- Advertisement -
n
n
Tuesday, June 2, 2020

बांद्रा की घटना पर हरभजन सिंह को आया गुस्सा, बोले- कर्फ्यू ही है अब रास्ता…..

Views
Gorakhpur Times | गोरखपुर टाइम्स

पूरी दुनिया इस वक्त कोरोना वायरस (कोविड-19) महामारी से जूझ रही है। दुनियाभर में इसके मामलों में लगातार बढ़ोतरी हो रही है। अभी तक दुनियाभर में वायरस के कारण 1 लाख 19 हजार से भी ज्यादा लोगों की मौत हो गई है। वहीं संक्रमित लोगों की संख्या 19 लाख के आंकड़े को पार कर चुकी है। भारत की बात करें तो यहां संक्रमित मामलों की संख्या बढ़कर 10,363 हो गई है।

केंद्र और राज्य सरकारें मिलकर कोरोना वायरस से निपटने की पूरी कोशिश कर रही हैं। देशभर में वायरस से 339 लोगों की मौत हो गई है, जबकि ठीक होने वाले मरीजों की संख्या 1036 है।

NOTE:  गोरखपुर टाइम्स का एप्प जरुर डाउनलोड करें  और बने रहे ख़बरों के साथ << Click

Subscribe Gorakhpur Times "YOUTUBE" channel !

The Photo Bank | अच्छे फोटो के मिलते है पैसे, देर किस बात की आज ही DOWNLOAD करें और दिखाए अपना हुनर!

 

हरभजन हुए बांद्रा को लेकर खफा-

केंद्र और राज्य सरकारें मिलकर कोरोना वायरस से निपटने की पूरी कोशिश कर रही हैं। देशभर में वायरस से 339 लोगों की मौत हो गई है, जबकि ठीक होने वाले मरीजों की संख्या 1036 है।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मंगलवार को घोषणा की कि कोरोनावायरस के प्रकोप से लड़ने के लिए लॉकडाउन को 3 मई तक बढ़ाया जा सकता है और मुंबई में बांद्रा रेलवे स्टेशन पर लगभग 3,000 से अधिक प्रवासियों को देखा गया है, जो अपने मूल स्थानों पर लौटने के लिए परिवहन सुविधाओं की मांग कर रहे हैं। क्रिकेटर हरभजन सिंह इस बात को लेकर काफी खफा हैं।

ये भी पढ़े :  IPL 2019: एबी के तूफान में छिपे पार्थिव -स्टोइनिस के धमाके, जीत में इनका भी रहा रोल

अब केवल कर्फ्यू ही एक विकल्प है’

हरभजन ने ट्वीट करते हुए लिखा है- लोगों को अंदर रखने का अब केवल कर्फ्यू ही एक विकल्प है, बांद्रा में जो आज हुआ वह स्वीकार नहीं किया जा सकता। लोग स्थिति को समझ नहीं रहे हैं और अपनी व औरों की जिंदगी को खतरे में डाल रहे हैं। हरभजन ने इस दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को भी टैग किया।

मुंबई पुलिस ने उन्हें इतनी बड़ी संख्या में इकट्ठा करने से रोकने का प्रयास किया, और हल्का लाठीचार्ज का सहारा लिया उस समय भीड़ नियंत्रण से बाहर हो रही थी।

देश में 3 मई तक के लिए लॉकडाउन-

देश में 3 मई तक के लिए लॉकडाउन-

प्रवासियों ने मांग की कि वे भारत के विभिन्न हिस्सों में अपने घरों या परिवारों से दूर रहना जारी नहीं रख सकते हैं। देशव्यापी तालाबंदी 3 मई तक बढ़ सकती है। उन्होंने पुलिस से कहा कि वे उपयुक्त परिवहन सुविधाओं के लिए व्यवस्था करें ताकि वे अपने-अपने घरों में जा सकें।

ये भी पढ़े :  विश्व चैंपियन बनने के बाद बोलीं पीवी सिंधू, 'भारतीय होने पर है मुझे गर्व'....

दुनिया भर में महामारी और यहां तक कि खेल की घटनाओं के कारण एक ठहराव आ गया है या तो इसे रद्द या निलंबित कर दिया गया है। आईपीएल के 13 वें संस्करण का फैसला भी आगे बढ़ चुका है।

Advertisements
%d bloggers like this: