Saturday, July 31, 2021

बेटे के साथ सारी खुशियां भी चलीं गईं ,पढ़े शहीद माँ का दर्द….

गोरखपुर के नवोदित कलाकारो से सजी फ़िल्म ‘ऑक्सीजन ‘के अभिनव प्रयास की खूब हो रही चर्चा

नवोदित कलाकारों को लेकर डॉ. सौरभ पाण्डेय की फ़िल्म 'ऑक्सीजन 'के अभिनव प्रयास ने रचा इतिहास

बड़हलगंज के बाबा जलेश्वरनाथ मंदिर के पोखरे का 98.5 लाख से होगा सुन्दरीकरण।

बड़हलगंज के बाबा जलेश्वरनाथ मंदिर के पोखरे का 98.5 लाख से होगा सुन्दरीकरण। ...

Maharajganj: प्राथमिक विद्यालय हो रहे मरम्मत कार्य में घटिया तरीके का किया जा रहा है प्रयोग

Maharajganj/Dhani: प्राथमिक विद्यालय हो रहें मरम्मत कार्य में अत्यन्त घटिया किस्म के मसाले व देशी बालू का अधिकता और सिमेन्ट नाम मात्र...

Maharajganj: नालियों के टूट जाने और समय से सफाई न होने से लोग हो रहे परेशान, जांच कर सम्बन्धित कर्मचारियों पर होगी कार्रवाई –...

महाराजगंज/धानी: महाराजगंज जनपद के धानी ब्लाक के अधिकारी भूल चूके हैं अपनी जिम्मेदारी। ग्राम सभा पुरंदरपुर के टोला केवटलिया में नाली टूट...

Maharajganj: दबंग पंचायत मित्र द्वारा किया जा रहा है अवैध नाली का निर्माण।

महराजगंज- फरेंदा ब्लॉक के अंतर्गत ग्राम सभा पिपरा तहसीलदार में पंचायत मित्र द्वारा अपने व्यक्तिगत नाली का निर्माण ग्राम सभा के मुख्य...

Download GT App from
Google Play

विज्ञापन के लिए संपर्क करें +91 7843810623 (WhatsApp)

जब भी सीमा पर तनाव की खबरें आती हैं, तो कारगिल में अपने बेटे को खोने वाली इस बूढ़ी मां का कलेजा कांप उठता है, दिल में छिपा दर्द आंखों से बह उठता है। देहरादून के गढ़ी कैंट में रहने वाली 74 वर्षीय पदमा का बेटा 20 साल पहले शहीद हुआ था, जिसके बाद उनका परिवार बिखर गया और आज वह नितांत अकेली रह गईं।

ये भी पढ़े :  गोरखपुर में सेक्रेटरी की लापरवाही से राशन से वंचित हो रहे गरीब,आदेशों की उड़ रही धज्जियां

कारगिल के बाद ऑपरेशन रक्षक के दौरान कश्मीर में आतंकवादियों से मुठभेड़ करते हुए थर्ड फोर गोरखा रेजीमेंट के रायफलमैन 29 वर्षीय कृतज्ञ राना शहीद हो गए थे। शहीद राना की बूढ़ी मां से जब बेटे की बात की, शब्द से पहले आंसू छलक गए।

खुद को संभालते हुए पदमा ने कहा कि जब कृतज्ञ सेना में भर्ती हुआ, तब सबसे ज्यादा मैं खुश हुई थी। उस समय लगा था कि अब सुख के दिन आ गए हैं, लेकिन *इस आतंकवाद ने मुझसे मेरा बेटा, मेरी खुशी और *मेरा पूरा परिवार ही छीन लिया। मेरा लाल मातृभूमि पर *न्यौछावर हो गया, उसी के साथ घर की सारी खुशियां *चली गईं।

पोता केवल 12 दिन का था और बेटा चला *गया : जब बेटा शहीद हुआ, तब पोता 12 दिन का था। कृतज्ञ अपने बेटे को देखने और अपनी शादी की पहली सालगिरह मनाने के लिए छुट्टी पर आने वाला था, लेकिन आज तक नहीं लौटा। बेटे के शहीद होने के छह महीने बाद ही बहू पोते को लेकर बिना बताए मायके चली गई और फिर कभी नहीं लौटी। कुछ दिनों बाद पति कुंवर सिंह राना का भी निधन हो गया। सरकार से जो भी मदद मिली, वो सब बहू के नाम थी। खैर उस सबकी इतनी जरूरत नहीं है, लेकिन कृतज्ञ की निशानी उसका बेटा साथ रहता, तो उसे सीने से लगा, थोड़ा गम हल्का हो जाता।

ये भी पढ़े :  कैन्ट थाने पर सिटी मजिस्ट्रेट की अध्यक्षता में हुआ समाधान दिवस....

पदमा कहती हैं कि छोटा बेटा भी अपने परिवार के साथ दिल्ली में रहता है। उम्र के ढलते पड़ाव पर अकेलापन इस कदर हावी हो गया है, जिसके चलते आजकल स्वास्थ्य भी ठीक नहीं रहता है। पदमा अब देहरादून में अकेली ही रहती हैं।.

Hot Topics

गोरखपुर : सगी बहन से शादी करने की जिद पर अड़ा भाई; यहां जाने क्या है माजरा !

उत्तर प्रदेश के गोरखपुर जिले में एक हैरान करने वाला मामला सामने आया है। यहां चिलुआताल में...

गोरखपुर:चिता पर रखे शव के जीवित होने पर मचा हड़कंप, रोकना पड़ा दाह संस्कार,

उत्तर प्रदेश के कुशीनगर में एक हैरान करने वाला मामला सामने आया है। यहां...

देवरिया:- थाने में ही महिला फरियादी के सामने हस्तमैथून करने वाला थानेदार फ़रार,25 हज़ार के इनाम की घोषणा

देवरिया के अंतर्गत आने वाले थाने भटनी में महिला फरियादी के सामने हस्तमैथुन करने वाली थानेदार के खिलाफ मुकदमा दर्ज...

Related Articles

गोरखपुर के नवोदित कलाकारो से सजी फ़िल्म ‘ऑक्सीजन ‘के अभिनव प्रयास की खूब हो रही चर्चा

नवोदित कलाकारों को लेकर डॉ. सौरभ पाण्डेय की फ़िल्म 'ऑक्सीजन 'के अभिनव प्रयास ने रचा इतिहास

बड़हलगंज के बाबा जलेश्वरनाथ मंदिर के पोखरे का 98.5 लाख से होगा सुन्दरीकरण।

बड़हलगंज के बाबा जलेश्वरनाथ मंदिर के पोखरे का 98.5 लाख से होगा सुन्दरीकरण। ...

विधायक विनय शंकर तिवारी किडनी की बीमारी से पीड़ित ग़रीब युवा के लिए बने मसीहा…

हाल ही में सोशल मीडिया के माध्यम से किडनी की बीमारी से पीड़ित व्यक्ति की मदद हेतु युवाओं के द्वारा अपील की...
%d bloggers like this: