Saturday, October 16, 2021

बलात्कार, हत्‍या के अपराध पर इन देशों में मिलती है रोंगटे खड़े कर देने वाली सजा…

Mrj: अधिकरियो के रहमो-करम पर दबंगों द्वारा चकनाले की जमीन पर बिना मान्यता प्राप्त विद्यालय का किया जा रहा है संचालन, बच्चों का भविष्य...

Maharajganj/Dhani: युवा समाजसेवी अजय कुमार का कहना है कि धानी ब्लाक के अन्तर्गत एक विद्यालय साधु शरण गंगोत्री देवी लेदवा रोड बंगला...

साष्टांग प्रणाम यात्रा पे निकला बांसी से लेहड़ा मंदिर – भक्त रामशब्द लोधी

Maharajganj/ SiddharthNagar: बांसी क्षेत्र के अंतर्गत राम गोहार गाँव से रामशब्द लोधी ने लगातार तेरह वर्षों से नवमी में सष्टांग प्रणाम यात्रा...

Maharajganj: हड़हवा टोल प्लाजा पर भेदभाव हुआ तो होगा आन्दोलन।

फरेन्दा, महराजगंज: फरेन्दा नौगढ़ मार्ग पर स्थित हड़हवा टोल प्लाजा पर प्रबन्धक द्वारा कुछ विशेष लोगो को छोड़ बाकी सबसे टोल टैक्स...

Maharajganj: बृजमनगंज थाना क्षेत्र में चोरों के हौसले बुलंद, लोग पूछ रहे सवाल क्या कर रहे हैं जिम्मेदार

बृजमनगंज, महाराजगंज. थाना क्षेत्र में पुलिस की निष्क्रियता के चलते चोरों के हौसले बुलंद है. जिसके कारण चोरी की घटनाएं बढ़ रही...

गोरखपुर:- बोरे में भरकर लाश को ठिकाने लगाने ले जा रहे जीजा साले को पुलिस ने किया गिरफ्तार

बोरे में भरकर लाश को ठिकाने लगाने ले जा रहे जीजा साले को पुलिस ने किया गिरफ्तार गोरखपुर। दिल्ली...

Download GT App from
Google Play

विज्ञापन के लिए संपर्क करें +91 7843810623 (WhatsApp)

दुष्‍कर्म और हत्‍या जैसे मामलों में हमारे देश में भले ही सजा मिलने में वर्षों लग जाते हैं लेकिन कई देशों में इसकी सजा इतनी कठोर है कि उसे सुनकर लोगों के रोंगटे खड़े हो जाते हैं।

पिछले साल दिल दहला देने वाले कठुआ मामले की याद अभी धुंधली भी नही हुई थी कि एक बार और मानवता को शर्मसार कर देने वाली घटना ट्विंकल शर्मा हत्याकांड हमारे सामने है। बलात्कार, हत्या जैसी घटनाएं देश में इतनी आम हो चुकी है कि आए दिन अखबार के पन्नों पर ऐसी खबरें दिख ही जाती हैं। फर्क इतना है कि कुछ मामले मजहब के कारण तूल पकड़ लेते हैं और कुछ जातीय या अन्‍य राजनीति के कारण हाशिए पर चले जाते हैं।

कठुआ मामला

जम्मू कश्मीर के कठुआ जिले के रसाना गांव में रहने वाली आठ साल की आसिफा को यह नही पता था कि उसका लड़की होना गुनाह हो जाएगा। मासूम आसिफा के माता-पिता इस बात से अंजान थे कि जानवरों को चराने जा रही बेटी से उनकी आखिरी बार मुलाकात हो रही है क्योंकि कुछ जानवर उसे चरने के लिए जंगल में पहले से ही तैयार बैठे हैं। मंदिर जैसी पवित्र जगह पर भूख से तड़पती, नशीली दवाओं की डोज से सुन्न पड़ गई मासूम न चीख सकती थी न ही कुछ महसूस कर सकती थी। शायद ईश्वर के स्थान पर मौजूद उस लड़की का दर्द खुद ईश्वर भी नही महसूस कर पाया, तभी तो इतनी दरिंदगी के बाद भी उसका गला दबाया गया फिर सर पर दो बार पत्थर मारा गया, यह तय करने के लिए कि वो मर चुकी है या नही।

ये भी पढ़े :  आज खुलेंगे गंगोत्री और यमुनोत्री के कपाट, शुरू हो जाएगी चार धाम यात्रा.....
ये भी पढ़े :  कमलनाथ के भांजे रतुल पुरी को 354 करोड़ रुपये के बैंक घोटाले के आरोप में गिरफ्तार किया गया...

इतनी बर्बरता से हुए इस जघन्य अपराध के बाद जनाक्रोश इतना बढ़ गया था कि देशभर की जनता दोषियों को फांसी पर लटकाने की मांग को लेकर सड़क पर उतर आई थी। लेकिन हर बार की तरह इस बार भी देश का कानून समय की मांग कर बैठा। पूरी जांच पड़ताल कर एक साल बाद तीन दोषियों को उम्रकैद और दो को पांच-पांच साल की सजा सुनाई गई। एक को बरी कर दिया गया। सवाल यह उठता है कि क्या ऐसे निर्मम अपराध के लिए यह सजा काफी है? या उन खूनी अपराधियों के लिए सुकून है कि कम से कम उनकी जान सलामत रहेगी?

यूपी का ट्विंकल शर्मा हत्याकांड

हाल ही में यूपी के अलीगढ़ के टप्पल में मासूम ट्विंकल शर्मा को चंद पैसों की दुश्मनी का शिकार होना पड़ा। ट्विंकल की पोस्टमार्टम रिपोर्ट देखकर किसी भी आम व्यक्ति का दिल दहल जाएगा। हत्या से पहले ट्विंकल को इतना पीटा गया कि उसकी हाथ पैर की पसलियां टूट गईं। आंखों के टीशू तक डैमेज हो गए। इस मामले में जिन दो लोगों को आरोपी बनाया गया है उनमें से एक पर पहले से गंभीर आरोप हैं। पुराने मामले में पुलिस की ढ़ीली कारवाई के कारण आरोपी में एक बार फिर जुल्म करने का हौसला आया। विश्व के सबसे बड़े लोकतंत्र में बलात्कार-हत्या को लेकर कानून इतना ढीला है, जबकि अन्य देशों में इस बर्बरता की सजा सुनकर रोंगटे  खड़े उठते है।

ये भी पढ़े :  मां के अंतिम संस्कार को घर से निकले इकलौते बेटे को पुलिस ने पीटा, नहीं दे सका मुखाग्नि

अन्‍य देशों में इतने कड़े हैं कानून

उत्तर कोरिया : यहां के तानाशाह किम जोंग उन जितने कठोर हैं उतना ही कठोर वहां का कानून है। ऐसी घटना को अंजाम देने वालों के लिए केवल एक ही सजा है और वो है मौत। वहां सरेआम बलात्कारी को गोलियों से भून दिया जाता है।

यूएई : यहां के कानून के मुताबिक ऐसा अपराध करने वालों को सात दिन के अंदर फांसी दे दी जाती है।

ये भी पढ़े :  देहरादून और बोधगया में IMA पासिंग आउट परेड, देश को मिलेंगे 466 युवा सैन्य अधिकारी....

सऊदी अरब : यहां इस्लामिक कानून शरिया को मान्यता दी गई है। यहा दोषी को फांसी पर लटकाने, सिर कलम करने के साथ-साथ, यौन अंग को काटने की भी सजा सुनाई जा सकती है।

इराक : इस इस्‍लामिक देश में बलात्कारी को तब तक पत्थर मारकर यातना दी जाती है जबतक उसकी मौत न हो जाए।

पोलैैंड : यहां ऐसे लोगों को जंगली जानवरों से कटवाने से लेकर नपुंसक बनाने तक का प्रावधान है।

इंडोनेशिया : इस देश में आरोपी को नपुंसक बनाने के साथ ऐसे अपराधियों के अंदर महिलाओं के हार्मोन्स डालने का प्रावधान है।

चीन : यहां ऐसे आरोप साबित होने के बाद आरोपी को तुरंत फांसी दे दी जाती है।

Hot Topics

गोरखपुर : सगी बहन से शादी करने की जिद पर अड़ा भाई; यहां जाने क्या है माजरा !

उत्तर प्रदेश के गोरखपुर जिले में एक हैरान करने वाला मामला सामने आया है। यहां चिलुआताल में...

गोरखपुर:चिता पर रखे शव के जीवित होने पर मचा हड़कंप, रोकना पड़ा दाह संस्कार,

उत्तर प्रदेश के कुशीनगर में एक हैरान करने वाला मामला सामने आया है। यहां...

देवरिया:- थाने में ही महिला फरियादी के सामने हस्तमैथून करने वाला थानेदार फ़रार,25 हज़ार के इनाम की घोषणा

देवरिया के अंतर्गत आने वाले थाने भटनी में महिला फरियादी के सामने हस्तमैथुन करने वाली थानेदार के खिलाफ मुकदमा दर्ज...

Related Articles

यूपी में जिला पंचायत अध्यक्ष के बाद अब चुने जाएंगे ब्लॉक प्रमुख, 8 को नामांकन, 10 जुलाई को मतदान

ब्लॉक प्रमुख पद के लिए 8 जुलाई को दिन में 11 बजे से शाम 3 बजे तक नामांकन पत्र दाखिल किए जा...

मोदी कैबिनेट में जल्‍द बड़ा फेरबदल, सिंधिया और वरुण गांधी सहित इन चेहरों को मिल सकती है जगह

टाइम्‍स नाउ की खबर के मुताबिक, मोदी कैबिनेट में जल्‍द फेरबदल का ऐलान हो सकता है। इस बार कई युवा चेहरों को...

अब दिल्ली में LG होंगे ‘सरकार’ केंद्र सरकार ने जारी की अधिसूचना, हो सकता है बवाल

दिल्ली में राष्ट्रीय राजधानी राज्यक्षेत्र शासन अधिनियम (NCT) 2021 को लागू कर दिया गया है. इस अधिनियम में शहर की चुनी हुई...
%d bloggers like this: