Thursday, December 2, 2021

बिहार-एमपी के आईएएस कपल ने संभाली गोरखपुर शहर की कमान…..

गोरखपुर- अंकुर शुक्ला के हत्यारों को पुलिस गिरफ्तार कर भेजे जेल नही तो होगा आंदोलन- पवन सिंह

अंकुर शुक्ला के हत्यारों को पुलिस गिरफ्तार कर भेजे जेल नही तो होगा आंदोलन- पवन सिंह सपा के कद्दावर...

गोरखपुर:- बारात जा रहे बाइकों में हुई टक्कर ,दो की मौत

बाइकों की टक्कर में दो की मौत ….. बारात जा रहे बाइकों में हुई टक्कर। गोला...

गोरखपुर के लाल नीतीश ने फहराया 14 हजार फीट पर तिरंगा,दिया मतदान जागरूकता,बाल यौन शोषण व स्वच्छ गोरखपुर का संदेश….

गोरखपुर के लाल नीतीश ने फहराया 14 हजार फीट पर तिरंगा,दिया मतदान जागरूकता,बाल यौन शोषण व स्वच्छ गोरखपुर का संदेश….

गोरखपुर:- अपराधियों के भय से मकान बेचने को मजबूर एक ब्राह्मण परिवार

गोरखपुर:- अपराधियों के भय से मकान बेचने को मजबूर एक ब्राह्मण परिवार                     आज गोरखपुर में यह तश्वीर चर्चा का विषय बनी हुई...

चिल्लूपार की राजनीति में एक और ब्राह्मण चेहरे का हुआ पदार्पण,सपा से टिकट के हैं दावेदार

चुनाव 2022 की सुगबुगाहट के साथ ही गोरखपुर की नौ विधानसभा सीटों में काफी हलचल देखी जा रही है । इसी के...

Download GT App from
Google Play

विज्ञापन के लिए संपर्क करें +91 7843810623 (WhatsApp)

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ का गृहनगर है गोरखपुर, जिसकी सेहत चाकचौबंद करने की जिम्मेदारी बिहार और एमपी के आईएएस कपल अनुज सिंह और हर्षिता माथुर को सौंपी गई है। यूपी कैडर में आईएएस की 74वीं रैंक से पास आउट अनुज सिंह को गोरखपुर विकास प्राधिकरण का उपाध्यक्ष बनाया गया है। वह आईआईटी दिल्ली से बीटेक (केमिकल इंजीनियरिंग) की पढ़ाई भी कर चुके हैं। सारण (बिहार) निवासी अनुज सिंह के पिता सुरेंद्र सिंह कारोबारी हैं। गोरखपुर में अनुज सिंह के सामने मानचित्र के 286 मामलों को निपटाने, जीडीए के सीमा विस्तार, आवासीय और व्यावसायिक योजनाओं की गुणवत्ता को बेहतर बनाने, प्राधिकरण की आय बढ़ाने, मानबेला और खोराबार में बन रहे प्रधानमंत्री आवासों के निर्माण में तेजी लाने और लखनऊ की तरह इंटरनेशनल स्टेडियम का निर्माण कराने के साथ ही वाटर पार्क विवाद निपटाने की चुनौतियां हैं। यूपी कैडर से ही 112वीं रैंक के साथ पासआउट अनुज सिंह की पत्नी आईएएस हर्षिता माथुर को सीएम के शहर गोरखपुर का मुख्य विकास अधिकारी बनाया गया है। मूलतः भोपाल (म.प्र.) की माथुर नेशनल लॉ कॉलेज, भोपाल से लॉ ग्रेजुएट हैं। उनके पिता पीआर माथुर मध्य प्रदेश कैडर के आईपीएस अधिकारी हैं।

ये भी पढ़े :  ईलाहीबाग लालाटोली के जनता ने किया अपने राष्ट्र धर्म का पालन
ये भी पढ़े :  ईलाहीबाग लालाटोली के जनता ने किया अपने राष्ट्र धर्म का पालन

उनके सामने मुख्य चुनौतियां हैं शौचालयों के अधूरे निर्माण को पूरा कराना, ग्रामीण पीएम आवास का निर्माण समय से कराकर उनका आवंटन कराना, विकास योजनाओं की गुणवत्ता को बेहतर बनाना और 2020 में ही ग्राम पंचायत का चुनाव कराना। जाहिर सी बात है कि जब सीएम के शहर को संवारने की जिम्मेदारी मिली है तो कदम-कदम पर उन्हे अपने आला अधिकारियों ही नहीं, पूरी प्रदेश सरकार की उन पर निगाहें होंगी। पहली बार एक शहर में दो प्रमुख ओहदे संभालने और मुद्दत बाद एक साथ पारिवारिक जीवन जीने का अवसर मिला है तो सरकारी काम-काज में किसी तरह की चूक से अब बच निकलना भी उनके लिए आसान नहीं होगा।

इस तरह अनुज को जीडीए के कामकाज को रफ्तार देने की तो उनकी पत्नी को ग्रामीण विकास की योजनाओं को तेजी से धरातल पर उतारने की जिम्मेदारी मिली है। ये आईएएस कपल अब तक गोरखपुर और सिद्धार्थनगर के मुख्य विकास अधिकारी रहे हैं। आईएएस में सेलेक्शन के बाद दोनों की मुलाकात ट्रेनिंग के दौरान मसूरी में हुई थी। दोनों ने एक दूसरे को पसंद किया और करीब आए। ट्रेनिंग के बाद आईएएस का यूपी कैडर मिला, फिर अलग-अलग जिलों में उन्हें ज्वाइंट मजिस्ट्रेट के रूप में तैनाती मिल गई। 2017 में परिवार की सहमति ली, फिर एक दूसरे से विवाह बंधन में बंध गए। तमाम व्यस्तताओं के बाद भी जिस कुशलता से आईएएस दंपति अपनी सरकारी और पारिवारिक जिम्मेदारियों का निर्वाह कर रहे हैं, उससे अच्छे नतीजे की उम्मीद की जा रही है। आईएएस दंपती का दावा है कि जिले में एक साथ पोस्टिंग से बेहतर रिजल्ट मिलेंगे। अलग-अलग जिलों में तैनाती से कुछ पारिवारिक दिक्कतें आती हैं। अब ऐसा नहीं होगा।

Hot Topics

गोरखपुर : सगी बहन से शादी करने की जिद पर अड़ा भाई; यहां जाने क्या है माजरा !

उत्तर प्रदेश के गोरखपुर जिले में एक हैरान करने वाला मामला सामने आया है। यहां चिलुआताल में...

गोरखपुर:चिता पर रखे शव के जीवित होने पर मचा हड़कंप, रोकना पड़ा दाह संस्कार,

उत्तर प्रदेश के कुशीनगर में एक हैरान करने वाला मामला सामने आया है। यहां...

देवरिया:- थाने में ही महिला फरियादी के सामने हस्तमैथून करने वाला थानेदार फ़रार,25 हज़ार के इनाम की घोषणा

देवरिया के अंतर्गत आने वाले थाने भटनी में महिला फरियादी के सामने हस्तमैथुन करने वाली थानेदार के खिलाफ मुकदमा दर्ज...

Related Articles

पूर्वांचल में मदद की परिभाषा बदलने का ऐतिहासिक कार्य कर रहे हैं युवा नेता पवन सिंह….

युवा नेता पवन सिंह ने मदद करने की परिभाषा पूरी तरह बदल दी है. उन्होंने मदद का दायरा इतना ज्यादा बढ़ा दिया...

स्वर्णकार समाज ने लोकसभा , विधानसभा में अपने प्रतिनिधित्व के लिए भरी हुँकार,जल्द प्रदेश व्यापी होगी सभा

स्वर्णकार समाज का स्वर लोकसभा एवं विधानसभाओं में मुखरित हो प्रतिनिधित्व सभी पंचायतों में हो इस विचार के साथ स्वर्णकार समाज...

यूपी में कई IPS बदले गए,दिनेश कुमार गोरखपुर के नए एसएसपी.

कई IPS के तबादले हुए जिसमे गोरखपुर के एसएसपी जोगेंद्र कुमार को झाँसी का नया डीआईजी बनाया...
%d bloggers like this: