Saturday, July 24, 2021

बालाकोट एयर स्ट्राइक में शामिल थे छह हजार वायुसैनिक, सामने आई रिपोर्ट….

पुलिस अधीक्षक द्वारा की गयी मासिक अपराध गोष्ठी में अपराधों की समीक्षा व रोकथाम हेतु दिये गये आवश्यक दिशा-निर्देश

Maharajganj: पुलिस अधीक्षक महराजगंज प्रदीप गुप्ता द्वारा आज दिनांक 17.07.2021 को पुलिस लाइन्स स्थित सभागार में मासिक अपराध गोष्ठी में कानून-व्यवस्था की...

शायर मुनव्वर राना के बोल, ‘दोबारा सीएम बने योगी तो यूपी छोड़ दूंगा’

लखनऊ: मशहूर शायर मुनव्वर राना एक बार फिर अपने बयान की वजह से सुर्खियों में हैं।उन्होंने कहा कि अगर योगी आदित्यनाथ दोबारा...

Maharajganj: CO सुनील दत्त दूबे द्वारा कुशल पर्यवेक्षण करने पर अपर पुलिस महानिदेशक जोन गोरखपुर ने प्रशस्ति पत्र से नवाजा।

Maharajganj/Farenda: सीओ फरेन्दा सुनील दत्त दूबे को थाना पुरन्दरपुर में नवीन बीट प्रणाली के क्रियान्वयन में कुशल पर्यवेक्षण करने पर अपर पुलिस...

विधायक विनय शंकर तिवारी किडनी की बीमारी से पीड़ित ग़रीब युवा के लिए बने मसीहा…

हाल ही में सोशल मीडिया के माध्यम से किडनी की बीमारी से पीड़ित व्यक्ति की मदद हेतु युवाओं के द्वारा अपील की...

महराजगंज जिले के फरेंदा थाने के अंतर्गत SBI कृषि विकास शाखा के सामने से मोटरसाइकिल चोरी

Maharajganj: महाराजगंज जिले के फरेंदा थाने के अंतगर्त मंगलवार को बृजमनगंज रोड पर भारतीय स्टेट बैंक कृषि विकास शाखा के ठीक...

Download GT App from
Google Play

विज्ञापन के लिए संपर्क करें +91 7843810623 (WhatsApp)

बालाकोट हवाई हमले को लेकर अब एक नया खुलासा हुआ है। ये हवाई हमला पाकिस्तान के बालाकोट में आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद के ठिकानों पर किया गया था। वायुसेना ने एक रिपोर्ट में कहा है कि पाकिस्तान उस समय हाईअलर्ट पर था, लेकिन बावाजूद इसके बालाकोट एयरस्ट्राइक को पूरा किया गया। इस ऑपरेशन को पूरा करने के लिए 6 हजार लोगों ने काम किया। ये बात “द लेसन लर्न्ट” फ्रॉम द ऑपरेशन नामक रिपोर्ट में कही गई है। इसमें ये भी कहा है कि छह में से पांच लक्ष्यों पर निशाना साधा गया था। इस रिपोर्ट में ऑपरेशन के सकारात्मक और नकारात्मक दोनों पहलुओं का विस्तृत मूल्यांकन किया गया है। ताकि भविष्य में अगर कोई ऑपरेशन का संचालन किया जाए, तो इससे मदद मिल सके। इसके अलावा इस रिपोर्ट पर वायुसेना की उच्च स्तरीय बैठक में भी चर्चा हुई है। बता दें 14 फरवरी को पुलवामा में केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल (सीआरपीएफ) पर आत्मघाती हमला हुआ था। जिसकी जिम्मेदारी पाकिस्तान स्थित आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद ने ली थी। जिसके बाद भारतीय वायुसेना ने 26 फरवरी को पाकिस्तान के बालाकोट स्थित जैश के ठिकाने पर हवाई हमला किया। इस हमले के बाद काफी चर्चा और बहस भी हुईं। हिंदुस्तान टाइम्स की रिपोर्ट के मुताबिक एक अधिकारी ने कहा कि मूल्यांकन में पता चला है कि ऑपरेशन से पहले जो योजना बनाई जाती है असल में हूबहू वैसा नहीं हो पाता। लेकिन हम इस ऑपरेशन को अपने बैकअप प्लान से पूरा कर पाए हैं। मूल्यांकन में कुछ सकारात्मक तो कुछ नकारात्मक बातें सामने आई हैं।

ये भी पढ़े :  देश में 24 घंटों के भीतर कोरोना के रिकॉर्ड 57,117 नए केस, कुल मामले 17 लाख के करीब...
ये भी पढ़े :  जिस्म बेचकर खाते थे, आज सोने के कंगन-चेन बेच रहे हैं, हाथ में थोड़ा भी नहीं है कैश....

ऑपरेशन में क्या था सकारात्मक?

रिपोर्ट के अनुसार मिराज-2000 से जब बालाकोट पर हमला किया गया तो पाकिस्तान ने भी अपने आठ ठिकानों से लड़ाकू विमान तैनात कर दिए। पहचान ना बताने की शर्त पर एक अधिकारी ने कहा कि पाकिस्तान के लड़ाकू विमान दस मिनट की देरी से आए थे। एक अधिकारी का कहना है, “पाकिस्तान को प्रतिक्रिया की उम्मीद थी, लेकिन पाकिस्तानी वायुसेना की प्रतिक्रिया से ऐसा लग रहा था कि उन्हें इस बात की उम्मीद नहीं थी कि हम हवाई मार्ग से आएंगे।” रिपोर्ट में सबसे सकारात्मक बात इंटेलिजेंस की सटीक जानकारी और लक्ष्यों का चयन है। एक दूसरे अधिकारी ने कहा कि इंटेलिजेंस की इस विशेषता के साथ हम पाकिस्तान के अंदर किसी भी लक्ष्य पर तीन घंटे में निशाना साध सकते हैं। रिपोर्ट में पायलटों की दक्षता और कौशल की भी सराहना की गई है। मिशन में उड़ान भरने वाले सभी पायलटों को उनके कौशल और क्षमता के लिए सम्मानित किए जाने की संभावना है। देश के विभिन्न बेस से लड़ाकू विमानों ने उड़ान भरी थी। वायुसेना के वरिष्ठ अधिकारी रक्षा सम्मेलनों में भाग लेने जैसे अपने नियमित कार्य कर रहे थे। इस ऑपरेशन में इस्तेमाल किए गए लड़ाकू विमानों से इनकी क्षमता का भी पता चला है।

ये भी पढ़े :  संजय सिंह समेत 8 राज्यसभा सांसद हुए निलंबित,कल किसान बिल को लेकर किया था राज्यसभा में जमकर हंगामा....
ये भी पढ़े :  पीएम मोदी का कल 10 बजे संबोधन, लॉकडाउन बढ़ाने का कर सकते हैं ऐलान....

ऑपरेशन में क्या था नकारात्मक?

रिपोर्ट में कहा गया है कि खराब मौसम और आसमान में बादल छाए रहने से लड़ाकू बेड़े को थोड़ी परेशानी हुई।

Hot Topics

गोरखपुर : सगी बहन से शादी करने की जिद पर अड़ा भाई; यहां जाने क्या है माजरा !

उत्तर प्रदेश के गोरखपुर जिले में एक हैरान करने वाला मामला सामने आया है। यहां चिलुआताल में...

गोरखपुर:चिता पर रखे शव के जीवित होने पर मचा हड़कंप, रोकना पड़ा दाह संस्कार,

उत्तर प्रदेश के कुशीनगर में एक हैरान करने वाला मामला सामने आया है। यहां...

देवरिया:- थाने में ही महिला फरियादी के सामने हस्तमैथून करने वाला थानेदार फ़रार,25 हज़ार के इनाम की घोषणा

देवरिया के अंतर्गत आने वाले थाने भटनी में महिला फरियादी के सामने हस्तमैथुन करने वाली थानेदार के खिलाफ मुकदमा दर्ज...

Related Articles

यूपी में जिला पंचायत अध्यक्ष के बाद अब चुने जाएंगे ब्लॉक प्रमुख, 8 को नामांकन, 10 जुलाई को मतदान

ब्लॉक प्रमुख पद के लिए 8 जुलाई को दिन में 11 बजे से शाम 3 बजे तक नामांकन पत्र दाखिल किए जा...

मोदी कैबिनेट में जल्‍द बड़ा फेरबदल, सिंधिया और वरुण गांधी सहित इन चेहरों को मिल सकती है जगह

टाइम्‍स नाउ की खबर के मुताबिक, मोदी कैबिनेट में जल्‍द फेरबदल का ऐलान हो सकता है। इस बार कई युवा चेहरों को...

अब दिल्ली में LG होंगे ‘सरकार’ केंद्र सरकार ने जारी की अधिसूचना, हो सकता है बवाल

दिल्ली में राष्ट्रीय राजधानी राज्यक्षेत्र शासन अधिनियम (NCT) 2021 को लागू कर दिया गया है. इस अधिनियम में शहर की चुनी हुई...
%d bloggers like this: