Friday, September 17, 2021

बड़ी खुशखबरी:-गोरखपुर में खुलेगा सैनिक स्कूल, सीएम योगी का है ड्रीम प्रोजेक्ट,खुद कर रहे केंद्र में पैरवी….

गोरखपुर:- बोरे में भरकर लाश को ठिकाने लगाने ले जा रहे जीजा साले को पुलिस ने किया गिरफ्तार

बोरे में भरकर लाश को ठिकाने लगाने ले जा रहे जीजा साले को पुलिस ने किया गिरफ्तार गोरखपुर। दिल्ली...

Maharajganj: औकात में रहना सिखो बेटा नहीं तो तुम्हारे घर में घुस कर मारेंगे-भाजपा आईटी सेल मंडल संयोजक, भद्दी भद्दी गालियां फेसबुक पर वायरल।

Maharajganj: महाराजगंज जनपद में भाजपा द्वारा नियुक्त धानी मंडल संयोजक का फेसबुक पर गाली-गलौज और धमकी वायरल। फेसबुक पर धानी मंडल संयोजक...

खुशखबरी:-सहजनवा दोहरीघाट रेलवे ट्रैक को मंजूरी 1320 करोड़ स्वीकृत

गोरखपुर के लिहाज़ से एक बड़ी ख़बर प्राप्त हो रही है जिसमे यह बताया जा रहा है कि सहजनवा दोहरीघाट रेलवे ट्रैक...

दोषियों के खिलाफ होगी कड़ी कार्रवाई: सांसद कमलेश पासवान

दोषियों के खिलाफ होगी कड़ी कार्रवाई: सांसद बांसगांव लोकसभा के सांसद कमलेश पासवान ने कास्त मिश्रौली निवासी भाजपा नेता...

पूर्वांचल में मदद की परिभाषा बदलने का ऐतिहासिक कार्य कर रहे हैं युवा नेता पवन सिंह….

युवा नेता पवन सिंह ने मदद करने की परिभाषा पूरी तरह बदल दी है. उन्होंने मदद का दायरा इतना ज्यादा बढ़ा दिया...

Download GT App from
Google Play

विज्ञापन के लिए संपर्क करें +91 7843810623 (WhatsApp)

गोरखपुर को एक और बड़ी सौगात मिलने जा रही है। शहर में प्रदेश का पहला केंद्र संचालित सैनिक स्कूल खुलेगा। इसे लेकर तैयारियां शुरू हो गईं हैं। जमीन चिह्नित कर ली गई है और दो दिन के भीतर शासन को प्रस्ताव भी भेज दिया जाएगा। डीएम के. विजयेंद्र पांडियन के मुताबिक सीएम योगी आदित्यनाथ ने खुद इस स्कूल को अपने ड्रीम प्रोजेक्ट में शामिल किया है। वे खुद ही इसकी पैरवी भी कर रहे हैं।
जिले के विभिन्न इलाकों में जमीन तलाशने के बाद जिला प्रशासन को सैनिक स्कूल के लिए खाद कारखाने के पास की जमीन पसंद आई है। प्रशासन ने 100 एकड़ जमीन चिह्नित की है। पुराने खाद कारखाने के पास करीब 950 एकड़ जमीन थी। नए खाद कारखाने का निर्माण करा रही हिंदुस्तान उर्वरक एवं रसायन लिमिटेड (एचयूआरएल) ने इसमें से 600 एकड़ ही जमीन ली है। शासन के निर्देश पर 30-30 एकड़ जमीन पीएसी की महिला बटालियन और पांच एकड़ जमीन एनडीआरएफ को मुहैया कराने के लिए चिह्नित की गई है। बची हुई जमीन में से करीब सौ एकड़ जिला प्रशासन ने सैनिक स्कूल के लिए पसंद की है।

सिर्फ कक्षा छह और नौ में ही मिलता है दाखिला
सैनिक स्कूलों का उद्देश्य बच्चों को शारीरिक और मानसिक रूप से राष्ट्रीय सुरक्षा अकादमी (एनडीए) के लिए तैयार करना है। इन स्कूलों में दाखिले के लिए सैनिक स्कूल सोसाइटी द्वारा राष्ट्रीय स्तर पर प्रवेश परीक्षा (एआईएसएसईई) होती है। इन स्कूलों में कक्षा छह और नौ में ही दाखिला मिलता है।

गोरखपुर में प्रदेश के पहले सैनिक स्कूल का सपना खुद मुख्यमंत्री का है। उन्होंने ही जल्द से जल्द जमीन तलाश कर प्रस्ताव भेजने का निर्देश दिया था। इसी क्रम में खाद कारखाने के पास 100 एकड़ जमीन चिह्नित की गई है। प्रस्ताव इसी सप्ताह मुख्यमंत्री को भेज दिया जाएगा। –

के. विजयेंद्र पांडियन, डीएम

देश में केंद्र से संचालित 26 सैनिक स्कूल

देश में केंद्र से संचालित होने वाले सिर्फ 26 सैनिक स्कूल ही हैं। प्रदेश के लखनऊ में एक सैनिक स्कूल संचालित होता है लेकिन यह राज्य के अधीन है। प्रदेश में केंद्र सरकार द्वारा संचालित एक भी सैनिक स्कूल नहीं है जबकि पड़ोस के राज्य बिहार में केंद्र से संचालित दोे सैनिक स्कूल हैं।

यहां हैं केंद्र संचालित सैनिक स्कूल-

  • सैनिक स्कूल सतारा, महाराष्ट्र
  • सैनिक स्कूल कुंजपुरा, हरियाणा
  • सैनिक स्कूल कपूरथला, पंजाब
  • सैनिक स्कूल बालाचडी, गुजरात
  • सैनिक स्कूल चित्तौड़गढ़, राजस्थान
  • सैनिक स्कूल कजाकुटम, केरल
  • सैनिक स्कूल पुरूलिया, पश्चिम बंगाल
  • सैनिक स्कूल भुवनेश्वर, उड़ीसा
  • सैनिक स्कूल अमरवाथीनगर, तमिलनाडु
  • सैनिक स्कूल रीवा, मध्य प्रदेश
  • सैनिक स्कूल तिलैया, झारखंड
  • सैनिक स्कूल बीजापुर, कर्नाटक
  • सैनिक स्कूल घोड़ाखाल, उत्तराखंड
  • सैनिक स्कूल नगरोटा, जम्मू कश्मीर
  • सैनिक स्कूल इंफाल, मणिपुर
  • सैनिक स्कूल सुजानपुर टीरा, हिमाचल प्रदेश
  • सैनिक स्कूल नालंदा, बिहार
  • सैनिक स्कूल गोपालगंज, बिहार
  • सैनिक स्कूल कोरूकोंडा, आंध्र प्रदेश
  • सैनिक स्कूल, गोलपारा, असम
  • सैनिक स्कूल पुंगलवा, नागालैंड
  • सैनिक स्कूल कोडागू, कर्नाटक
  • सैनिक स्कूल अम्बिकपुर, छत्तीसगढ़
  • सैनिक स्कूल रेवाड़ी, हरियाणा
  • सैनिक स्कूल कलिकिरी, आंध्र प्रदेश
  • सैनिक स्कूल छिंगछिप, मिजोरम

ये भी पढ़े :  जनपद में विभिन्न स्थानों पर आयोजित हुआ कजरी का मेला

Hot Topics

गोरखपुर : सगी बहन से शादी करने की जिद पर अड़ा भाई; यहां जाने क्या है माजरा !

उत्तर प्रदेश के गोरखपुर जिले में एक हैरान करने वाला मामला सामने आया है। यहां चिलुआताल में...

गोरखपुर:चिता पर रखे शव के जीवित होने पर मचा हड़कंप, रोकना पड़ा दाह संस्कार,

उत्तर प्रदेश के कुशीनगर में एक हैरान करने वाला मामला सामने आया है। यहां...

देवरिया:- थाने में ही महिला फरियादी के सामने हस्तमैथून करने वाला थानेदार फ़रार,25 हज़ार के इनाम की घोषणा

देवरिया के अंतर्गत आने वाले थाने भटनी में महिला फरियादी के सामने हस्तमैथुन करने वाली थानेदार के खिलाफ मुकदमा दर्ज...

Related Articles

गोरखपुर:- बोरे में भरकर लाश को ठिकाने लगाने ले जा रहे जीजा साले को पुलिस ने किया गिरफ्तार

खुशखबरी:-सहजनवा दोहरीघाट रेलवे ट्रैक को मंजूरी 1320 करोड़ स्वीकृत

गोरखपुर के लिहाज़ से एक बड़ी ख़बर प्राप्त हो रही है जिसमे यह बताया जा रहा है कि सहजनवा दोहरीघाट रेलवे ट्रैक...

दोषियों के खिलाफ होगी कड़ी कार्रवाई: सांसद कमलेश पासवान

दोषियों के खिलाफ होगी कड़ी कार्रवाई: सांसद बांसगांव लोकसभा के सांसद कमलेश पासवान ने कास्त मिश्रौली निवासी भाजपा नेता...
%d bloggers like this: