थी, जिससे लोग राशन, दवा जैसे जरूरी सामान को खरीद सकें।

दुकानों पर सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करना अनिवार्य किया गया। वरना कानूनी कार्रवाई की जाती है। इसमें राशन, मेडिकल, इलेक्ट्रीकल्स, मोबाइल, दूध, सब्जी की दुकानें खोलने की इजाजत दी गई। हालांकि हॉटस्पॉट इलाकों में दुकानें सभी तरह की बंद रहती हैं।

ये भी पढ़े :  अजब संयोग:2019 में 5 अगस्त को कश्मीर से हटा था अनुच्छेद 370, 2020 में इसी दिन हो रहा अयोध्या में राम मंदिर का शिलान्यास, घर-घर में दिवाली मनाने की तैयारी

बाद में अनलॉक के बाद सभी तरह की दुकानें खोलने की इजाजत दे दी गई। इस दौरान प्रशासन ने सभी से सोशल डिस्टेंसिंग और मास्क लगाने की सख्त हिदायत दी है। फिलहाल अभी भी कोरोना संक्रमण को देखते हुए मॉल, स्कूल, सिनेमाघर, जिम बंद हैं।

ये भी पढ़े :  यूपी पुलिस की बड़ी कार्यवाही: बलिया कांड का आरोपी भाजपा नेता धीरेंद्र सिंह गिरफ्तार

23 जून से गंगा में नाव चलाने की भी इजाजत दे दी गई। उस दिन दशाश्वमेध घाट पर नाविकों ने गंगा मइया की पूजा-अर्चना की। इस मौके पर खुद डीएम कौशलराज शर्मा भी पहुंचे थे। उन्होंने नाविकों के हाथों प्रसाद भी खाया। इसके बाद नाव की सवारी भी की।

Hot Topics

गोरखपुर : सगी बहन से शादी करने की जिद पर अड़ा भाई; यहां जाने क्या है माजरा !

उत्तर प्रदेश के गोरखपुर जिले में एक हैरान करने वाला मामला सामने आया है। यहां चिलुआताल में...

गोरखपुर:चिता पर रखे शव के जीवित होने पर मचा हड़कंप, रोकना पड़ा दाह संस्कार,

उत्तर प्रदेश के कुशीनगर में एक हैरान करने वाला मामला सामने आया है। यहां...

देवरिया:- थाने में ही महिला फरियादी के सामने हस्तमैथून करने वाला थानेदार फ़रार,25 हज़ार के इनाम की घोषणा

देवरिया के अंतर्गत आने वाले थाने भटनी में महिला फरियादी के सामने हस्तमैथुन करने वाली थानेदार के खिलाफ मुकदमा दर्ज...

Related Articles

प्रपोजल ठुकराने पर युवक ने युवती को दिन दहाड़े तलवार से कई बार काटा

कर्नाटक के हुबली से एक दिल दहला देने वाली घटना सामने आई है। वहाँ इस्माइल नाम के...

यूपी: झोपड़ी में आग लगने से तीन मासूम बच्चों की ज़िंदा जलकर मौत….

गाजीपुर: जिले के जमानिया कोतवाली क्षेत्र के लहूआर गांव स्थितगांव में ईंट भट्ठे पर काम करने वाला एक...

यूपी मौसम विभाग ने शीतलहर को लेकर जारी की गाइड लाइन,पढ़िए पूरी खबर।।

उत्तर प्रदेश।। मौसम के उतार चढ़ाव का यह समय बहुत ही खतरनाक हैं इस मौसम में बीमारियों के घर...
%d bloggers like this: