Sunday, September 19, 2021

ब्रह्मोस का अगले सप्‍ताह होगा परीक्षण, ब‍िना सीमा पार किए की जा सकेगी बालाकोट जैसी एयरस्‍ट्राइक

गोरखपुर:- बोरे में भरकर लाश को ठिकाने लगाने ले जा रहे जीजा साले को पुलिस ने किया गिरफ्तार

बोरे में भरकर लाश को ठिकाने लगाने ले जा रहे जीजा साले को पुलिस ने किया गिरफ्तार गोरखपुर। दिल्ली...

Maharajganj: औकात में रहना सिखो बेटा नहीं तो तुम्हारे घर में घुस कर मारेंगे-भाजपा आईटी सेल मंडल संयोजक, भद्दी भद्दी गालियां फेसबुक पर वायरल।

Maharajganj: महाराजगंज जनपद में भाजपा द्वारा नियुक्त धानी मंडल संयोजक का फेसबुक पर गाली-गलौज और धमकी वायरल। फेसबुक पर धानी मंडल संयोजक...

खुशखबरी:-सहजनवा दोहरीघाट रेलवे ट्रैक को मंजूरी 1320 करोड़ स्वीकृत

गोरखपुर के लिहाज़ से एक बड़ी ख़बर प्राप्त हो रही है जिसमे यह बताया जा रहा है कि सहजनवा दोहरीघाट रेलवे ट्रैक...

दोषियों के खिलाफ होगी कड़ी कार्रवाई: सांसद कमलेश पासवान

दोषियों के खिलाफ होगी कड़ी कार्रवाई: सांसद बांसगांव लोकसभा के सांसद कमलेश पासवान ने कास्त मिश्रौली निवासी भाजपा नेता...

पूर्वांचल में मदद की परिभाषा बदलने का ऐतिहासिक कार्य कर रहे हैं युवा नेता पवन सिंह….

युवा नेता पवन सिंह ने मदद करने की परिभाषा पूरी तरह बदल दी है. उन्होंने मदद का दायरा इतना ज्यादा बढ़ा दिया...

Download GT App from
Google Play

विज्ञापन के लिए संपर्क करें +91 7843810623 (WhatsApp)

नई दिल्‍ली: जमीन पर बड़े से बड़े टार्गेट को पल भर में तबाह करने में सक्षम ब्रह्मोस मिसाइल का अगले सप्‍ताह परीक्षण किया जा सकता है. भारतीय वायुसेना और डीआरडीओ दुनिया की सबसे तेज सुपरसोनिक क्रूज मिसाइल ब्रह्मोस के परीक्षण की तैयारी कर रहे हैं.

भारतीय वायुसेना के सूत्रों के अनुसार, हम इस मिसाइल के परीक्षण के लिए गंभीर है. यह जमीन पर मौजूद अपने टार्गेट को एक झटके में तबाह कर सकती है. इससे बालाकोट जैसी एयर स्‍ट्राइक को बिना दुश्‍मन की सीमा पार किए अंजाम दिया जा सकता है. वायुसेना के सूत्रों के अनुसार, इस मिसाइल का परीक्षण अगले सप्‍ताह देश के दक्षि‍णी हिस्‍से में किया जा सकता है. डीआरडीओ द्वारा विकसित ब्रह्मोस मिसाइल का ये परीक्षण सुखोई लड़ाकू विमान से हो सकता है.

ये भी पढ़े :  मनोज तिवारी बोले - बड़ी बेटी के कहने पर लॉकडाउन में की थी दूसरी शादी, पहली पत्नी से 8 साल पहले हो गए थे तलाक़।।

सूत्रों के अनुसार, एयरफोर्स की योजना है कि 40 सुखोई-30MKI लड़ाकू विमानों में ब्रह्मोस मिसाइल फिट किया जाए, ताकि जरूरत पड़ने पर लंबी दूरी से ही इसका इस्तेमाल दुश्मन के खिलाफ किया जा सके.
बालाकोट एयरस्‍ट्राइक के समय भारतीय वायुसेना ने PoK में जैश ए मोहम्‍मद के ठिकानों पर हमला किया था. इसमें मिराज-2000 फाइटर एयरक्राफ्ट का इस्‍तेमाल किया था.

ये भी पढ़े :  दुनिया में कोरोना: सिर्फ 24 घंटे में 6 हज़ार से ज्यादा मौतें, 2000 सिर्फ अमेरिका में...

ये होगा बड़ा फायदा
ब्रह्मोस की उपलब्‍धता से सबसे बड़ा फायदा भारतीय सुरक्षाबलों को होगा. वह बालाकोट जैसी एयरस्‍ट्राइक भारतीय सीमा में 150 किमी अंदर रहकर कर सकते हैं. इस क्रूज मिसाइल का पहला परीक्षण बंगाल की खाड़ी में जुलाई 2018 में किया गया था.

कई खासियत होंगी
ब्रह्मोस मिसाइल में कई और खूब‍ियां जोड़ी जाएंगीं. फाइटर प्लेन में इन मिसाइलों का इस्तेमाल करने में आसानी हो इसलिए इन्हें और हल्का बनाया गया है. अगले सप्‍ताह सफलतापूर्वक परीक्षण करने और इसे सुखोई में शामिल करने के बाद इन मिसाइलों की स्ट्राइक रेंज और इनके द्वारा घातक प्रहार करने की इनकी शक्ति की वजह से वायुसेना की मारक क्षमता में व्यापक इजाफा होगा.

Hot Topics

गोरखपुर : सगी बहन से शादी करने की जिद पर अड़ा भाई; यहां जाने क्या है माजरा !

उत्तर प्रदेश के गोरखपुर जिले में एक हैरान करने वाला मामला सामने आया है। यहां चिलुआताल में...

गोरखपुर:चिता पर रखे शव के जीवित होने पर मचा हड़कंप, रोकना पड़ा दाह संस्कार,

उत्तर प्रदेश के कुशीनगर में एक हैरान करने वाला मामला सामने आया है। यहां...

देवरिया:- थाने में ही महिला फरियादी के सामने हस्तमैथून करने वाला थानेदार फ़रार,25 हज़ार के इनाम की घोषणा

देवरिया के अंतर्गत आने वाले थाने भटनी में महिला फरियादी के सामने हस्तमैथुन करने वाली थानेदार के खिलाफ मुकदमा दर्ज...

Related Articles

यूपी में जिला पंचायत अध्यक्ष के बाद अब चुने जाएंगे ब्लॉक प्रमुख, 8 को नामांकन, 10 जुलाई को मतदान

ब्लॉक प्रमुख पद के लिए 8 जुलाई को दिन में 11 बजे से शाम 3 बजे तक नामांकन पत्र दाखिल किए जा...

मोदी कैबिनेट में जल्‍द बड़ा फेरबदल, सिंधिया और वरुण गांधी सहित इन चेहरों को मिल सकती है जगह

टाइम्‍स नाउ की खबर के मुताबिक, मोदी कैबिनेट में जल्‍द फेरबदल का ऐलान हो सकता है। इस बार कई युवा चेहरों को...

अब दिल्ली में LG होंगे ‘सरकार’ केंद्र सरकार ने जारी की अधिसूचना, हो सकता है बवाल

दिल्ली में राष्ट्रीय राजधानी राज्यक्षेत्र शासन अधिनियम (NCT) 2021 को लागू कर दिया गया है. इस अधिनियम में शहर की चुनी हुई...
%d bloggers like this: